अन्यब्रेकिंग न्यूज़

हजारों नम आँखों के बीच पूर्व सांसद की हुई अंतिम विदाई ज्येष्ठ पुत्र ने दी मुखाग्नि

के के मिश्रा की रिपोर्ट
सन्त कबीर नगर – गरीबो के मसीहा एवं जनपद के सृजन व विकास को लेकर लड़ने वाले पूर्व सांसद भालचन्द यादव के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव भगता से हजारो लोगो के बीच निकली शव यात्रा । भालचन्द अमर रहे , जब – तक सूरज चांद रहेगा भालचन्द यादव तेरा नाम रहेगा , के गगनभेदी नारो के साथ उमड़े जन सैलाब के बीच धनघटा मे स्थित घाघरा नदी के बने पुल बिड़हर घाट मे उनके बड़े पुत्र प्रमोद कुमार यादव द्वारा वैदिक विधि से मुखाग्नि दी गयी । इस अवसर पर उनके बड़े भाई लालचंद यादव , छोटे भाई केसरी यादव समेत पारिवारिक जन उपस्थित रहे ।


पूर्वांचल मे माने – जाने वाले कद्दावर नेता भालचन्द यादव के असमायिक निधन खबर आते ही पूरे जनपद मे शोक की लहर दौड़ गयी । उजियार तप्पा से लेकर मांझा तक के लोगो के ऊपर दुःखो का पहाड़ जैसे टूट गया किसी को विश्वास ही नही होता था कि हमारा रहनुमा हमसे बिछुड़ गया । लेकिन सुबह दस बजे अपने जननायक के पार्थिव शरीर को एम्बुलेन्स द्वारा आते देख अंतिम दर्शन के लिए मण्डलीय एवं क्षेत्रीय जनता / गणमान्य लोग अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़े । बढ़ती भीड़ और हमदर्दी के बीच जिला प्रशासन की तरफ से लगायी गयी पुलिस प्रशासन भी अपने – आप को संभालने मे अक्षम पा रही थी , राजनैतिक दलीय स्थित से ऊपर उठकर अपने चहेते भगता के लाल के अंतिम दर्शन व अन्त्येष्टि मे शामिल हुए । सपा प्रमुख अखिलेश यादव के निर्देश के क्रम मे भालचन्द यादव की अंत्येष्टि मे संग्राम सिंह यादव , उदय वीर सिंह यादव विधायक , एम एल सी सुनील सिंह छाजन , एम एल सी संतोष यादव उर्फ सन्नी यादव , जिलाध्यक्ष गौहर अली , वरिष्ठ नेता राम दरस यादव , जयराम पाण्डेय , खलीलाबाद ब्लाक प्रमुख संतोष कुमार राय , लोरिक यादव , बसपा पार्टी के पूर्व विधायक , पूर्व एम एल सी , जिलाध्यक्ष सुरेश राव , कांग्रेस पार्टी से युवा नेता प्रवीण कुमार पांडेय तथा सत्ता पक्ष के सांसद प्रवीण निषाद , समेत विधायक गण , पूर्व सांसद आजमगढ़ सहित उमड़े जन सैलाब के बीच अपने लोकप्रिय नेता के अंत्येष्टि स्थल पर उपस्थित होकर अंतिम विदाई दी ।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

सरकार बड़ा कदम उठाए, जेएनयू को कर दे बंद : स्वामी…

Sayeed Pathan

सुप्रीम कोर्ट कमेटी के सदस्य ने पहली बैठक में कहा अगर कृषि कानून हटा तो….

Sayeed Pathan

संतकबीरनगर के इन क्षेत्रों से सोमवार को मिले 52 कोरोना पॉज़िटिव

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!