अन्यटॉप न्यूज़राष्ट्रीय

सी.ए.ए.में आखिर मुस्लिम क्यों नहीं, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पोते,और BJP उपाध्यक्ष ने उठाये सवाल

फाइल फोटो: नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के पोते चंद्र कुमार बोस

चंद्र कुमार बोस ने ट्वीट कर कहा क‍ि यदि सीएए 2019 किसी धर्म से जुड़ा नहीं है तो क्‍यों हम हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाइयों, पारसियों और जैन लोगों पर ही जोर दे रहे हैं। क्‍यों मुस्लिमों को शामिल नहीं किया जाता? हमें पारदर्शी बनना चाहिए।

-नेताजी सुभाषचंद्र बोस के पोते चंद्र कुमार बोस ने सीएए को लेकर सवाल उठाया
-पश्चिम बंगाल बीजेपी के उपाध्‍यक्ष ने कहा कि मुस्लिमों को क्‍यों शामिल नहीं किया गया
-उन्‍होंने कहा कि मैं बीजेपी नहीं छोड़ रहा हूं, लेकिन गलत हो रहा है तो बताना मेरी जिम्मेदारी

कोलकाता ।
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर आयोजित बीजेपी की विशाल रैली के कुछ घंटे बाद ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस के पोते और राज्‍य में बीजेपी के उपाध्‍यक्ष चंद्र कुमार बोस ने सीएए को लेकर सवाल उठाया है। उन्‍होंने सवाल किया कि सीएए में मुस्लिमों को क्‍यों शामिल नहीं किया गया है?
चंद्र कुमार बोस ने ट्वीट कर कहा, ‘यदि सीएए 2019 किसी धर्म से जुड़ा नहीं है तो क्‍यों हम हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाइयों, पारसियों और जैन लोगों पर ही जोर दे रहे हैं। क्‍यों मुस्लिमों को शामिल नहीं किया जाता? हमें पारदर्शी बनना चाहिए। यदि मुस्लिमों के साथ उनके गृह देश में उत्‍पीड़न नहीं होगा तो वे नहीं आएंगे, इसलिए उन्‍हें शामिल करने में कोई नुकसान नहीं है।’ बता दें कि बीजेपी की यह मेगा रैली सोमवार को हुई थी।

Chandra Kumar Bose

@Chandrabosebjp
If #CAA2019 is not related to any religion why are we stating – Hindu,Sikh,Boudha, Christians, Parsis & Jains only! Why not include #Muslims as well? Let’s be transparent

7,653
12:14 AM – Dec 24, 2019 · Kolkata, India
Twitter Ads info and privacy
3,835 people are talking about this
‘मैं बीजेपी नहीं छोड़ रहा हूं’
बोस ने कहा, ‘हालांकि यह पूरी तरह से सच नहीं है। बलूचों के बारे में क्‍या जो पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान में रहते हैं? पाकिस्‍तान के अहमदिया लोगों के बारे में क्‍या?’ उन्‍होंने कहा कि भारत की तुलना या उसकी बराबरी किसी अन्‍य देश से मत करिए क्‍योंकि यह देश सभी धर्मों और समुदायों के लिए खुला है। बोस के इस ट्वीट के बाद उनके बीजेपी छोड़ने की अटकलें शुरू हो गईं। हालांकि खुद बोस ने इसका खंडन किया है।
यदि सीएए 2019 किसी धर्म से जुड़ा नहीं है तो क्‍यों हम हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाइयों, पारसियों और जैन लोगों पर ही जोर दे रहे हैं। क्‍यों मुस्लिमों को शामिल नहीं किया जाता? हमें पारदर्शी बनना चाहिए।
चंद्र कुमार बोस

एनबीटी से बातचीत में चंद्र कुमार बोस ने कहा, ‘मैं बीजेपी नहीं छोड़ रहा हूं अगर परिवार में कुछ गलत हो रहा है तो वह बताना मेरी जिम्मेदारी है।’ पश्चिम बंगाल बीजेपी के उपाध्‍यक्ष बोस ने कहा, ‘मैंने पीएम मोदी और अमित शाह से मिलने का वक्त मांगा था लेकिन मुझे मिला नहीं। पश्चिम बंगाल में बीजेपी के जितना भी जीतने का चांस था, वह इस कदम से और कम हो गया है। बंगाली लोग कभी इसे स्वीकार नहीं कर सकते हैं। भारत कोई हिंदू राष्ट्र नहीं है, अगर आप इसे हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं तो संविधान को बदलो।’

साभार NBT

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

Sayeed Pathan

सुप्रीमकोर्ट में CAA के खिलाफ दायर याचिकाओं की सुनवाई 22 को

Sayeed Pathan

सरवन हत्या कांड का खुलासा,,पत्नी ही निकली हत्यारिन, संतोष के सहयोग से की थी हत्या-बाराबंकी पुलिस

Sayeed Pathan
error: Content is protected !!