अन्य संतकबीरनगर

जांच में झूठी निकली कोटेदार के विरुद्ध शिकायत, या दबाव में थे शिकायतकर्ता !

संतकबीरनगर । कोटेदार के विरुद्ध दी गई शिकायत जांच अधिकारी की जांच में पूरी तरह झूठी निकली है,मामला जिले के खलीलाबाद ब्लॉक अंतर्गत ग्राम टुम्पार का है जहां के कोटेदार के विरुद्ध कुछ दिनो पहले ग्रामीणों ने राशन न दिए जाने की शिकायत उच्च अधिकारियों से की थी ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामीणों की शिकायत पर उच्च अधिकारी ने शिकायत की जांच विभाग के पूर्ति निरीक्षक जितेंद्र सिंह को सौंपी थी,और सोमवार को जब जांच करने पहुंचे श्री सिंह खुली बैठक कर ग्रामीणों से पूछताछ की तो शिकायतकर्ताओं ने बताया कि हमें समय से राशन मिलता है,कोटेदार से कोई शिकायत नहीं है,पूर्ति निरीक्षक ने जब शिकायतकर्ताओं से पूछा कि शिकायत क्यों कि गई थी,तो इनलोगों ने बताया कि हमें नहीं मालूम ।

ग्राम प्रधान शैलेश सिंह ने बताया है कि मेरी जानकारी में राशन वितरण की कोई शिकायत नहीं है अगर कोई शिकायत होती तो ग्रामीण हमे इसकी जानकारी जरूर देते ।

Advertisement

कोटेदार अरुण सिंह ने बताया कि कुछ लोगों की शिकायत पर पूर्ति निरीक्षक ने सोमवार को शिकायतकर्ताओं से पूछताछ कर जांच की जिसमे मेरे द्वारा अनियमितता की शिकायत नहीं मिली है,मेरे द्वारा समय से सभी पात्र राशन कार्ड धारकों को राशन दिया जाता है ।
वहीं ग्रामवासी लल्लन सिंह ने बताया कि दुर्गा,अनिल यादव,सुदर्शन, तथा सुग्रीव आदि लोगों ने कोटेदार द्वारा अनाज वितरण में अनियमितता को लेकर संबंधित अधिकारी को कुछ दिनों पहले एक शिकायती पत्र दिया था, लेकिन जांच करने पहुँचे अधिकारी के सामने लोगों ने अपने द्वारा की गई शिकायत के इनकार कर दिया,ऐसा लगता है कि शिकायतकर्ता किसी दबाब में थे ।
जबकि पूर्ति निरीक्षक जितेंद्र सिंह के अनुसार शिकायतकर्ताओं ने बताया है कि राशन मिलने जैसी कोई दिक्कत नहीं है,राशन समय से मिल जाता है । लेकिन देेेखना हैै कि श्री सिंह की जांच रिपोर्ट क्या गुल खिलाती है

Related posts

सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्षकार ने दाखिल की, 217 पन्नो की पुनर्विचार याचिका

Sayeed Pathan

आज का राशिफल:-जानिए क्या कहते हैं आपके सितारे

Sayeed Pathan

पीसीएफ केंद्र प्रभारी को लापरवाही पड़ी महंगी,डीएम ने FIR दर्ज के जेल भेजने का दिया निर्देश

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो