उतर प्रदेश राजनीति

अल्पसंख्यक समाज के लोगों ने, मुख्यमंत्री योगी का मनाया जन्मदिन,पौध रोपड़ कर किया उनके स्वस्थ्य जीवन और दीर्घ आयु की कामना

● प्राचीनकाल में हमारा जीवन प्रकृति पर आश्रित था और हम उनके महत्व को समझते थे, तब प्रकृति संतुलन की स्थिति में थी, लेकिन आज हमने अंधाधुंध विकास के नाम पर प्रकृति को असंतुलित कर दिया गया है- समाजसेवी डॉ. अरशद मंसूरी

फर्रुखाबाद सदर : मंसूरी सोसाइटी ऑफ मेडिकल सोशल वर्कर्स ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 50वां जन्मदिन धूमधाम से मनाया। इस दौरान मंसूरी सोसाइटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं भाजपा कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र के नेता डॉ. अरशद मंसूरी ने केक काटकर मुख्यमंत्री के दीर्घायु की कामना कर मिष्ठान वितरण किया। डॉ. अरशद मंसूरी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश के कर्णधार हैं। एक समय था जब प्रदेश में अराजकता का माहौल बना दिया गया था। योगी जी के आने के बाद से बहुत बदल गया है।उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश बन गया हैं! साथ ही पर्यावरण के संरक्षण पर जोर देते हुए पौधरोपण कर प्रकृति को बचाने व जलवायु परिवर्तन को रोकने के लिए अधिक से अधिक मात्रा में पेड़-पौधे लगाने के लिए लोगों को प्रेरित किया।
फर्रुखाबाद जनपद के कायमगंज नगर में स्थित एचओ एकेडमी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 50वें जन्मदिवस व विश्व पर्यावरण दिवस पर मंसूरी सोसाइटी ऑफ मेडिकल सोशल वर्कर्स के तत्वावधान में आयोजित समारोह के दौरान मुख्य अतिथि कायमगंज के उप जिलाधिकारी गौरव शुक्ला ने कहा कि वृक्ष हर प्रकार से हम लोगों के लाभकारी हैं।

इस दिन प्रत्येक व्यक्ति पौधरोपण करें एवं उपहार में भी सबको पौधे भेंट करें। उप जिलाधिकारी ने मंसूरी सोसाइटी के कार्यों की कंठ मुक्त से सराहना कर कहा कि हमारा पर्यावरण प्रकृति का अनमोल उपहार है और इसे हमें अपने और आने वाली पीढ़ी के लिए सहेजकर रखना होगा। विशिष्ट अतिथि कायमगंज रेंज के वन क्षेत्राधिकारी अरुण कुमार अवस्थी ने कहा कि पर्यावरण सुधार में वृक्षारोपण का बहुत बड़ा महत्व है। अब समय आ गया है कि हम सजग हों और पर्यावरण को बचाएं, अन्यथा इसके गंभीर परिणाम होंगे। देश के प्रथम मुस्लिम देहदानी एवं मंसूरी सोसाइटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अरशद मंसूरी ने अतिथियों के साथ

50 पौधे लगाकर कर मुख्यमंत्री के स्वस्थ जीवन एवं दीर्घायु की कामना की। साथ ही कहा कि प्राचीनकाल में हमारा जीवन प्रकृति पर आश्रित था और हम उनके महत्व को समझते थे। तब प्रकृति संतुलन की स्थिति में थी, लेकिन आज हमने अंधाधुंध विकास के नाम पर प्रकृति को असंतुलित कर दिया गया है। इसके कारण पर्यावरण प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, बाढ़, सूखे जैसी प्राकृतिक आपदाओं का सामना हमें करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि आसपास के स्थान को स्वच्छ बनाएं, नदी, तालाब और अन्य जलस्रोतों को दूषित होने से बचाएं। प्लास्टिक का उपयोग न करने का संकल्प लें। इन छोटे-छोटे कदमों से हम निश्चय ही पर्यावरण को स्वच्छ रख पाएंगे।

इस दौरान एकेडमी की छात्राओं ने मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी का मन मोह लिया। डॉ. अरशद मंसूरी ने एसडीएम को अंग वस्त्र पहनाकर व स्मृतिचिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।

प्रधानाचार्य शिवकांत शुक्ला ने आए हुए अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया! कार्यक्रम का संचालन नैंसी भारद्वाज ने किया! इस मौके पर वन दरोगा महेश चंद यादव, राकेश कुमार तिवारी, एलआईयू के उपनिरीक्षक गुलफाम सिंह यादव, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के मण्डल महामंत्री जुबैर मंसूरी, जिला महामंत्री शानू राईन, जिला कार्यकारिणी सदस्य रिजवान मंसूरी,जिला मंत्री आमना मंसूरी, वासिद खां, अलीम खां, नाहिद मंसूरी, दीपांकर मिश्रा, आज़म मंसूरी,शाहिद आदि मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

पिछड़ा वर्ग बेरोजगार युवक/युवतियों के लिये निःशुल्क ‘‘ओ’’ लेवल एवं सी.सी.सी,कम्प्यूटर प्रशिक्षण, 12वीं पास 23 अगस्त 2020 तक यहाँ करें आवेदन

Sayeed Pathan

लखनऊ पूर्वी विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी मनोज तिवारी ने क्षेत्र में किया तूफानी दौरा

Sayeed Pathan

मायावती ने जातिवाद की सियासत को और हवा देने की रणनीति पर बढ़ाया कदम

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!