उतर प्रदेश संतकबीरनगर

नोडल अधिकारी ने, अधिकारियों के साथ कोविड-19, संचारी रोग नियंत्रण, स्वच्छता अभियान, स्वच्छ पेयजल, कानून व्यवस्था, बाढ़ आदि से सम्बन्धित की बिंदुवार समीक्षा

संत कबीर नगर, । अपर मुख्य सचिव, उ0प्र0 शासन एवं जनपद के नोडल अधिकारी अनिल कुमार ने दो दिवसीय जनपद भ्रमण के पहले दिन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिलाधिकारी रवीश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक बृजेश सिंह, अपर जिलाधिकारी संजय कुमार पाण्डेय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 हरगोविन्द सिंह एवं मुख्य विकास अधिकारी अतुल मिश्रा सहित जनपद के अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के साथ कोविड-19, संचारी रोग नियंत्रण, स्वच्छता अभियान, स्वच्छ पेयजल, कानून व्यवस्था, बाढ़ आदि से सम्बन्धित बिन्दुओं में कृत कार्यवाही एवं अद्यतन स्थिति की बिन्दुवार समीक्षा किया।

            समीक्षा के प्रथम चरण में नोडल अधिकारी श्री कुमार ने मुख्य चिकित्साधिकारी से जनपद में कोविड-19/कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति के बारे में बारीकी से आंकड़ेवार जानकारी प्राप्त करते हुये विभिन्न बिन्दुओं पर सवाल पूछे तथा इससे बचाव हेतु हर स्तर पर निरंतर सतर्क दृष्टि बनाये रखने के निर्देश दिये। अपर मुख्य सचिव/नोडल अधिकारी ने जनपद में कोविड-19 संक्रमण से हुयी मृत्यु की संख्या (कुल 20) की जानकारी प्राप्त करते हुये एक-एक मृत केस के कारणों के बारे में पूंछतांछ किया तथा कोरोना पाजिटिव संक्रमित के प्रत्येक केस में त्वरित एक्शन लेते हुये आवश्यक व्यवस्था/इलाज सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। डोर टू डोर सर्वे के आधार पर लक्षणों को देखते हुये कोविड-19 की जांच कराने के भी निर्देश दिये गये।

            जनपद में जे.ई./ए.ई.एस. संक्रमण से बचाव हेतु स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य सम्बन्धित विभागों द्वारा कराये जा रहे कार्यवाहियों की समीक्षा करते हुये नोडल अधिकारी श्री कुमार नें जल निकासी, नालियों की सफाई एवं छिड़काव आदि की वर्तमान स्थिति की जानकारी प्राप्त करते हुये सम्बन्धित अधिकारी को विभिन्न बिन्दुओं परर निर्देशित किया। स्वच्छ पेयजल की अबाध आपूर्ति के बिन्दु पर नोडल अधिकाररी ने पेयजल योजनाओं के सुचारू संचालन की समीक्षा करते हुये कहा कि किसी भी तकनीकी फाल्ट आदि की दशा में उसे शीर्ष प्राथमिकता के आधार पर तत्काल क्रियाशील किया जाये। क्योंकि जनपदवासियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराना हमारी शीर्ष प्राथमिकताओं में शामिल है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत कृत कार्यवाहियों से अवगत होते हुये नोडल अधिकारी ने लक्ष्य के सापेक्ष स्वच्छ शौचालयों के निर्माण की जानकारी डी.पी.आर.ओ. से प्राप्त किया।

            शहर में साफ-सफाई, सेनेटाइजेशन, जल जमाव की समस्या आदि के बारे में श्री कुमार नें अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका वीना सिंह से पूछतांछ किया। बताया गया कि सप्ताह में दो बार टैंकर के माध्यम से सेनेटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है तथा कोविड-19 संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सेनेटाइजेशन, एण्टीलार्वा आदि का छिड़काव किया जा रहा है।

            जनपद में बाढ़ की स्थिति एवं प्रशासन द्वारा अब तक किये गये सुरक्षात्मक उपायों की समीक्षा करते हुये नोडल अधिकारी नें बाढ़ के कारण बेघर हुये लोगों, पशुओं आदि को सुरक्षित जगहों पर व्यवस्थित किये जाने तथा भोजन, चारे आदि की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये। बताया गया कि जनपद में स्थिति सामान्य है। धनघटा तहसील के कुछ गांवों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न होने पर सभी आवश्यक सुविधायें उपलब्ध करायी जा रही हैं।

            नोडल अधिकारी अनिल कुमार द्वारा जनपद में कानून व्यवस्था एवं सुरक्षा से सम्बन्धित विभिन्न बिन्दुओं पर पुलिस अधीक्षक बृजेश सिंह से जानकारी प्राप्त करते हुये विगत वर्षों के सापेक्ष तुलनात्मक समीक्षा किया गया।

            अपर मुख्य सचिव/नोडल अधिकारी अनिल कुमार ने बैठक के तत्काल बाद औचक निरीक्षण के क्रम में विकास खण्ड बघौली अन्तर्गत ग्राम औंरही में पहुंचकर विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया तथा प्राथमिक विद्यालय औरही पर जाकर उपस्थित प्रधानाचार्य एवं एस.डी.आई. से बच्चों की आनलाइन पढ़ाई के बारे में पूछतांछ किया। संतोषजनक जवाब न दिये जाने पर नोडल अधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुये  बेसिक शिक्षा अधिकारी, खण्ड शिक्षाधिकारी को विभिन्न बिन्दुओं पर समुचित जानकारी उपलब्ध कराये जाने हेतु तलब किया है।

Related posts

लूट गिरोह के 03 सदस्यों को, इटावा पुलिस ने लूटे हुए माल सहित किया गिरफ्तार

Sayeed Pathan

फार्मूला योगी -इस पर अमल हुआ तो 90 लाख लोगों को मिलेगा रोज़गार

Sayeed Pathan

पत्रकारों को निगल रहा है योगी का जंगलराज: अजय कुमार लल्लू

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो