टॉप न्यूज़ राष्ट्रीय

सप्ताह भर में औंधे मुंह गिरे प्याज के भाव, लोगों को मिली राहत

बड़वानी. पूर्व माह तक देशभर में अपने तेज भावों के लिए सुर्खियों में रही प्याज अब आम आदमी की पहुंच में आने लगी है। शहर सहित जिले में नई प्याज खेतों से निकलने से मंडी में पहुंचने लगी है। इससे भावों में एकाएक कमी आ गई है।

सप्ताहभर में प्याज के भाव औंधे मुंह गिर गए है। जिससे लोगों को राहत मिलने लगी है।
उल्लेखनीय है कि करीब 15 से 20 दिन पूर्व तक बाजार में प्याज का भाव 70 रुपए किलो तक बिक रहा था। जबकि डेढ़ माह पूर्व 100 रुपए किलो प्याज बिकी थी। प्याज के दामों को लेकर लोगों के बजट गड़बड़ाने लगे थे। प्याज के भाव बढऩे का कारण बाजार से आवक होना थी। अब क्षेत्र में नई प्याज की उपज खेतों से निकलने लगी है। इससे प्याज के भावों में कमी होना शुरु हो गई है। व्यापारियों की माने तो आगामी 15 दिन में प्याज 15 से 20 रुपए किलो तक पहुंच जाएगी।

बाजार से महंगी खरीदी, अब मांग कम हुई
सब्जी मंडी के व्यापारी राजू चौहान ने बताया कि पूर्व में प्याज बाजार गुजरात-महाराष्ट्र से महंगे भाव में बुलाना पड़ रहा था। वहीं सफेद प्याज की किल्लत हो रही थी। आवक की कमी के कारण प्याज शहर में 100 रुपए किलो तक बिकी। 15 दिन पूर्व 60 से 70 रुपए किलो प्याज अब 30 से 35 रुपए किलो तक बिकने लगी है। भाव गिरने का कारण आवक बढऩा और डिमांड कम होना है।

इंदौर तक गिरे भाव
कृषक महेश कुशवाह ने बताया कि दो एकड़ में प्याज का रोपा लगाया था। दीपावली के समय खेत में बोवनी की थी। 20 दिन पूर्व से खेतों से प्याज निकलने लगी है। स्थानीय स्तर पर प्याज के भाव कम होने से वे अब तक तीन बार इंदौर में प्याज बेच चुके है। अब वहां भी भाव गिरने लगे है। पहली बार 70 रुपए, दूसरी बार 45 और दो दिन पूर्व बेची प्याज का भाव 38 रुपए प्रतिकिलो ही मिला। जबकि शहर की मंडी में प्याज का भाव 30 रुपए तक मिल रहा है।

बेहतर भावों के चक्कर में कच्चे प्याज भी बिके
किसानों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अक्टूबर में प्याज लगाई थी, जो जनवरी में निकलना था। जबकि दिसंबर प्रथम सप्ताह में प्याज के भाव 90 से 100 रुपए प्रतिकिलो होने से उन्होंने 15 दिसंबर को खेतों से प्याज निकालकर बाजार में बेच दिए थे। हालांकि वो पकने में 15 दिन और लगे होना था, लेकिन तब भाव अच्छे मिल रहे थे। अब खेतों से प्याज पूरी तरह पक चुका है तो भावों में एक तिहाई कमी आ गई है।

ऐसे गिरे भाव
व्यापारियों के अनुसार नवंबर से प्याज तेज भाव में बिक रहे थे। दिसंबर में सर्वाधिक 100 रुपए किलो तक प्याज बिका। इसके बाद दिसंबर अंत से नई प्याज बाजार में आना शुरु हुई। इसके बाद प्याज के भाव प्रति 3-4 दिन में 10 रुपए तक कम होने लगे। अभी प्याज बाजार में खेरची में 35 रुपए किलो तक बिक रहा है।

Represent by Balram G

Related posts

निरीक्षण के दौरान “पठानटोला में जलजमाव देख” नाराज हुए जिलाधिकारी,जेई से मांगा स्पष्टीकरण

Sayeed Pathan

जब रोम जल रहा था,तब नीरो बाँसुरी बजा रहा था,वैसा ही है आज का माहौल-:श्रीगोपाल गुप्ता

Sayeed Pathan

हिंसा में नुकसान की भरपाई के लिए आगे आए बुलंदशहर के मुसलमान, जिला प्रशासन को सौंपा छह लाख का चेक

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो