अन्य दिल्ली एन सी आर स्वास्थ्य

कोरोना वैक्सीन की कीमत का खुलासा, ₹210 में मिलेगी कोवीशील्ड, सरकार ने 1.10 करोड़ डोज का दिया ऑर्डर

नई दिल्ली
ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका की कोविड वैक्सीन कोवीशील्ड (Oxford University and AstraZeneca Covid Vaccine Covishield) के एक डोज का दाम भारत में 210 रुपये होगा। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, इस कीमत में माल एवं सेवा कर (GST) भी शामिल है। हालांकि, केंद्र सरकार यह स्पष्ट कर चुकी है कि प्राथमिकता सूची के लोगों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। सूत्रों ने बताया कि सरकार ने कोवीशील्ड के लिए सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (SII) को ऑर्डर दे दिया है।

सरकार ने दिया कोवीशील्ड का ऑर्डर
भारत सरकार ने महाराष्ट्र के पुणे स्थित टीका निर्माता कंपनी एसआईआई को 1.10 करोड़ डोज कोवीशील्ड (Covishield) का ऑर्डर दिया है। सरकारी कंपनी एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से यह ऑर्डर दिया है। ऑर्डर सीरम इंस्टिट्यूट में सरकारी और नियामकीय मामलों को अतिरिक्त निदेशक प्रकाश कुमार सिंह को दिया गया है। वैक्सीन की सप्लाई संभवतः सोमवार शाम से ही शुरू हो रही है। सूत्रों की मानें तो कोवीशील्ड वैक्सीन की खेप पहले पहल 60 जगहों पर पहुंचाई जाएगी जिसके बाद देश के अन्य भागों में उसे पहुंचाया जाएगा। सीरम प्रॉडक्शन के लिहाज से दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है।

कोवीशील्ड के साथ-साथ कोवैक्सीन को भी मिली है मंजूरी
ध्यान रहे कि कोरोना वैक्सीन पर सरकार की एक्सपर्ट कमिटी ने एस्ट्राजेनेका की कोवीशील्ड के अलावा देसी कोवैक्सीन (Covaxin) को भी भारत में सीमित आपातकालीन उपयोगी की मंजूरी दी है। कोवैक्सीन को देश की दवा निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) की मदद से विकसित की है। स्वास्थ्य मंत्रालय जल्द ही कोवैक्सीन की खरीदारी का भी ऑर्डर देने वाला है। सूत्रों ने बताया कि इस पर विचार के लिए मीटिंग चल रही है।

Advertisement

भारत में 16 जनवरी से टीकाकरण, कोविन पर रजिस्ट्रेशन
भारत में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू होने जा रहा है। वैक्सीन को देश के हर जिले तक पहुंचाने और उसकी लाइव ट्रैकिंग के लिए ऑलाइन प्लैटफॉर्म कोविन (Co-Win) तैयार किया गया है। कोविन के जरिए ही उन लोगों के रजिस्ट्रेशन की भी व्यवस्था है जिन्हें वैक्सीन लगाई जाएगी। सरकार ने साफ कर दिया है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने से पहले कोविन के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा क्योंकि टीका केंद्रों पर ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था नहीं होगी। टीकाकरण अभियान की प्राथमिकता सूची में सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मी और अग्रिम मोर्चों पर तैनात कर्मी हैं। उसके बाद 50 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी।

 

SourceNBT

Related posts

बिहार चुनाव: महागठबंधन के बाद NDA से नहीं बनी बात, कुशवाहा ने BSP और JPS संग बनाया नया मोर्चा

Sayeed Pathan

एयरलाइंस को फ्लाइट में खाना सर्व करने की इजाजत के साथ ये नई गाइडलाइंस जारी

Sayeed Pathan

69 हजार शिक्षक भर्ती मामले का ,मास्टर माइंड भाजपा नेता गिरफ्तार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो