दिल्ली एन सी आर

आर्थिक रूप से पिछड़े युवाओं के लिए यूजीसी स्कालरसिप, जानिए योग्यता ,सहायता राशि, और आवेदन प्रक्रिया

नई दिल्ली । UGC Scholarship: स्वामी विवेकानंद ने कहा था, “मेरे साहसी युवाओं, यह विश्वास रखो कि तुम ही सब कुछ हो – महान कार्य करने के लिए इस धरती पर आए हो। चाहे वज्र भी गिरे, तो भी निडर हो खड़े हो जाना और कार्य में लग जाना। साहसी बनो।“ स्वामी विवेकानंद के इस आह्वान को आज भी देश भर के युवा प्रेरणा स्रोत मानते हैं। स्वामी विवेकानंद मानते थे कि शिक्षा युवाओं को सशक्त बनाने का एक मूल साधन है। हालांकि, कई ऐसे होनहार युवा होते हैं जो कि आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारों से आते हैं। ये युवा के पास प्रोफेशनल डिग्री तो दूर की बात है, सामान्य अपनी शिक्षा को भी पूरी करने के लिए आर्थिक रूप से सम्पन्न नहीं होते हैं। ऐसे ही होनहार युवाओं के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा विभिन्न छात्रवृतियां दी जाती हैं, जिनका लाभ उठाकर युवा उच्च शिक्षा पूरी कर सकते हैं। इनमें कुछ छात्रवृत्तियां आम डिग्री कोर्स के साथ टेक्निकल, प्रोफेशनल, मेडिकल और पैरा-मेडिकल कोर्सेस के लिए भी आर्थिक सहायता दिला सकती हैं। आइए इन छात्रवृत्तियों के बारे में जानते हैं।

यूनिवर्सिटी रैंक होल्डर के लिए पोस्ट ग्रेजुएट स्कॉलरशिप कैंडिडेट

स्नातक स्तर पर सामान्य डिग्री कोर्स में पहले और दूसरे स्थान पर उत्तीर्ण होने वाले और किसी भी पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में दाखिला लिए छात्र-छात्राओं को यूनिवर्सिटी रैंक होल्डर (यूआरएच) स्कॉलरशिप दी जाती है। देश भर से सभी विश्वविद्यालयों एवं अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों के अधिकतम 3000 स्टूडेंट्स को यह छात्रवृत्ति हर साल दी जाती है। यूआरएच स्कॉलरशिप के अंतर्गत 3,100 रुपये प्रतिमाह की सहायता राशि 2 वर्ष तक दी जाती है। इस स्कॉलरशिप के लिए नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल, scholarships.gov.in पर आवेदन किया जा सकता है। यूआरएच स्कॉलरशिप की आधिकारिक जानकारी यहां से लें।

सिंगल गर्ल चाइल्ड के लिए इंदिरा गांधी पीजी स्कॉलरशिप (एसजीसी)

भारत सरकार द्वारा महिलाओं को मुफ्त शिक्षा देने के उद्देश्य से यूजीसी द्वारा सिंगल गर्ल चाइल्ड दी जाती है। हर वर्ष 3000 स्कॉलरशिप 30 वर्ष तक की पीजी स्तर पर नॉन-प्रोफेशनल कोर्स कर रही छात्राओं को यह यह स्कॉलरशिप दी जाती है। इस छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत 36,200 रुपये की सहायता राशि प्रतिवर्ष दो वर्ष तक दी जाती है। इस स्कॉलरशिप के लिए भी नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल, scholarships.gov.in पर आवेदन किया जा सकता है। एसजीसी स्कॉलरशिप की आधिकारिक जानकारी यहां से लें।

Advertisement

एससी/एसटी छात्रों के लिए पीजी स्कॉलरशिप फॉर प्रोफेशनल कोर्सेस (पीजीएसपीआरओएफ)

महिलाओं की तरह ही पिछड़ वर्गों जैसे अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के स्टूडेंट्स को आर्थिक सहायकता देने के लिए पीजीएसपीआरओएफ स्कॉलरशिप दी जाती है। इस छात्रवृत्ति के अंतर्गत 7,800 रुपये प्रतिमाह की सहायता राशि कोर्स की अवधि तक दी जाती है। इस स्कॉलरशिप के लिए भी नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल, scholarships.gov.in पर आवेदन किया जा सकता है। पीजीएसपीआरओएफ स्कॉलरशिप की आधिकारिक जानकारी यहां से लें।

उत्तर-पूर्वी भारत के स्टूडेंट्स के लिए इशान उदय स्पेशल स्कीम (एनईआर)

भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों के होनहार लेकिन आर्थिक रूप से अक्षम युवाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद देने के लिए शिक्षा मंत्रालय और यूजीसी द्वारा इशान उदय एनईआर स्कॉलरशिप दी जाती है। एनआईआर स्कॉलरशिप हर वर्ष 10,000 स्टूडेट्स को दी जाती है जो कि जनरल से लेकर टेक्निकल, प्रोफेशनल, मेडिकल और पैरा-मेडिकल कोर्सेस के लिए इस्तेमाल की जा सकती है। एनईआर स्कॉलरशिप में जनरल डिग्री कोर्स के लिए 5,400 रुपये प्रतिमाह और अन्य कोर्सेस के लिए 7,800 रुपये प्रतिमाह की राशि दी जाती है। इस स्कॉलरशिप के लिए भी नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल, scholarships.gov.in पर आवेदन किया जा सकता है। नेशनल इशान उदय स्कॉलरशिप स्कीम विवरण यहां देखें।

Related posts

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए,,अस्पताल में भर्ती

Sayeed Pathan

सोनिया गांधी को पेट दर्द की शिकायत के बाद दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में कराया गया भर्ती

Sayeed Pathan

ATM से नहीं निकला पैसा और खाते से कट गया तो न हों परेशान , जानिए कैसे मिलेगा रिफंड

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो