अन्य उतर प्रदेश लखनऊ

ODOP योजना:: सीएम योगी मुगलों की इस निशानी को विश्व मे दिलाएंगे नई पहचान

लखनऊ . मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हर जिले की पहचान उसके कारोबारी हुनर से होगी. इतना ही नहींइस हुनर को देश-विदेश में नई पहचान मिलेइसके‍ लिए प्रदेश सरकार की तरफ से एक विशेष अभियान भी चलाया जाएगा. इस अभियान के तहतकारोबारियों को सरकार की तरफ से करोड़ों रुपए का कर्ज उपलब्‍ध कराया जाएगा.

जिससे, कारोबारी अपनी उत्‍पादन गुणवत्‍ता को अधिक बेहतर बना सकें. उत्‍तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने इस अभियान को अमलीजामा पहनाने के लिए एक जिला-एक उत्‍पाद’ (One District-One Product) के नाम से एक योजना की शुरूआत भी है. इस योजना में मुगलों ( Mughal) की निशानी इनले वर्क (पच्चीकारी) को भी शामिल किया गया है.

योजना के तहत, एक जिले से एक कारोबार को लिया गया है. लेकिन,आगरा कारोबार के साथ इनले वर्क को भी लिस्ट में जगह दी गई है. जानकारों के मुताबिक इनले वर्क का सालाना कारोबार करीब सौ करोड़ रुपये का है. मार्बल पर कीमती रत्नों और पत्थरों को जोड़ने की कला को पच्चीकारी कहते हैं. ताजमहल (Tah Mahal) में इसे जगह-जगह देखा जा सकता है.

आगरा में पच्चीकारी से जुड़े हैं 25 हज़ार कारीगर

जिला उद्योग केंद्र के उपायुक्‍त शरद टंडन ने बताया कि आगरा में मुगल काल से मार्बल हैंडीक्राफ्ट और पच्चीकारी का कार्य किया जा रहा है. मार्बल हैंडीक्राफ्ट और पच्चीकारी का देशी और विदेशी कारोबार सालाना 500 करोड़ रुपये का है. आगरा में इस कारोबार से सवा लाख लोग प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं. पच्चीकारी से जुड़े कारीगरों की संख्या करीब 25 हजार है.
——————
साभार news18
Advertisement

Related posts

पुलिस आरक्षी के मिले शव की सुलझी गुत्थी, प्रेमिका से शादी करने से इनकार करने पर हुई थी हत्या

Sayeed Pathan

पुलिस ऑफिस के विभिन्न कार्यालयों का एसपी आकाश तोमर ने औचक निरीक्षण कर,अभिलेखों के रखरखाव एवं साफ सफाई हेतु दिए संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश 

Sayeed Pathan

यूपी बोर्ड रिज़ल्ट::कम नम्बर पाने वाले छात्र इस तरह से करा सकते हैं पुनर्मूल्यांकन

Sayeed Pathan