अन्य

बिरला कॉर्पोरेशन लिमिटेड की कंपनी आरसीसीपीएल के मुकुटबन में नए इंटीग्रेटेड सीमेंट प्लांट की शुरुआत

लखनऊ ।  मुकुटबन इंटीग्रेटेड सीमेंट प्लांट के उद्घाटन के साथ ही बिरला कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एमपी बिरला समूह) ने एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल कर ली है। ये बात आज यहां प्लांट के उद्घाटन के मौके पर श्री हर्ष वी लोढ़ा, चेयरमैन, एमपी बिरला समूह, ने कही।

कुल 2,744 करोड़ रुपये के निवेश से स्थापित यह प्लांट कंपनी द्वारा समूह के इतिहास में सबसे बड़ा ग्रीनफील्ड निवेश है। इस प्लांट के शुरू होने के साथ ही समूह का सीमेंट कारोबार सालाना 20 मिलियन टन तक पहुंच जाएगा।
बिरला कॉरपोरेशन लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक आरसीसीपीएल का मुकुटबन प्लांट प्रौद्योगिकी और दक्षता मानकों के मामले में भारत में सबसे एडवांस्ड सीमेंट प्लांट्स में से एक होने जा रहा है।

श्री लोढ़ा ने कहा कि विश्व अर्थव्यवस्था और भारत में सीमेंट उद्योग पर महामारी के प्रभाव को देखते हुए मुकुटबन प्लांट का उद्घाटन एक सराहनीय कदम है। उन्होंने कहा कि “कोविड के कारण पेश आई कई सारी बाधाओं के बावजूद और ऐसी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में इतनी बड़ी परियोजना को पूरा करना कोई आसान उपलब्धि नहीं है।

कोरोना के कारण कई मौकों पर परियोजना स्थल पर कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा, जिसके कारण काम को रोकना भी पड़ा और कोविड से पैदा हुए हालात के कारण परियोजना स्थल से श्रमिकों का पलायन भी हुआ। इसके अलावा, मुझे बताया गया है कि बिना किसी दुर्घटनाओं के साथ 10 मिलियन मानव घंटे तक का निर्माणकार्य और एक भी बड़ी दुर्घटना या किसी श्रमिक की मृत्यु के बिना पूरी परियोजना को पूरा करना, सीमेंट उद्योग में एक अनूठी उपलब्धि है।

यह समूह का चौथा इंटीग्रेटेड सीमेंट यूनिट और क्षमता के हिसाब से महाराष्ट्र का सबसे बड़ा सिंगल लाइन/क्लिन सीमेंट प्लांट होगा। यह 2 गुणा 20 मेगावाट थर्मल कैप्टिव पावर प्लांट द्वारा संचालित होगा, जो पानी की खपत को 90 प्रतिशत तक कम करने के लिए एयर-कूल्ड कंडेनसर (एसीसी) तकनीक पर आधारित है। प्लांट को विशेष रूप से एमपी बिरला सीमेंट परफेक्ट प्लस ब्रांड द्वारा बनाया गया है कंपनी द्वारा कई स्रोतों से अक्षय ऊर्जा (रिन्यूएबल एनर्जी) उत्पन्न करने के लिए और निवेश किया जाएगा। वर्तमान में, रिन्यूएबल एनर्जी बिरला कॉर्पोरेशन की कुल बिजली खपत का लगभग 22 प्रतिशत है।

मुकुटबन प्लांट में भी स्लैग और फ्लाई ऐश की खपत को बढ़ाया जाएगा, जिससे चंद्रपुर में औद्योगिक इकाइयों को लाभ होगा।
अरविंद पाठक, एमडी और सीईओ, ने कहा कि “हम अपने चैनल पार्टनर्स और इंफ्लूएंसर्स को आश्वस्त करते हैं कि हमारी बिक्री, विपणन, तकनीकी सेवाएं और लॉजिस्टिक्स टीम उनका समर्थन करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

डिजिटल और भविष्य के लिए तैयार प्रौद्योगिकी हमारी पहल का आधार होगी। देव बनर्जी, प्रेसिडेंट, सेल्स एंड लॉजिस्टिक्स ने कहा कि “हम अब अपने उपभोक्ताओं को सर्वश्रेष्ठ सीमेंट से बेहतर देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मुकुटबन हमें पर्यावरण की दृष्टि से सस्टेनेबल तौर पर सीमेंट को ग्रीन माध्यमों से बनाने का रास्ता दिखाएगा। परफेक्ट प्लस और चेतक ब्रांड का उत्पादन मुकुटबन में किया जाएगा।

Advertisement

Related posts

मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायतों के निस्तारण में गड़बड़ी पर अधिकारियों के वेतन पर रोक

Sayeed Pathan

शीतलहर के कारण हुई 460 ट्रेनें निरस्त, देर से चल रही हैं कई ट्रेनें

Sayeed Pathan

जिलाधिकारी और एसपी ने समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जन समस्याएं,और महदेवा महोत्सव की तैयारियों का लिया जायज़ा

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!