अन्यअपराधउत्तर प्रदेशसंतकबीरनगर

गंदगी फैलाने वाले “बखिरा के चार लोगों को” जिला मलेरिया टीम ने दी नोटिस

संतकबीरनगर ।

शासन के निर्देश पर डेंगू बुखार को लेकर चलाए जा रहे विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान के दौरान मलेरिया विभाग की टीम ने बखिरा क्षेत्र में स्थित विभिन्‍न गांवों का दौरा किया। इस दौरान जल जमाव वाले स्‍थानों को चिन्हित करने के साथ ही दो कबाडि़यों समेत 4 लोगों को नोटिस दिया गया। साथ ही घरों पर पोस्‍टर और स्‍टीकर लगाकर लोगों को डेंगू के प्रति जागरुक किया गया।

जिला मलेरिया अधिकारी अंगद सिंह के निर्देशन में जिला स्‍तरीय टीम के सहायक मलेरिया अधिकारी सुनील चौधरी, एपीडेमियोलाजिस्‍ट डॉ मुबारक अली, एमआई अतिन श्रीवास्‍तव व अन्‍य लोगों ने बखिरा कस्‍बे में जाकर 6 कबाडि़यों के यहां चेकिंग की। इस दौरान दो कबाडि़यों के यहां रखे गए कबाड़ में पानी पाया गया। उसमें मच्‍छर का लार्वा मिलने पर कबाड़ी को नोटिस दी गई कि रखे गए कबाड़ों में कहीं भी पानी एकत्रित नहीं होना चाहिए। इसके साथ ही टीम के सदस्‍य ग्राम पिपरा बोरिंग, थरौली, बजरहां में गए। वहां पर जाकर टीम ने सघन सर्वे किया । टीम के लोगों ने जल जमाव वाले स्थानों को चिन्हित करके वहां से जल जमाव की बस्‍तुओं को हटवाया। एक पंचर की दुकान मे भी टायरों में जल जमाव की स्थिति पाई गई। उसे भी टीम ने नोटिस दिया तथा जल जमाव वाले टायरों से पानी को निकलवाया। जबकि एक व्‍यक्ति के घर में पशुओं को खाने वाले निष्‍प्रयोज्‍य नाद में पानी भरा मिला। उसमें भी मच्‍छर के लार्वा पाए गए। इसके बाद उक्‍त व्‍यक्ति से लार्वा के पानी को निकलवाकर फेंकवाया गया। साथ ही अन्‍य घरों में भी चेकिंग के दौरान यह निर्देश दिया गया कि किसी भी दशा में कहीं पानी न जमा होने दें। टीम के लोगों ने नोटिस काटने के साथ यह भी निर्देश दिया कि अगर अगली बार जल जमाव पाया गया तो 3000 रुपए तक जुर्माना लगाया जा सकता है। टीम 7 दिन के बाद फिर यहां पर चेकिंग करने के लिए आएगी।  ध्यान देने वाली बात ये है कि , डेंगू के मच्‍छर के लार्वा साफ पानी में ही पैदा होते हैं और दिन में ही काटते हैं। इसलिए फुल आस्‍तीन के कपड़े पहनें। डेंगू एडीज मच्‍छर से फैलता है। इसलिए सावधानी रखने की जरुरत है।

अस्‍पतालों में बनवाया गया डेंगू वार्ड

जिला मलेरिया अधिकारी अंगद सिंह ने कहा कि डेंगू को गंभीरता से लेते हुए जिला चिकित्‍सालय के साथ ही सीएचसी व पीएचसी में डेंगू वार्ड बनाया गया है। इस वार्ड में डेंगू की दवाओं के साथ ही साथ मच्‍छरदानी युक्‍त बेड भी बनवाया गया है। अगर बुखार की स्थिति हो तो तुरन्‍त ही नजदीकी प्राथमिक या सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र पर पहुंचें तथा इलाज कराएं। अगर कोई साधन नहीं मिलता है तो एम्‍बुलेन्‍स के लिए 102 या 108 नम्‍बर डायल करके एम्‍बुलेन्‍स के जरिए ही जिला अस्‍पताल पहुंचें।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

वैभव चतुर्वेदी के नेतृत्व में लामबंद हुए ई-रिक्शा चालक, हो रहे दुर्व्यवहार और उत्पीड़न के खिलाफ बनी रणनीति

Sayeed Pathan

हिंसा में नुकसान की भरपाई के लिए आगे आए बुलंदशहर के मुसलमान, जिला प्रशासन को सौंपा छह लाख का चेक

Sayeed Pathan

प्रदेश सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ, जन अधिकार पार्टी का शान्ति प्रदर्शन, मांगें मनवाने के लिए दिया 12वां ज्ञापन

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!