अन्य

एक सप्ताह से इस प्राथमिक विद्यालय में नहीं बना एमडीएम, जिम्मेदार मौन

बस्ती से अनिल शुक्ला की रिपोर्ट :
बस्ती  । एक तरफ शासन प्रशासन हर तरह से जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता तक पहुँचाने का हर सम्भव प्रयास कर रहा है , तो वहीं अमलीजामा पहनाने वाले जिम्मेदार लापरवाह हैं ।
ताजा मामला जिले के रामनगर विकास खण्ड के ग्राम परसोनिया प्राथमिक विद्यालय का है । यहां  देखा गया कि बच्चे घर से लाए हुए टिफिन से लंच कर रहे थे । पूछने पर विद्यालय पर मौजूद रसोईया और शिक्षा मित्र ने बताया कि आठ दिनों से मध्यान्ह भोजन नहीं बन रहा है । शिक्षा मित्र को मिड डे मील न बन पाने का सही कारण भी नहीं पता था ।
प्रधानाध्यापक के बारे में पूछे जाने पर रसोईया और शिक्षा मित्र ने बताया कि प्रभारी प्रधानाध्यापक अंकिता चौधरी हैं , लेकिन वो छुट्टी पर गई हैं ।  शिक्षा मित्र को  मानदेय भी नही मिला है।
में यदि मध्याह्न भोजन योजना के क्रियान्वयन में इतनी लापरवाही होगी , शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं का लाभ जरूरतमन्दों को कितना मिल पाएगा , यह एक यक्ष प्रश्न जैसा है ।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

सीएम योगी के निर्देश पर गाँव गाँव पहुँचे नोडल अफसर, देखने को मिली कई जमीनी हक़ीक़त

Sayeed Pathan

Sayeed Pathan

केंद्र सरकार को SC ने भेजा नोटिस- किन राज्यों में हिंदुओं को मिलेगा अल्पसंख्यक का दर्ज़ा

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!