Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

वर्ल्ड वाटर डे पर राजधानी में गंगा की स्वच्छता के प्रति जन जागरुकता का हुआ विशेष कार्यक्रम

लखनऊ । वर्ल्ड वाटर डे पर राजधानी लखनऊ के एमिटी विश्वविद्यालय में खास कार्यक्रम आयोजित किया गया। युवाओं को पेंटिंग, स्लोगन राइटिंग, प्ले एंड स्किड, ओपन माइक सेशन आदि तमाम प्रतिस्पर्धाओं के माध्यम से गंगा की स्वच्छता एवं अविरलता को लेकर जागरुक करने का प्रयास किया गया। जबकि नमामि गंगे की टीम की तरफ से गंगा शपथ भी दिलायी गई। इस दौरान विशेषज्ञों द्वारा गंगा तथा उसकी सहायक नदियों की स्वच्छता एवं संरक्षण को लेकर जानकारी भी दी गई।
विश्व जल दिवस के मौके पर एमिटी यूनिवर्सिटी में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पूर्व आईएएस एवं गंगा के संरक्षण हेतु प्रधानमंत्री द्वारा सम्मानित रमेश मिश्र ने कहा कि गंगा की स्वच्छता और संरक्षण के लिए बच्चों और युवाओं में जागरुकता उत्साहित कर रही है। विश्व जल दिवस के मौके पर एमिटी यूनिवर्सिटी में नमामि गंगे विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में जिस क्रिएटिविटी के साथ प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया वो उत्साह जगाने वाला है।
नमामि गंगे के अंतर्गत राज्य स्वच्छ गंगा मिशन के वित्त निदेशक रत्नेश कुमार सिंह ने बताया कि गंगा के संरक्षण और पेयजल को बचाए रखने के लिए युवाओं और बच्चों का जागरुक होना बेहतर भविष्य की उम्मीद जगाता है। कार्यक्रम में जिस तरह प्रतिभागियों ने अपने हुनर का प्रदर्शन किया उससे पता चलता है कि नई पीढ़ी गंगा और पेयजल को लेकर काफी जागरुक है। यह हमारे मिशन के उद्देश्य को पंख देता है।
एमिटी यूनवर्सिटी में डीन स्टूडेंट वेलफेयर डाक्टर मंजू अग्रवाल ने बताया कि पानी का स्वभाव है कि हम उसके साथ जैसा बर्ताव करते हैं उसका प्रभाव भी हमारे शरीर और मन पर वैसा ही पड़ता है। उन्होंने कि इस कार्यक्रम में जो वाटर कैप्टन बनाए गए हैं उससे एक्सीलरेटिंग चेंज की चेन बनेगी। कार्यक्रम दर कार्यक्रम में लोगों में सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देंगे।
नमामि गंगे विभाग से सोनालिका सिंह द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को गंगा शपथ दिलाई गई।
एमिटी यूनिवर्सिटी के वीसी पूर्व विंग कमांडर अनिल कुमार ने नमामि गंगे कार्यक्रम के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि जनजागरुकता विशेष रूप से छात्र छात्राओं और युवाओं को अपनी मुहिम से जोड़कर नमामि गंगे अपने उद्देश्य में सफल होता नजर आ रहा है।
कार्यक्रम में मेगा म्यूजिक बैंड द्वारा गंगा संरक्षण पर बेहतरीन गीत भी प्रस्तुत किए गए। इंडियन आइडल फेम हर्षित मिश्रा ने अपने सुरों से युवाओं को जागरुक करने के साथ भी भरपूर मनोरंजन भी किया।
सेव वाटर थीम पर आयोजित पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता में वैष्णवी केशरवानी प्रथम, अंजली चौरसिया द्वितीय, ऋषिका गिहर तृतीय स्थान पर रहीं। विजेताओं के अतिरिक्त 17 छात्र छात्राओं को सांत्वना पुरस्कार भी वितरित किये गए। जबकि 10 विद्यार्थियों को वाटर कैप्टन के रूप में चुना गया, जो गंगा के संरक्षण को लेकर लोगों को जागरुक करेंगे।

Advertisement

Related posts

35 लाख दिहाड़ी मजदूरों को मिलेगी 1000 ₹ की आर्थिक सहायता – : मुख्यमंत्री

Sayeed Pathan

अयोध्या में देर रात विकास की ज़मीनी हकीकत जानने निकले मुख्यमंत्री योगी, कई स्थानों का किया औचक निरीक्षण, संबंधित को दिया ये निर्देश

Sayeed Pathan

अयोध्या विजन- के तहत 134 परियोजनाओं पर चल रहे कार्यों का मुख्यमंत्री ने किया निरीक्षण

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!