उतर प्रदेश संतकबीरनगर

संतकबीरनगर में कोरोना का पाजिटिव औसत 3.14 जबकि राज्‍य औसत 3.79 प्रतिशत-: सीएमओ

  • कोरोना की 59471 जांच में से 1868 रिपोर्ट ही पाजिटिव निकले

संतकबीरनगर । लगातार बढ़ रहे कोरोना के मरीजों की संख्‍या को लेकर लोगों में उहापोह की स्थिति बनी हुई है। लोगों को इस बात का भय सता रहा है कि कहीं उन्‍हें भी कोरोना का संक्रमण न हो जाय। लेकिन घबराने जैसी कोई स्थिति नहीं है। जिले में कोरोना पाजिटिव होने का औसत राज्‍य औसत से भी कम है तथा संक्रमण के मामले यहां पर कम हैं। इसलिए घबराने की आवश्‍यकता नहीं है। लोग संक्रमण से बचने के लिए दिए जा रहे दिशा निर्देशों के अनुपालन में लापरवाही न करें।

मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी डॉ हरगोविन्‍द सिंह ने बताया कि जिले के लोगों की जागरुकता का ही परिणाम है कि संतकबीरनगर में लोगों के कोरोना पाजिटिव पाए जाने का औसत राज्‍य के औसत से 0.65 प्रतिशत कम है। उन्‍होने बताया कि राज्‍य में कोरोना पाजिटिव होने की दर 3.79 प्रतिशत है, ज‍बकि जिले में यह औसत 3.14 प्रतिशत है। जिले में रोज 1000 लोगों की कोरोना जांच हो रही है। अभी तक कुल 59471 व्‍यक्तियों के सैम्‍पल कलेक्‍ट किए गए हैं। इनमें से केवल 1868 लोगों की रिपोर्ट ही पाजिटिव आई है। इनमें से कुल 1599 लोग स्‍वस्‍थ होकर घर जा चुके हैं। केवल 249 लोगों का ही इलाज चल रहा है। इनमें से भी 149 व्‍यक्ति होम आइसोलेशन में हैं। इसलिए कोरोना से घबराने की जरुरत नहीं है, बल्कि इससे बचने के लिए सुरक्षा के आवश्‍यक प्रबन्‍ध करते हुए कोरोना के संक्रमण से बचने की आवश्‍यकता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखें – डॉ ए के सिन्‍हा

कोरोना रैपिड रिस्‍पांस टीम के प्रभारी डॉ ए के सिन्‍हा ने बताया कि कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए यह आवश्‍यक है कि हम अपने आसपास पूरी तरह से सफाई रखें । बाहर निकलते समय मास्‍क का प्रयोग करें, अपने हाथों को साबुन से धोएं या फिर हैण्‍ड सेनेटाइजर का प्रयोग करें। भीड़ भाड़ वाले स्‍थानों पर जाने से परहेज करें। खान पान में स्‍वच्‍छता रखें । भोजन में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

Related posts

वृक्षमित्र की अनोखी नवरात्रि- 25 हजारवां पेड़ लगाकर किया नवरात्रि का शुभारंभ

Sayeed Pathan

सेमरियावां जूनियर हाई स्कूल के छात्र-छात्राओं को स्काउट गाइड का कराया गया अभ्यास

Sayeed Pathan

पीपीई किट के इस्‍तेमाल में बरतें सावधानी, इस तरह से होगा संक्रमण का है खतरा-:डॉ मोहन झा

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो