अन्यउत्तर प्रदेशसंतकबीरनगर

गौशाला/आश्रय पर लाखों खर्च,फिर भी सड़क पर घूम रहे हैं आवारा गोवंशीय पशु

संतकबीनगर । जहां प्रदेश सरकार की मंशा है गोवंशीय पशु पूर्ण रूप से संरक्षण देने की है, और प्रदेश से लेकर ग्राम स्तर पर करोड़ो रुपये खर्च कर गोशाला की व्यवस्था की गई है,वहीं जनपद संतकबीनगर के क्षेत्र पंचायत नाथनगर अंतर्गत ग्राम चंदरौटी और आसपास सड़क पर गोवंशीय पशु लावारिस घूम रहे हैं और आये दिन वाहन चालक दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं ।

स्थानीय लोगों की माने तो इस चौराहे पर रोज इसी तरह आवारा/लावारिस गोवंशीय पशु सड़क पर घूमते रहते हैं, और वाहन चालक दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं ।
स्थानीय लोगों ने बताया कि ये गोवंशीय पशु चूंकि किसी को कोई लाभ नहीं देते इस इस लिए जन्म के कुछ महीनों बाद ही इन्हें आवारा छोड़ दिया जाता है ।
अब सवाल उठता है कि क्या सरकार ने सिर्फ दूध देने वाली गायें और भैसों के लिए ही गोशाला/आश्रय बनवाने का फरमान जारी किया है ।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

21 जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022: योग कार्यक्रम स्थल का डीएम व एसपी ने किया निरीक्षण, जिम्मेदारों को दिया ये निर्देश

Sayeed Pathan

कोरोना संक्रमण से उत्तर प्रदेश में स्थिति भयावह,,24 घंटे में मिले 2250 नए कोरोना मरीज़,आंकड़ा 40 हजार के पार

Sayeed Pathan

डीएम व एसपी की बैठक में, होली और शब-ए-बारात पर दिशा निर्देश जारी- जुलूस में आपत्तिजनक नारे, डीजे पर आपत्तिजनक गाने बजाने वाले जाएंगे जेल !

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!