अन्यटॉप न्यूज़ब्रेकिंग न्यूज़राष्ट्रीय

डीजे बजाने पर हाईकोर्ट के रोक के आदेश को, सुप्रीम कोर्ट ने किया रद्द

प्रयागराज/इलाहाबाद

इलाहाबाद हाईकोर्ट के सार्वजनिक समारोह व शादी ब्याह आदि के मौके पर तेज आवाज में डीजे बजाने पर रोक लगाने के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है।
सुप्रीम अदालत ने हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देनी वाली सचिन कश्यप की विशेष अनुमति याचिका पर संबंधित पक्ष को नोटिस भी जारी किया है।
एसएलपी पर न्यायमूर्ति विनीत सरन और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सुनवाई की है।
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सुशील चंद्र श्रीवास्तव की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए ध्वनि प्रदूषण को लेकर व्यापक आदेश पारित किए थे।
प्रदूषण नियंत्रण कानून के मानकों के विपरीत तेज ध्वनि वाले संयंत्रों को बजाने पर रोक लगाने के साथ ही जिला प्रशासन और पुलिस को निर्देश दिया गया था कि इस मामले में यदि कोई शिकायत करता है तो तत्काल कार्यवाही की जाए तथा दोषी पर भारी जुर्माना लगाया जाए।
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और पुलिस प्रमुखों को एक अलग हेल्पलाइन बनाने का भी निर्देश दिया था जिसमें ध्वनि प्रदूषण की शिकायत की जा सके।हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद प्रयागराज जिला प्रशासन ने सख्त कदम उठाते हुए डीजे बजाने की अनुमति देना बंद कर दिया था, इससे क्षुब्ध डीजे संचालकों ने सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी थी।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

हम लड़ेंगे साथी, क्योंकि लड़ने का कोई विकल्प नहीं होता: जहांगीरपुरी मामले में “बादल सरोज” की प्रतिक्रिया

Sayeed Pathan

क्यों मनाते हैं धनतेरस: जानिए इसकी महत्ता, पौराणिक कथाओं के साथ

Sayeed Pathan

अधिवक्ता पर हमले के आरोपी की जमानत अर्जी खारिज़

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!