उतर प्रदेश लखनऊ

यूपी के इन शहरों में, तम्बाकू, सिगरेट, बेचने के लिए लाइसेंस अनिवार्य

लखनऊ।  शहरों में बीड़ी, सिगरेट या तंबाकू जैसे उत्पादों को बेचने के लिए दुकानदारों को लाइसेंस लेना होगा। लखनऊ नगर निगम में पहले से लागू है, शेष 16 शहरों अलीगढ़, मेरठ, अयोध्या, आगरा, कानपुर, गोरखपुर, गाजियाबाद, वृंदावन-मथुरा, वाराणसी, प्रयागराज, झांसी, सहारनपुर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद, बरेली व शाहजहांपुर में इसे लागू किया जा रहा है। अपर मुख्य सचिव नगर विकास डा. रजनीश दुबे ने शासनादेश जारी कर दिया है।

उपविधि बनाना होगा
नगर विकास विभाग ने इसके लिए तंबाकू उत्पादन लाइसेंस शुल्क का निर्धारण, विनियमन और नियंत्रण एवं अनुज्ञप्ति शुल्क उपविधि-2021 का प्रारूप जारी कर दिया है। नगर निगमों को इसे बनाते हुए अपने यहां बोर्ड से पास कराना होगा। इसके बाद इसे लागू किया जाएगा।

नशे की प्रवृत्ति रुकेगी
नई व्यवस्था लागू होने के बाद दुकानदार 18 साल से कम उम्र के बच्चों को सिगरेट व तंबाकू से बने उत्पाद नहीं बेच पाएंगे। इतना ही नहीं 18 साल से कम उम्र के बच्चों को इसे बेचने की अनुमति भी नहीं होगी। अभी किसी भी दुकान पर बीड़ी, सिगरेट व तंबाकू से बने उत्पाद धड़ल्ले से बिक रहे हैं।

पकड़े गए तो जुर्माना
लाइसेंस के बिना कोई भी कामर्शियल मॉल, थोक बाजार, बिग बाजार, स्पेंसर्स, जनल मर्चेंट, किराना दुकान, गुमटी आदि पर तंबाकू उत्पादों की बिक्री नहीं होगी। बिना लाइसेंस के बिक्री करते हुए पाए जाने पर पहली बार 2000 रुपये जुर्माना व सामान जब्त कर लिया जाएगा। दूसरी बार 5000 रुपये जुर्माना लिया जाएगा। लाइसेंस लेने वाला केवल भारतीय उत्पाद या केंद्र सरकार के आयत नियमों में आए सामान ही बेच पाएगा।

लाइसेंस के लिए पात्र
लाइसेंस लेने के लिए भारत का नागरिक ही पात्र होगा। आवेदनकर्ता की उम्र न्यूनतम 18 वर्ष होनी चाहिए। दुकानदार के नाम पर आधार कार्ड होना अनिवार्य होगा। शहर के बाहर का आधार कार्ड होने पर पार्षद से सत्यापना कराना होगा। शैक्षिक संस्थान से 100 गज की दूरी पर दुकान को लाइसेंस दिया जाएगा। स्ट्रीट वेंडर नीति के अनुसार अस्थाई दुकानदार को भी लाइसेंस दिया जाएगा ।

लाइसेंस पंजीकरण शुल्क
अस्थाई दुकान        200
स्थाई दुकान           1000
थोक विक्रेता           5000
एक साल के लिए पंजीकरण

एक साल बाद
थोक विक्रेता            5000
स्थाई दुकान              200
अस्थाई दुकान            100

 

 

Advertisement

Related posts

मज़दूरों के लिए 1000 बस चलाने के प्रस्ताव पर योगी सरकार ने कांग्रेस से मांगा ब्यौरा

Sayeed Pathan

योगी सरकार का झटका- : यूपी में 16 लाख से ज्यादा कर्मचारी और 11.82 लाख पेंशनरों को मिलने वाले महंगाई और अन्य भत्तों पर रोक

Sayeed Pathan

योगी सरकार युवाओं को जल्द देगी नौकरी, आज की बैठक में तैयार होगा ब्यौरा

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो