राजनीति

मुख्यमंत्रियों की बैठक में बोले उद्धव, फैसला करें, केंद्र से डरना है या लड़ना है

नई दिल्ली: जीएसटी समेत अन्य मुद्दों पर बुलाई गई गैर भाजपा शाषित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने केंद्र पर जमकर निशाना साधा. उद्धव ठाकरे ने बैठक में कहा कि हमें फैसला करना चाहिए कि हमें केंद्र सरकार से डरना है या लड़ना है. ठाकरे ने कहा कि गैर भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को जोरदार तरीके से अपनी आवाज उठानी चाहिए क्योंकि केंद्र सरकार हमारी आवाज को दबाने का प्रयास कर रही है.

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को राज्यों के जीएसटी मुआवजे सहित NEET और JEE परीक्षाओं को लेकर कांग्रेस शासित राज्यों सहित तीन अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग बुलाई है.

मुख्यमंत्रियों की इस वर्चुअल बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने NEET-JEE परीक्षाओं को लेकर कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट चलते हैं. इस मुद्दे पर बात करते हैं. यह छात्रों के लिए मानसिक प्रताड़ना है. मैंने किसी लोकतांत्रिक देश में इतनी उद्दंडता नहीं देखी है. स्थिति बहुत गंभीर है. हमें बच्चों के लिए आवाज उठानी ही होगी.’ इससे पहले, ममता बनर्जी ने कोरोना महामारी के मद्देनजर केंद्र से परीक्षाओं को टालने का आग्रह किया था.

सोनिया गांधी बुधवार को GST मुआवजे और परीक्षाएं स्थगित कराने समेत कई मुद्दों पर गैर बीजेपी शासित राज्यों के साथ बैठक कर रही हैं. इस बैठक में ममता बनर्जी, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हिस्सा लिया.।
———————-
Source ndtv
Advertisement

Related posts

किसानों, नौजवानों के सामने बड़ी चुनौतियां हैं किन्तु सबसे बड़ी चुनौती है देश की संस्कृति की रक्षा: पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ

Sayeed Pathan

यूक्रेन से लौटे छात्रों के हक़ के लिए, भाजपा सांसद वरुण गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना

Sayeed Pathan

उ0प्र0 का किसान इतना सादा (सीधा) नहीं कि वह अपना नफा-नुकसान न समझता हो: मनप्रीत सिंह बादल

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!