Advertisement
गोरखपुर

विश्व सामाजिक न्याय दिवस: सामाजिकता नहीं तो धनवान इंसान भी शून्य है:- डॉ अब्दुल गनी

गोरखपुर ।  मानवाधिकार सामाजिक न्यायिक फोरम के तत्वावधान में विश्व सामाजिक न्याय दिवस के अवसर पर रसूलपुर में आयोजित संगोष्ठी में वक्ताओं ने समाज में सामाजिक स्तर को बढ़ावा देने, इंसान और इंसानियत को प्रबल बनाने के साथ ही सामाजिक समरसता बल दिया गया।

संगोष्ठी के मुख्य अतिथि चिकित्सक एवं समाजसेवी डॉ अब्दुल गनी ने समस्त देशवासियों को विश्व सामाजिक न्याय दिवस की बधाई देते हुए कहा कि समाज में फैल रही वैमनस्यता और कुरीतियों को खत्म कर अच्छे समाज का निर्माण किया जाना अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इंसान चाहे लाख धनवान क्यों न हो, यदि उसके अंदर सामाजिकता नहीं है तो निश्चित तौर पर वह शुन्य है।

Advertisement

इसी लिए सभी को सेवाभाव को ध्यान में रखते हुए सामाजिक क्षेत्र में कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इसी लिए सामाजिक क्षेत्रों में सहयोग और काम करने वाली शख्सियतों को मंच से सम्मानित किया जाता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय की बुनियाद को पूरे विश्व में मजबूत करने की आवश्यकता है।

डा. गनी ने कहा कि सामाजिक सुरक्षा, विकास और मानवता को जोड़कर एक बेहतर समाज की संरचना को आयाम देने की कोशिश होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसी परिकल्पना को साकार करने के लिए समाज को बेहतर दिशा देने, सामाजिक स्तर को बढ़ाने तथा भ्रमित हो रहे कुछ नौजवानों को सही राह पर लाने के लिए सामाजिक दायित्व को सौंपने की जरूरत है।

Advertisement

इस अवसर पर डा. शिम्मी गनी, अरमान अली, महेंद्र प्रजापति, राज कुमार सिंह, विकास त्रिपाठी, रामचंद उपाध्याय, उमेश कुमार शर्मा, रामजीत मौर्य, प्रवीण कुमार अग्रवाल, चंदन श्रीवास्तव, शमीम अहमद, बनवारी गुप्ता, शब्बू, कन्हैया लाल, अशरफ अली एवं अशोक कुमार सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

Advertisement

Related posts

भ्रष्टाचार निवारण संगठन के हत्थे चढ़ा रिश्वतखोर चकबंदी कानूनगो

Sayeed Pathan

CAA और NRC विरोध-गोरखपुर में पुलिस प्रशासन सतर्कता बरतने का दावा फेल,भीड़ हुई बेकाबू

Sayeed Pathan

गोरखपुर नगर निगम में शामिल किए गए ये 31 गाँव,

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!