Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

देश महंगाई की मार झेल रहा है, सरकार चुनावी बिसात भिछाने में मशगूल:- बृजलाल खाबरी

लखनऊ । उत्तर प्रदेश सहित पूरा देश महंगाई की मार बुरी तरह से झेल रहा है, वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी, प्रधानमंत्री मोदी सहित पूरा मंत्रिमंडल लोगों का ध्यान भटकाने में लगा है। लोगों के रसोई में आग लगी हुई है, सरकार आम जनमानस को अन्य मुद्दों पर उलझाकर चुनावी बिसात बिछाने में मशगुल है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पूर्व सांसद श्री बृजलाल खाबरी जी ने कहा कि सब्जियों के दाम जिस तरह से कई गुना एक सप्ताह के अन्दर बढ़ गये जनमानस की तो कमर ही टूट गई है। जो टमाटर 20-25 रूपये प्रतिकिलो हुआ करता था वह आज 150 रूपये के आसपास भ्रमण कर रहा है। खीरा जहां दुगने दाम पर पहुंच गया है, वहीं बैंगन, हरी मिर्च और धनिया में भी होड़ लगी है। कोई भी ऐसी सब्जी नहीं है जो दो गुने के आसपास न मडंरा रही हो। सब्जियों के साथ-साथ दालें, चीनी, मसालें एवं सरसों के तेल के दामों में भी बेतहाशा उछाल है। जीरा, लहसुन, हल्दी, लालमिर्च सहित लगभग सभी मसालें आम आदमी की पकड़ से बाहर हैं।

Advertisement

उन्होंने कहा कि सरकार महंगाई के कारणों पर न तो गौर कर रही है और न ही कम करने का कोई ठोस प्रयास कर रही है। बाजार में आ रहे बदलाव पर जहां सरकार को नज़र रखनी चाहिए वहीं केवल झूठ बोलने में व्यस्त है। टमाटर और सेब में होड़ है कि कौन आगे निकल जायेगा, जहां टमाटर सेब के दाम से आगे निकल रहा था वहीं अब सेब पर भी महंगाई दिखने लगी है। मंडियों में आढ़तियों द्वारा ज्यादा दाम देकर सेब खरीदे जा रहे हैं।

श्री खाबरी ने आगे कहा कि भाजपा के मंत्रियों एवं नेताओं द्वारा लगातार झूठ बोला जाता है कि पिछली सरकार की तुलना में महंगाई नहीं बढ़ी है। जबकि वर्ष 2014 तक जहां सरसों का तेल 70 रूपये प्रतिकिलो मिला करता था आज वह लगभग 200 रूपये प्रतिकिलो के आस-पास है, पेट्रोल की कीमत किसी से छिपी नहीं है, घर बनवाने में जो सीमेंट 200 रूपये में आती थी वह आज लगभग 500 रूपये के करीब मिल रही है, रसोई गैस का दाम जग जाहिर है फिर भी सरकार को कुछ दिख ही नहीं रहा है केवल चुनाव दिखता है।

Advertisement

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने केंद्रीय गृह मंत्री पर तीखा हमला करते हुए कहा कि कल लखनऊ आगमन के दौरान अमित शाह ने उ0प्र0 की कानून व्यवस्था की सराहना की जबकि कोई ऐसा दिन नहीं है जब आपराधिक घटनाएं न घटती हों, प्रदेश की राजधानी में भी खुलेआम हत्या, बलात्कार जैसी जघन्य घटनाएं आम हो गई हैं। प्रदेश सहित पूरा देश महंगाई और बेरोजगारी का दंश झेल रहा है वहीं मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री अन्य विषयों पर बोलकर लोगों को भ्रमित करने में व्यस्त हैं।

Advertisement

Related posts

लोकसभा चुनाव आते ही अखिलेश यादव को याद आये आज़म खान, पहली बार काफ़िले के साथ पहुँचे सीतापुर जेल

Sayeed Pathan

योगी सरकार का बड़ा ऐलान: गांव में रहने वालों को मिलेगा, बिना ब्याज के पांच लाख तक का ऋण

Sayeed Pathan

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों की, रात्रि सेवाएं एवं ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग 27 जनवरी से पुनः बहाल:- परिवहन मंत्री

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!