Advertisement
टॉप न्यूज़दिल्ली एन सी आर

एससी, एसटी, ओबीसी और मुस्लिम महिलाओं को भी मिले आरक्षण का लाभ : डिंपल यादव

नई दिल्ली। सत्ता पक्ष और विपक्ष के कई राजनीतिक दलों ने आपसी मतभेद को दरकिनार कर लोकसभा और देश की विधानसभाओं में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने वाले विधेयक ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम -2023 (128वां संविधान संशोधन) का लोकसभा में समर्थन किया है।

हालांकि, अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह सरकार के कार्यकाल में कई बार सदन के अंदर बिल पेश करते समय बिल छीन लेना, बिल की कॉपी छीनकर फाड़ देने जैसी हरकत करने वाले सांसदों की पार्टी समाजवादी पार्टी ने मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए विधेयक पर बुधवार को भी अपना स्टैंड साफ नहीं किया।

Advertisement

बुधवार को समाजवादी पार्टी की तरफ से लोकसभा में बोलने के लिए खड़ी हुई सांसद डिंपल यादव ने कहा कि सपा का हमेशा से स्टैंड रहा है कि महिला आरक्षण में पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं को भी मौका मिले।

डिंपल यादव ने कहा कि जब सरकार के 10 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं तो उन्हें महिला आरक्षण की याद आ रही है। उन्होंने सवाल पूछा कि जनगणना कब होगी ? सरकार जाति जनगणना कराएगी या नहीं कराएगी ? परिसीमन कब होगा क्योंकि उसके बाद ही आरक्षण लागू करने की बात कही गई है।

Advertisement

डिंपल यादव ने महिला आरक्षण के बिल में एससी, एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक महिलाओं को भी आरक्षण देने की मांग करते हुए सभापति से यह भी अनुरोध किया कि वह सत्ता पक्ष के सांसदों को कहें कि जो सांसद अब इस सदन के सदस्य नहीं हैं, उनका नाम नहीं लें।

Advertisement

Related posts

बिना परेशानी किसी भी मोबाइल नम्बरों को ऐसे करें ATM से रिचार्ज

Sayeed Pathan

पवित्र रिश्ता फेम मानसी शर्मा ने पंजाबी सिंगर युवराज हंस से की शादी

Mission Sandesh

संविधान से इंडिया शब्द हटाने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने दखल देने से किया इनकार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!