अन्यउत्तर प्रदेशस्वास्थ्य

गैर संचारी रोगों की पहचान के लिए,आशाओं को दिया गया प्रशिक्षण

–  पांच दिनों के प्रशिक्षण के बाद वितरित किया गया प्रमाण पत्र
–  हेल्‍थ एण्‍ड वेलनेस सेण्‍टर के लिए प्रशिक्षित हो रही हैं आशा कार्यकर्ता

संतकबीरनगर ।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य  मिशन के अंतर्गत गैर संचारी रोगों जैसे कैंसर, हृदय रोग, ब्लड प्रेशर, डायबिटीज़ आदि की रोकथाम के लिए खलीलाबाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आशा कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।  खलीलाबाद ब्‍लाक क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता व आशा संगिनियों के प्रशिक्षण के दौरान बड़गों, गिरधरपुर, भुजैनी समेत अन्‍य उपकेन्‍द्रों की 30 आशा कार्यकर्ता मौजूद रहीं । पांच दिनों के प्रशिक्षण के पश्‍चात सभी को प्रमाण पत्र वितरित किया गया।

इस अवसर पर जिला कार्यक्रम प्रबन्धक (डीपीएम) विनीत श्रीवास्तव   ने कहा कि 30 वर्ष से ऊपर के अधिक़तर  लोंगो को गैर संचारी रोगों की पहचान नहीं हो पाती है। ऐसे ही रोगों की पहचान के लिए आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र की सभी आशा कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्रों के ऐसे परिवारों का चयन करेंगी, जिनमें 30 वर्ष या उससे ऊपर आयु वर्ग के महिला और पुरुष रहते हैं। ऐसे लोगों को चिह्नित कर आशा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाकर इनकी जाँच कराएंगी। जाँच में ऐसे रोगी जो गैर संचारी रोग से ग्रसित पाए जाएंगे उनका नि:शुल्क उपचार स्वास्थ्य विभाग द्वारा शुरू होगा। साथ ही सभी मरीजों का स्टेटस आनलाइन दर्ज रहेगा।

गैर संचारी रोगों के बारे में बताते हुए प्रशिक्षक रत्‍नेश कुमार  ने कहा कि सामान्य भाषा में ऐसा रोग जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है गैर संचारी रोग कहलाता है। ऐसे गैर संचारी पांच रोगों की पहचान और रोकथाम के लिए आशा कार्यकर्ता  काम करेंगी। सरकार की योजना है कि हेल्‍थ एण्‍ड वेलनेस सेण्‍टर से आशा कार्यकर्ताओं को जोड़ा जाए । जिले में कुल 50 हेल्‍थ एण्‍ड वेलनेस सेण्‍टर बनाए जा रहे हैं। इन हेल्‍थ एण्‍ड वेलनेस सेण्‍टर पर आशा कार्यकर्ताओं को मरीजों को ले जाना होगा।  रोगों के बारे में वर्गीकरण करते हुए प्रशिक्षक अनुपमा शुक्‍ला ने कहा कि इन रोगों में मधुमेह, उच्च रक्तचाप, मुंह का कैंसर, स्तन कैंसर, बच्चेदानी के मुंह का कैंसर शामिल हैं । यह  सभी रोग खान-पान तथा रहन सहन के स्तर पर निर्धारित होते हैं।

इस अवसर पर प्रशिक्षक प्रवीण राय, अनुपमा शुक्‍ला के साथ ही आशा संगिनी सरोज यादव, हनीफा, जाहिदा, गीता, निम्‍मी सिंह, माया देवी, प्रमिला समेत भारी संख्‍या में आशा कार्यकर्ता व आशा संगिनी मौजूद रहीं। डीपीएम ने बताया कि अगले बैच का प्रशिक्षण आगामी 25 नवम्‍बर से होगा।

 

 

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

नई शिक्षा नीति 2020 :: 34 साल बाद शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा बदलाव,04 साल के होंगे डिग्री कोर्स, और जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

Sayeed Pathan

फेसबुक के माध्यम से 70 लाख की रंगदारी मांगने का आरोपी अभियुक्त गिरफ्तार, 01 अदद लैपटॉप, 02 अदद मोबाइल व 1200 रुपए बरामद

Sayeed Pathan

महाराष्ट्र में नागरिकता संशोधन बिल नहीं लागू होने देगी कांग्रेस-: मंत्री नितिन राउत

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!