अन्य टॉप न्यूज़ ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

कार्रवाई का खौफ ऐसा कि शहर में लोग खुद ही तोडऩे लगे अतिक्रमण..

ब्यावरा. माफिया मुक्त प्रदेश बनाने की कड़ी में एक साथ शुरू हुई अतिक्रमण विरोधी मुहिम का असर शहर में भी दिख रहा है। भोपाल बाइपास और राजगढ़ चौराहे पर कब्जे हटाने के बाद प्रशासन ने प्लॉन किया है कि मुल्तानपुरा क्षेत्र में कार्रवाई की जाना है। इसी से पहले शहरी क्षेत्र में लोग कब्जे हटाना शुरू हो गए हैं।

गुरुवार को नगर पालिका कार्यालय के सामने की बिल्डिंग को तोडऩा शुरू किया गया, इसके लिए मुख्य रोड पर ट्रैफिक डायवर्ट किया गया, दिनभर सिंगल रूट का ट्रैफिक होने से बार-बार जाम लगता रहा। इसके अलावा अन्य कब्जेधारी भी पूरी तरह से तैयार हो चुके हैं जिनके कब्जे हटाए जाना हैं।

उल्लेखनीय है कि डिवाइडर वाले रोड की जद में आ रहे कब्जों के कारण काम पूरा नहीं हो पाया है। प्रशासन ने पूरा मूड उन्हें हटाने का बना लिया है। अब प्रशासन ऐसे कब्जों को चिह्नित किए बगैर तोड़ेगा। दूसरे चरण की कार्रवाई में शहरी क्षेत्र का ही अतिक्रमण हटाने की योजना है। जिसमें तमाम रसूखदारों और प्रभावी लोगों को भी कार्रवाई के दायरे में रखा गया है। वहीं, वे तमाम अस्थाई कब्जे भी हटाए जाएंगे जिसके कारण ट्रैफिक बाधित हो रहा है और बार-बार हटा देने के बावजूद भी जो कब्जे अभी तक काबिज हैं। आने वाले एक या दो दिन में यह कार्रवाई सुनिश्चित की जाना है।

*चुनौती बनेंगे रसूखदारों के कब्जे!*

हालांकि प्रशासन भले ही पॉवरफुल मोड में हो लेकिन शहर में कुछ रसूखदारों और राजनीतिक संरक्षण प्राप्त लोगों के हमेशा बौना साबित हो जाता है। ऐसे में अब माना जा रहा है कि यहां सख्ती बरती जाएगी या अपनी ही पार्टी के लोग उन्हें बचा लेंगे? या फिर कमलनाथ सरकार के निर्देश का पालन करेंगे। बता दें कि उक्त चुनिंदा कब्जे एबी रोड के निर्माण में भी बाधा बने, रोड बन जाने के बावजूद उक्त कब्जे नहीं हट पाने के कारण सालों बाद भी जाम से लोग परेशान हैं। हालांकि माना जा रहा है कि स्टे, डिक्री के आधार पर अभी तक बचते आए कब्जेधारियों पर भी अब शिकंजा कसने की तैयारी में प्रशासन है। एसडीएम, कलेक्टर को कमिश्नर की ओर से हरी झंडी मिली हुई है, इसीलिए अब ज्यादा सख्ती की उम्मीद जताई जा रही है।

*प्लॉनिंग के साथ हटाएंगे*

हमने पूरा प्लॉन अतिक्रमण हटाने के लिए तैयार किया है। पूरी प्लॉनिंग के साथ ही उन्हें हटाएंगे। स्टे सहित अन्य कानूनी पैंच हमने देख लिए हैं इतने ज्यादा गंभीर मामले नहीं है।

*-रमेश पांडे, एसडीएम, ब्यावरा*

*खुद ही तोड़ लें तो अच्छा*

वे तमाम कब्जेधारी जिनके निर्माण अतिक्रमण की जद में आए हैं, वे खुद ही हटा लें और तोड़ लें तो अ’छा है। प्रशासन अपने स्तर पर अतिक्रमण हटाऐगा।

*-इकरार अहमद, सीएमओ, नपा, ब्यावरा*

Represent by Balram G

Related posts

बेबस छात्र की पिटाई के विरोध में,पुलिस अधीक्षक को सुनील सिंह ने दिया ज्ञापन,कहा सत्ता हनक के आगे नहीं झुकेगा न्याय

Sayeed Pathan

राहुल गांधी के बयान पर भड़के राजनाथ ने कहा- ऐसे लोग सदन में आने लायक नहीं.

Sayeed Pathan

जैदपुर विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर,,एस पी ने अधिकारियों के साथ गोष्ठी का किया आयोजन

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो