Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

परिवहन निगम चला “परिवर्तन की ओर”: रोडवेज़ की बसों में विभिन्न सुविधाओं की वृद्धि के लिए, रोडवेज़ के अधिकारी बसों को लेंगे गोद- परिवहन मंत्री

  • परिवहन मंत्री ने “परिवर्तन की ओर” के नाम से एक अभियान चलाये जाने के दिए निर्देश।

लखनऊ: । उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह ने निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि परिवहन निगम में बसों के रख-रखाव, संचालन एवं यात्रियों को दी जाने वाली सुविधाओं में वृद्धि किये जाने हेतु एक समेकित प्रयास की आवश्यकता के दृष्टिगत निगम की सेवाओं में वर्ष 2023 में एक वृहद परिवर्तन लाने के उदेश्य से “परिवर्तन की ओर” अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि समस्त सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक अपने डिपो की 10 निगम बसों को गोद लेंगे। क्षेत्रीय प्रबन्धक एवं सेवा प्रबन्धक अपने क्षेत्र के समस्त डिपो की 2-2 निगम बसों को गोद लेंगे।

श्री सिंह ने कहा कि गोद की अवधि एक महीने की होगी। अगले माह में सहायक क्षेत्रीय प्रबंधको द्वारा पुनः 10 भिन्न बसें एवं 02-02 बसे क्षेत्रीय प्रबन्धक एवं सेवा प्रबन्धक द्वारा गोंद ली जायेगी। उन्होंने कहा कि विभिन्न आयु वर्ग की बसें चयनित की जायेंगी। चयन का आधार एक ही मार्ग पर चलने वाली विभिन्न बसों में से कम लोड फैक्टर प्राप्त होना एवं एक ही आयु वर्ग की बसों में कम डीजल औसत तथा बस उपयोगिता प्राप्त होना रहेगा।

Advertisement

श्री सिंह ने कहा कि चयन करते समय विगत माह में प्राप्त बस उपयोगिता, लोड फैक्टर एवं डीजल औसत का आधार लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित अधिकारी चयनित बसों में भौतिक दशा में प्राप्त कमियों को अधिकतम तीन दिवस में दूर करायेंगे।

दयाशंकर सिंह ने कहा कि चयनित बसों की नियमित मॉनीटरिंग गोद लेने वाले अधिकारी द्वारा की जायेगी। मॉनीटरिंग में बसों का रख-रखाव समय से निर्धारित मेण्टनेन्स कराया जाना, नियमित सफाई समय से मार्ग पर संचालन तथा प्राप्त दैनिक संचालित किलोमीटर, आय एवं डीजल खपत सम्मिलित है।

Advertisement

श्री सिंह ने कहा कि सम्बन्धित अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके द्वारा गोद ली गयी बसें समय से एवं सुरक्षित रूप से तथा पूर्णतया साफ-सफाई के पश्चात ही संचालित हों। सम्बन्धित अधिकारी मासान्त में विगत माह में प्राप्त प्रतिफलों की तुलना करते हुए किये गये प्रयासों तथा बसों की भौतिक दशा ऑफ-रोड दिवस बस उपयोगिता, ईंधन औसत एवं लोडफैक्टर में सुधार के सम्बन्ध में विस्तृत रिपोर्ट अपने नोडल अधिकारी को अगले माह की 05 तारीख तक उपलब्ध करायेंगे। उन्होंने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले 03 अधिकारियों को प्रत्येक माह पुरस्कृत किया जायेगा। सभी सम्बन्धित अधिकारी इस अभियान में पूर्ण मनोयोग से कार्य कर निगम की छवि उज्जवल करेंगे।

Advertisement

Related posts

बरेली में बनेगा राजकीय यूनानी मेडिकल कॉलेज, निर्माण शुरू करने हेतु 824.555 लाख रूपये अवमुक्त

Sayeed Pathan

संतकबीरनगर के इन क्षेत्रों से गुरुवार को मिले 38 नए कोरोना पॉज़िटिव, और 57 लोगों ने जीती कोरोना जंग

Sayeed Pathan

देशी गाय पालकों को योगी सरकार देगी 80,000 रुपये तक अनुदान, साथ ही गाय खरीदी लिए ऋण, ट्रांसपोर्ट खर्च,बीमा भी मुफ्त

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!