अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान की सियासत:: आधी रात में क्लीन बोल्ड हो गए इमरान; प्रधानमंत्री के चुनाव के लिए आज दोपहर दो बजे होगा नामांकन

पाकिस्तान में करीब एक महीन से जारी सियासी घमासान फिलहाल थमता नजर आ रहा है। शनिवार-रविवार की दरमियानी रात अविश्वास प्रस्ताव पर हुई वोटिंग में इमरान सरकार गिर गई। कुल 174 सांसदों ने उनके खिलाफ वोट दिया जो बहुमत से 2 ज्यादा है। वोटिंग में इमरान या उनका कोई समर्थक सांसद शामिल नहीं हुआ।

इमरान खान के सत्ता से बेदखल होते ही विपक्षी पार्टियों उनके खिलाफ तीखी बयानबाजी शुरू कर दी है। सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों का संयुक्त मोर्चा बनाने वाले मौलाना फजल उल रहमान ने इमरान खान को मसखरा बताते हुए सत्ता परिवर्तन के लिए पाकिस्तान को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि यह पूरी कौम की कामयाबी है।

पाकिस्तान में सियासी घमासान के बड़े अपडेट्स…

  • प्रधानमंत्री के चुनाव के लिए आज दोपहर दो बजे नामांकन पत्र दाखिल करना होगा। जिसकी 3 बजे जांच की जाएगी।
  • अगले प्रधानमंत्री के लिए 11 अप्रैल यानी कल दोपहर 2 बजे बैठक शुरू होगी।
  • इमरान जिस सीक्रेट लेटर का जिक्र कर रहे थे, उसे लेकर अब इस्लामाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है।
  • इस्लामाबाद में सेना तैनात कर दी गई है। देश का कोई भी नेता या अफसर बिना NOC के मुल्क नहीं छोड़ सकेगा।
  • एक्सपर्ट्स का मानना है कि पूर्व स्पीकर असद कैसर और डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी दोनों पर कोर्ट की अवमानना का केस चलेगा।
  • पाक संसद की कार्यवाही के दौरान इमरान बनीगाला के घर में ही। रात में जनरल बाजवा और ISI चीफ जनरल नदीम अंजुम उनसे मिले।
  • मरियम नवाज ने इमरान पर तंज करते हुए लिखा- पाकिस्तान का बुरा सपना खत्म हुआ। अब पुराने घावों को भरने का वक्त है।
  • पाकिस्तान के इतिहास में इमरान खान ऐसे पहले प्रधानमंत्री है जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाया गया है।

इमरान के करीबी पर सुबह छापेमारी
इमरान के करीबियों पर छापेमारी का दौर भी शुरू हो गया है। PTI का आरोप है कि आज सुबह इमरान खान का सोशल मीडिया देखने वाले अर्सलान खालिद घर छापा मारा गया है।

स्लामाबाद में सेना तैनात, बिना NOC मुल्क छोड़ने पर रोक…
विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने बड़े भाई नवाज को याद किया और इसे पाकिस्तान के लिए नई सुबह बताया। बिलावल भुट्टो ने मुल्क से कहा- आप सभी को पुराना पाकिस्तान मुबारक हो। ये इमरान के नए पाकिस्तन के वादे पर करारा तंज था। अब शहबाज शरीफ की अगुआई में नई सरकार बनेगी। एयरपोर्ट्स को अलर्ट पर रखा गया है।​​​​​​

फर्ज नहीं, दोस्ती बड़ी
सुप्रीम कोर्ट ने ऑर्डर दिया था कि अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग हर कीमत पर शनिवार रात 10 बजे तक होनी चाहिए। लेकिन स्पीकर स्पीकर असद कैसर ने इससे इनकार कर दिया था। उनका कहना था कि मैं इमरान को रुसवा होते नहीं देख सकता।

फौज भी एक्टिव
रात में इमरान की आर्मी चीफ बाजवा और ISI चीफ नदीम अंजुम से मुलाकात सिर्फ 10 मिनट बाद इस्लामाबाद की सड़कों पर फौज की गाड़ियां गश्त करने लगी थी। जिसके बाद माना जा रहा था कि सरकार के साथ सेना में भी बड़ा फेरबदल हो सकता है। बाजवा की जगह पूर्व ISI चीफ जनरल फैज हमीद को नया आर्मी चीफ बनाने की खबरें गर्दिश कर रही थी।

जेल जाएंगे स्पीकर और डिप्टी स्पीकर?
सुप्रीम कोर्ट ने स्पीकर और डिप्टी स्पीकर को यह ऑर्डर दिया था कि उन्हें अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग करानी है। दोनों ही इस्तीफा देकर भाग खड़े हुए। संविधान विशेषज्ञ डॉक्टर नसीम अख्तर ने कहा- कैसर और कासिम ने इस्तीफा भले ही दे दिया हो, लेकिन सुप्रीम कोर्ट इन्हें सजा जरूर देगा। उन पर कोर्ट की अवमानना का केस चलेगा। आर्टिकल 6 के तहत 6 महीने के लिए जेल जाना होगा। ये तभी टल सकता है जब राष्ट्रपति इन्हें माफ कर दें।

आगे क्या संभव
आज विपक्षी दलों के गठबंधन PDM (पाकिस्तान डेमोक्रेटिक फ्रंट) की बैठक होगी। इसमें तीन मुख्य पार्टियां हैं। नवाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग (PML-N), आसिफ अली जरदारी की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) और मौलान फजल-उर-रहमान की जमीयते उलेमा इस्लाम (JUI)। शहबाज शरीफ का प्रधानमंत्री बनना तय है। बिलावल भुट्टो डिप्टी PM बन सकते हैं। मौलाना को खैबर पख्तूनख्वा का CM बनाया जा सकता है। नई सरकार जल्द से जल्द चुनाव कराना चाहेगी। शायद तीन महीने के भीतर। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि विपक्षी गठबंधन एक साथ चुनाव लड़ेगा या फिर बिखर जाएगा। क्योंकि, हर किसी के अपने हित हैं।

इमरान का क्या होगा
ये बड़ा सवाल है। तमाम नेताओं और अफसरों के बिना नॉन ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) हासिल किए देश छोड़ने पर रोक लगा दी गई है। इमरान अब चाहकर भी मुल्क नहीं छोड़ सकते। हालांकि, उनके कई मंत्री और अफसर पहले ही मुल्क छोड़ चुके हैं। मरियम नवाज ने साफ कर दिया है कि इमरान से हर चीज का हिसाब लिया जाएगा। जरदारी का रुख तो मरियम से भी ज्यादा सख्त है। विपक्ष के नेता ख्वाजा आसिफ ने कहा- इमरान को जेल में रहने की आदत नहीं। मुझे तो उनकी अभी से फिक्र हो रही है।

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

अफगानिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री का बड़ा बयान, कहा अफगानिस्तान तक न पहुंचे कश्‍मीर या भारत-चीन विवाद

Sayeed Pathan

तालिबान ने TTP मामले में पाकिस्तान को दिया बड़ा झटका

Sayeed Pathan

अमेजन देगा एक लाख लोगों को नौकरी, वेतन मिलेगा 1100 रुपए प्रति घंटा

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!