Advertisement
पटना

पागल हाथी ने 15 लोगों को मार डाला, इलाके में लगाई गई धारा 144, काबू पाने के लिए यह काम करेगा प्रशासन

झारखंड में एक उपद्रवी हाथी ने 15 लोगों को कुचलकर मार डाला। इससे इलाके में दहशत का माहौल है। हाथी के उपद्रव के चलते पांच जिलों के हजारों लोगों का बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है। इस बीच, रांची के इटकी प्रखंड में, जहां हाथी को पास के जंगलों में घूमते देखे जाने के बाद धारा 144 लागू कर दी गई है, ग्रामीण बुरी तरह परेशान हैं।

पांच वर्षों में हाथी ने ली 462 लोगों की जान

रांची के प्रधान मुख्य वन संरक्षक (Principal Chief Conservator Of Forest) ससिकर सामंता (Sasikar Samanta) ने हाथी को काबू में करने के लिए बेहोश करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने एक कमेटी गठित की है, जो यह पता लगा रही है कि क्या इतने लोगों की जान लेने और नुकसान पहुंचाने वाला अकेला हाथी है। केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु मंत्रालय ने एक आरटीआई आवेदन के जवाब में हाल ही में कहा कि झारखंड में 2017 के बाद से पांच वर्षों में मानव-हाथी भिड़ंत में 462 लोग मारे गए हैं।

Advertisement

ग्रामीणों को सतर्क रहने के आदेश

रांची के डिवीजनल फॉरेस्ट ऑफिसर (DFO) श्रीकांत वर्मा ने कहा, “हाथी गुरुवार सुबह करीब 4 बजे ब्लॉक के पुरियो इलाके में था। उसने पिछले दो दिनों में किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है, हालांकि, ग्रामीणों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है।”

वन विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक हाथियों के हमलों के हालिया मामलों की जांच के लिए झारखंड वन विभाग के पांच सदस्यीय पैनल ने रिपोर्ट दर्ज की है जिसमें कहा गया है कि उपद्रवी हाथी ने पिछले एक पखवाड़े में पांच जिलों में तबाही मचाने के अलावा 15 लोगों की जान ली है। रांची के वन संरक्षक (CF) पी राजेंद्र नायडू की अध्यक्षता वाले पैनल ने सिफारिश की है कि उसको जल्द पकड़ कर काबू में किया जाए।

Advertisement

पश्चिम बंगाल में परीक्षा देने जा रहे छात्र को भी मारा

वन संरक्षक पी. राजेंद्र नायडु ने बताया है कि हजारीबाग में तीन, चतरा में एक, लातेहार में दो, लोहरदगा में पांच और रांची में चार लोगों की हाथी ने जान ली है।

रांची । उधर, पश्चिम बंगाल के महाराजघाट में दसवीं की बोर्ड परीक्षा के पहले दिन गुरुवार को हाथी के हमले में एक माध्यमिक परीक्षार्थी की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि पीड़ित की पहचान अर्जुन दास के तौर पर हुई है। वह मोटरसाइकिल पर अपने पिता के साथ जा रहा था। बाइक उसके पिता चला रहे थे। इसी दौरान बैकुंठपुर जंगल में एक हाथी अचानक अपने झुंड से अलग हो गया और उन लोगों पर हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि हाथी ने किशोर को जमीन पर पटक दिया। हाथी के वहां से जाने के बाद उसे जलपाईगुड़ी के अस्पताल ले जाया गया। पुलिस ने कहा कि अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

Advertisement

Related posts

भीषण हादसा – मुजफ्फरपुर में नूडल्स फैक्ट्री का बॉयलर फटा, 07 मजदूरों के चीथड़े उड़े; रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, किसी का हाथ मिला तो किसी का पैर

Sayeed Pathan

बिहार में नहीं हो पाया खेला, नीतीश सरकार ने विश्वासमत जीता, विपक्ष ने किया बहिष्कार

Sayeed Pathan

पूर्व मंत्री की दबंगई ! घर में घुसकर महिला-पुरुष-बच्चों सहित पूरे परिवार को पीटा !

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!