Advertisement
अजब गजबअपराध

फर्जी आईपीएस अधिकारी गिरफ्तार, एन.सी.बी का फर्जी पहचान पत्र हुआ बरामद

धर्मशाला। धर्मशाला पुलिस ने एक फर्जी आईपीएस अधिकारी को गिरफ्तार किया है। उक्त फर्जी आईपीएस अधिकारी की पहचान विवेक सिंह राठौर पुत्र हीरा सिंह, निवासी महाराष्ट्र के रूप में हुई है। पुलिस थाना धर्मशाला में कैफे मालिक अक्षित वालिया की शिकायत पर उक्त आरोपित को गिरफ्तार किया गया है।

आरोपित विवेक शिकायतकर्ता अक्षित वालिया के कैफे में बतौर कुक काम कर रहा था। विवेक हीरा सिंह खुद को आईपीएस अधिकारी बता रहा था। विवेक सिंह राठौर बीते तीन अगस्त को अक्षित वालिया के पास नौकरी की तलाश में आया था, जिस पर अक्षित वालिया ने इसे अपने कैफे में बतौर कुक रख लिया। विवेक सिंह राठौर जब अपनी शिफ्ट के लिए कैफे में आता था तो अपनी बेल्ट के साथ एक पिस्टल का पाऊच (होलीस्टर) लगाता था तथा इसके मोबाइल पर कॉल करने पर ट्रूकॉलर पर विवेक राठौर एनसीबी नॉर्थ आता था।

Advertisement

शक होने पर जब अक्षित वालिया ने विवेक सिंह राठौर से इस सब के बारे में पूछा तो उसने बताया कि यह 2016 बैच का एक आईपीएस अधिकारी है और धर्मशाला में एक मिशन को अंजाम देने आया है। अगले दिन विवेक उपरोक्त कैफे में अपनी ड्यूटी शिफ्ट में एक वॉकी टॉकी सेट लेकर आया तथा उस पर बात भी कर रहा था। जिस पर अक्षित वालिया को विवेक पर फर्जी अधिकारी होने का शक हुआ तथा आज जब इसने धर्मशाला पुलिस को अपने कैफे के पास देखा तो तुरन्त इसकी शिकायत दर्ज करवाई।

एसपी कांगड़ा शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि विवेक उपरोक्त से पूछताछ की गई तो विवेक सिंह राठौर फर्जी आईपीएस अधिकारी होना पाया गया। इसके पास से एनसीबी का फर्जी पहचान पत्र भी मिला है। यही नहीं इसने अपनी गाड़ी में एनसीबी की प्लेट लगाई है तथा गाड़ी पर गवर्नमेंट ऑफ इंडिया भी लिखवाया है। जिस पर विवेक हीरा सिंह राठौर को गिरफ्तार किया गया है तथा फर्जी पहचान पत्र व गाड़ी को कब्जा में लेकर आगामी जांच चल रही है।

Advertisement

Related posts

ट्रक ट्राली के भिड़ंत में मोटरसाइकिल सवार की दर्दनाक मौत

Sayeed Pathan

बिना किसी वैध मेडिकल प्रमाण पत्र के हास्पिटल संचालित करने व गैर इरादतन हत्या के मामले में 01 अभियुक्त, व 02 अभियुक्ता को किया गया गिरफ्तार

Sayeed Pathan

कमलेश हत्याकांड मामले में, बिजनौर पुलिस,फरार 2 संदिग्धों की जगह-जगह कर रही है तलाश

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!