Advertisement
अन्य

सीडीओ संतकबीरनगर की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा, संबंधित अधिकारियों को दिए गए कई कड़े निर्देश

संत कबीर नगर । जिलाधिकारी प्रेम रंजन सिंह के निर्देशानुसार मुख्य विकास अधिकारी संत कुमार की अध्यक्षता में जनपद के विकास एवं लाभार्थीपरक योजनाओं सहित कृषि विभाग, शिक्षा विभाग, उद्योग विभाग, स्वास्थ्य, पंचायतीराज, लोक निर्माण आदि विभागों द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं में प्रगति की स्थिति एवं अन्य सम्बंधित विभागों द्वारा कराये जा रहें कार्या में प्रगति से सम्बंधित समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।

मुख्य विकास अधिकारी ने समीक्षा बैठक के दौरान सभी जनपद स्तरीय अधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि उनके विभाग से सम्बंधित लाभार्थीपरक एवं जनकल्याणकारी योजनाओं, निर्माण कार्यो के क्रियान्वयन में गुणवत्ता एवं आच्छादन/प्रगति की समीक्षा स्वयं सम्बंधित क्षेत्रों/गॉवों में भ्रमण कर करना सुनिश्चित करें। मुख्य विकास अधिकारी ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अनिरूद्ध कुमार सिंह के साथ जनपद के जिला चिकित्सालय सहित सीएचसी/पीएचसी में चिकित्सकों एवं दवाओं की उपलब्धता, 108 व 102 एम्बुलेंस की स्थिति आशाओं का भुगतान, टीकाकरण, आयुष्मान कार्ड, परिवार नियोजन, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के निर्माण कार्य में प्रगति की गहन समीक्षा किया।

Advertisement

पंचायती राज विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने डीपीआरओ को सामुदायिक शौचालयों की संचालन व्यवस्था का रैण्डमली औचक निरीक्षण करने का निर्देश दिया तथा ग्राम पंचायतों में निर्मित ग्राम सचिवालय के क्रियाशील करने की दिशा में प्रगति का भी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में निर्मित सामुदायिक शौचालयों को क्रियाशील रखा जाए। मुख्य विकास अधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी सहित सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन बन गये हैं उन्हें ग्राम सचिवालय के रूप में संचालित कराने सम्बंधित कार्यवाही करते हुए ग्राम पंचायत सचिवालय के रूप में क्रियाशील किया जाए।

समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा विभागवार समीक्षा करते हुए कृषि, सिचाई, किसान सम्मान निधि, जिला पूर्ति, मत्स्य पालन, उद्यान विभाग, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पेयजल, नहरों की साफ-सफाई, कार्यदायी संस्थाओं द्वारा कराये जा रहे निर्माण कार्य, श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन, दुग्ध विकास, गन्ना विकास, व्यवसायिक शिक्षा, निराश्ररित गोबंशों का संरक्षण एवं टीकाकरण, आदि सहित कार्यो की गहन समीक्षा की गयी। मुख्य विकास अधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया है कि आगामी 15 फरवरी 2023 तक सहभागिता योजना का लक्ष्य पूर्ण कर लिया जाए।

Advertisement

इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ अनिरूद्ध कुमार सिंह, डीसी मनरेगा जीशान रिजवी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी नागेन्द्र सिंह, मुख्य चिकित्साधीक्षक डॉ0 ओ0पी0 चतुर्वेदी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 संजय यादव, उपायुक्त उद्योग राजकुमार शर्मा, उप कृषि निदेशक लोकेन्द्र सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी राजीव शुक्ल, जिला पंचायत राज अधिकारी सुदामा प्रसाद, खण्ड विकास अधिकारी सहित सम्बंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहें।

 

Advertisement

Related posts

आईएएस रानी नागर ने गाड़ी खराब होने पर प्रशासन से गुहार लगाने पर भी नहीं मिली मदद,,फेसबुक पोस्ट देख एक जवान ने की सहायता

Sayeed Pathan

माँ दुर्गा का नौवा रूप सिद्धिदात्री की आठ सिद्धियां

Sayeed Pathan

सोमवार को सुप्रीमकोर्ट की सुनवाई में मुस्लिम पक्ष के वकील ने कहा,,1992 जैसी हालत वाली मस्जिद सौपी जाय

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!