अजब गजबअपराधउत्तर प्रदेशबस्ती

अबतक 90 फर्जी शिक्षकों को BSA ने किया बर्खास्त

बस्ती उत्तर प्रदेश ।
जिले में तैनात 29 फर्जी शिक्षकों को बीएसए राम सिंह ने शनिवार को बर्खास्त कर दिया। इनमें से अधिकतर देवरिया जिले के रहने वाले हैं। इन सभी के अभिलेख जांच में फर्जी पाए गए हैं। अब तक बीएसए 90 शिक्षकों को बर्खास्त कर चुके हैं।
जिले में फर्जी शिक्षकों की जांच लम्बे समय से चल रही है। इससे पहले बीएसए ने 61 शिक्षकों के अभिलेख फर्जी मिलने पर उन्हें बर्खास्त कर दिया था। इन सभी पर केस भी दर्ज है। इसके बाद शिक्षकों के अभिलेखों की जांच जारी थी। संदेह होने पर बीएसए ने 29 शिक्षकों के अभिलेखों की जांच कराई तो सभी के अभिलेख फर्जी मिले। इस पर बीएसए ने नोटिस भेज सभी से जवाब तलब किया पर कोई भी जवाब देने नहीं आया। इसके बाद बीएसए ने शनिवार को 29 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया। बर्खास्त सभी शिक्षक वर्ष 2014 में हुई 10 हजार व 10800 शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में भर्ती हुए थे। बीएसए की इस कार्रवाई से विभाग में हड़कंप मच गया है। बीएसए ने जिन शिक्षकों को बर्खास्त किया है। इनमें से सर्वाधिक देवरिया के हैं। इसके बाद बलिया, आजमगढ़ गोरखपुर, सिद्धार्थनगर व महराजगंज के हैं।

बर्खास्त फर्जी शिक्षकों में 13 महिलाएं
बीएसए ने शनिवार को जिन 29 शिक्षकों को बर्खास्त किया है। उनमें 13 महिलाएं हैं। जांच में इनके अभिलेख फर्जी मिले हैं।

प्राथमिक विद्यालय में तैनात ये शिक्षक हुए बर्खास्त
गीतिका सिंह- तैनाती- बनचौरी बढ़नी
आशीष सिंह- तैनाती-भगमनिया बर्डपुर
मनु कुमार सिंह- तैनाती- रक्सैल बर्डपुर
कनकलता सिंह- तैनाती- बिजदेइया लोटन
रिंकी यादव- तैनाती- रमवापुर तिवारी शोहरतगढ़
शोभा यादव- तैनाती बघेली लोटन
सुमन यादव- तैनाती- पतिला बर्डपुर
शालिनी सिंह- तैनाती मड़नी बढ़नी
किरन सिंह- तैनाती- परसिया शोह

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

सीएम योगी को जान से मारने की धमकी देने वाले सख्स को छुड़ाने के लिए, यूपी पुलिस को मिली धमकी

Sayeed Pathan

वाहन चेकिंग अभियान में 51 वाहनों से 50300 रुपए वसूल किया गया सम्मन शुल्क

Sayeed Pathan

गैर इरादतन हत्या के आरोपी को 7 वर्ष का सश्रम कारावास और ₹5000 अर्थदंड की सज़ा

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!