अन्यब्रेकिंग न्यूज़

उप चुनाव में मतदाताओं के लिए,चुनाव आयोग ने उठाया ये नया कदम

फरीदाबाद ।, विधानसभा के मतदाताओं को वोट डालने के लिए इस बार लाइन में ज्यादा देर तक नहीं खड़ा होना पड़ेगा। पहले चुनाव के मुकाबले वह इस बार थोड़ी देर में ही मतदान करके अपने घर जा सकेंगे। बूथ एप की बदोलत यह संभव होगा।

चुनाव आयोग के आदेश पर जिला प्रशासन संबंधित विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर इसका पहली बार प्रयोग करेगा। बुधवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये चुनाव आयोग के अधिकारियों द्वारा इसकी जानकारी देनी थी, लेकिन किसी वजह से कांफ्रेंस रद्द हो गई। जल्द ही इसकी नई तारीख तय की जाएगी।

प्रयोग के लिए चुना शहरी क्षेत्र : मतदान की प्रक्रिया का तेज करने और सरल बनाने के लिए चुनाव आयोग जिला फरीदाबाद और जिला पलवल की नौ विधानसभा क्षेत्रों में फरीदाबाद का चुनाव किया है। प्रशासनिक अधिकारियों का मानना है कि संबंधित विधानसभा में शहरी क्षेत्र है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के काफी सेक्टर इसी विधानसभा का हिस्सा हैं। साथ ही चुनाव आयोग के प्रयोग में अगर किसी प्रकार की दिक्कत आती है तो उसको तुरंत दूर किया जा सकता है।

ऐसे काम करेगा बूथ एप

बूथ एप में फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के सभी मतदान केंद्रों के मतदाताओं की मतदाता सूची होगी। इस एप को मतदान केंद्र के पीठासीन अधिकारी अपने मोबाइल में अपलोड करेंगे। उधर, मतदाता सूची में सभी मतदाताओं की पर्ची में क्यूआर कोड होगा। जैसे ही मतदाता अपनी पर्ची लेकर मतदान केंद्र पर पहुंचेंगे तो उसी पर्ची पर पीठासीन अधिकारी मोबाइल एप के जरिये स्केन करेंगे। इस प्रक्रिया के पूरा होते ही मतदाता को मतदान के लिए भेज दिया जाएगा। जबकि पिछले चुनाव तक पीठासीन अधिकारी मतदाता की पर्ची का ब्योरा पहले रजिस्ट्री में दर्ज करते थे। उसके ब्ंााद मतदाता आगे की प्रक्रिया पूरी करते थे। इसमें काफी समय लग जाता था। मगर अब मोबाइल एप के जरिये काफी समय कम हो जाएगा।

क्यूआर कोड की पर्ची ही साथ ले जाए मतदाता 

प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के सभी मतदाता क्यूआर कोड वाली ही मतदाता पर्ची साथ लेकर मतदान के लिए मतदान केंद्रों पर जाएं। अन्य पर्चियों से परहेज करें।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

जानिए,छात्र और उसके परिवार को,,अपने पक्ष में क्यों नहीं कर पाए RLD प्रदेश अध्यक्ष

Sayeed Pathan

बस्ती-गोरखपुर मंडल के ये विद्यालय अब नहीं बन पाएंगे परीक्षा केंद्र

Sayeed Pathan

नगालैंड फायरिंग मामला: सेना की टुकड़ी पर हत्या का मुकदमा दर्ज, सेना ने कोर्ट ऑफ इंक्वायरी बैठाई; CM ने अमित शाह से AFSPA हटाने मांग की

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!