अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका ने तालिबान को दिया बड़ा झटका, हाईटेक रॉकेट डिफेंस सहित निष्क्रिय कर दिए सैकडों विमान और हथियार

अमेरिकी सेना ने डेडलाइन खत्म होने के पहले ही अफगानिस्तान से वापसी कर ली है। काबुल से अमेरिका के आखिरी विमान के उड़ान भरने के बाद तालिबान जहां जश्न मना रहा है तो वहीं अमेरिका ने जाते-जाते भी अफगानिस्तान की नई सत्ता को तगड़ा झटका दे दिया है। दरअसल, अमेरिकी सेना ने सोमवार को देश छोड़ने से पहले काबुल एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या में मौजूद विमानों, सशस्त्र वाहनों और यहां तक की हाईटेक रॉकेट डिफेंस सिस्टम तक को डिसेबल कर दिया है। अमेरिकी जनरल ने इसकी जानकारी दी है।

अमेरिका के सेंट्रल कमांड के मुखिया जनरल केनेथ मैकेंजी ने बताया कि हामिद करजई एयरपोर्ट पर मौजूद 73 विमानों को सेना ने डिमिलिट्राइज्ड कर दिया है, जिसका अर्थ है कि अब ये विमान इस्तेमाल नहीं किए जा सकेंगे। उन्होंने कहा, ‘वे विमान अब कभी नहीं उड़ सकेंगे…उन्हें कभी भी कोई भी संचालित नहीं कर सकेगा। निश्चित रूप से वे फिर कभी नहीं उड़ पाएंगे।’

अमेरिका ने भी मंगलवार की समय-सीमा से पहले अपने सैनिकों की वापसी की पुष्टि की है, जिसके साथ ही, इस युद्धग्रस्त देश में करीब 20 साल की अमेरिकी सैन्य मौजूदगी समाप्त हो गयी है।

Advertisement

Related posts

ट्रम्प के सिर पर अरबों का इनाम : जल्द शुरू होगा तीसरा भयानक युद्ध.

Sayeed Pathan

रूस के प्रयास से टल गया विश्वयुद्ध का खतरा, अर्मेनिया-अजरबैजान में बनी सहमति

Sayeed Pathan

पाकिस्तान में अमेरिकी जवानों के ठहरने से पाकिस्तान में खलबली, गरमाई राजनीति

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो