टॉप न्यूज़ महाराष्ट्र मुंबई राजनीति

फ्लोर टेस्ट से पहले सीएम उद्धव ने दिया इस्तीफा: CM की कुर्सी के साथ विधान परिषद की सदस्यता भी छोड़ी; खुद ही ड्राइव कर राजभवन निकले उद्धव

मुंबई । महाराष्ट्र का राजनीतिक संकट अब आखिरी पड़ाव पर पहुंच गया है। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार रात शिवसेना की दलीलों को खारिज करते हुए गुरुवार को ही फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दे दिया। इसके कुछ देर बाद ही सीएम उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव करते हुए इस्तीफे का ऐलान कर दिया।
रात करीब सवा 11 बजे उद्धव ठाकरे इस्तीफा देने खुद ही ड्राइव कर राजभवन के लिए निकले। उनके साथ कार में दोनों बेटे आदित्य और तेजस ठाकरे भी राजभवन के लिए निकले। इधर, बागी विधायक भी देर शाम गोवा पहुंच गए। इसके बाद बागी गुट के नेता एकनाथ शिंदे ने भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से फोन पर बात की।
उद्धव ने शिंदे गुट के गिले-शिकवों पर अपनी बात रखी और कहा कि आपको अपनी बात ठीक तरह से रखनी चाहिए थी। उद्धव ने कहा कि जिनसे धोखे की आशंका थी वे साथ रहे। उन्होंने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चीफ शरद पवार को धन्यवाद कहा।

भाजपा खेमे में जश्न का माहौल
इधर, उद्धव के इस्तीफे के ऐलान के बाद भाजपा विधायकों में जश्न का माहौल है। ताज होटल में भाजपा विधायकों की बैठक में ‘वंदे मातरम’ के नारे लगे और कई विधायकों ने देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाकर महाविकास अघाड़ी सरकार गिरने का जश्न मनाया।
बैठक खत्म होने के बाद फडणवीस होटल से निकल गए। उन्होंने कहा कि वे हर मुद्दे पर गुरुवार को बात करेंगे। सूत्रों के मुताबिक एकनाथ शिंदे से उनकी फोन पर बातचीत हुई है। सरकार बनाने को लेकर दोनों नेताओं के बीच जल्द मुलाकात हो सकती है।

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाते प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल।
पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाते प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल।

 

भाजपा ने दिया शिंदे गुट को डिप्टी सीएम और मंत्री पदों का ऑफर
सूत्रों के मुताबिक, शिंदे गुट और भाजपा के बीच सरकार बनाने पर मंथन भी चल रहा है। भाजपा ने शिंदे गुट को 8 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्रियों का ऑफर दिया है। सूत्रों के मुताबिक, डिप्टी CM के लिए एकनाथ शिंदे का नाम रखा गया है। गुलाबराव पाटिल, संभुराज देशाई, संजय शिरसाट, दीपक केसरकर, उदय सामंत को मंत्री बनाया जा सकता है।
बागी विधायक गोवा पहुंचे
बागी विधायकों का कुनबा बुधवार देर रात गोवा पहुंच गया। वे शाम को ही गुवाहाटी से चार्टर्ड प्लेन से गोवा निकले थे। वे रेडिसन ब्लू होटल से चार चार्टर्ड बसों से एयरपोर्ट निकले थे और रास्ते में उन्होंने विक्ट्री साइन भी दिखाया। एकनाथ शिंदे सुबह सभी विधायकों के साथ कामाख्या देवी मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे।

बताया जा रहा है कि इन विधायकों को गुरुवार को फ्लोर टेस्ट में शामिल होने के लिए मुंबई पहुंचना था, लेकिन अब उनका कार्यक्रम कैंसल हो गया है। इधर, बागी विधायकों के मुंबई पहुंचने पर उनकी सुरक्षा के लिए CRPF के करीब 2 हजार जवानों को स्पेशल फ्लाइट से मुंबई भेजा गया है।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने अपने सोशल मीडिया पर ये कार्टून शेयर किया है। उन्होंने लिखा- फायर टेस्ट..फायर टेस्ट। अग्निपरीक्षा की घड़ी है। ये दिन भी निकल जाएंगे।
शिवसेना सांसद संजय राउत ने अपने सोशल मीडिया पर ये कार्टून शेयर किया है। उन्होंने लिखा- फायर टेस्ट..फायर टेस्ट। अग्निपरीक्षा की घड़ी है। ये दिन भी निकल जाएंगे।

 

महाराष्ट्र सियासत के बड़े अपडेट्स…

  • इस्तीफे से पहले उद्धव ने मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय पांडे की जगह विवेक फणसलकर को नया कमिश्नर बना दिया। पांडे के रिटायरमेंट के बाद नई नियुक्ति की गई है। इसके अलावा औरंगाबाद शहर के म्यूनिसिपल कमिश्नर को भी बदला गया है। सांगली के जिलाधिकारी डॉ. अभिजीत चौधरी को औरंगाबाद का म्यूनिसिपल कमिश्नर बनाया गया है।
  • उद्धव कैबिनेट ने औरंगाबाद जिले का नाम बदलकर संभाजी नगर और उस्मानाबाद का नाम धाराशिव कर दिया है। इसके अलावा नवी मुंबई एयरपोर्ट का नाम डीवाई पाटिल एयरपोर्ट रखा गया है। सपा ने नाम बदलने का विरोध किया है।
  • शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बीच पुणे जिले में शिवसेना को बड़ा झटका लगा है। पुरंदर के पूर्व शिवसेना विधायक और मंत्री रह चुके विजय शिवतारे ने एकनाथ शिंदे गुट में शामिल होने का ऐलान किया है। संजय राउत ने बागियों की तुलना औरंगजेब से की है। उन्होंने उद्धव ठाकरे के अब तक के काम की तारीफ भी की।

कार्टूनिस्ट मंसूर नकवी की नजर से देखिए महाराष्ट्र का सियासी संकट…

फ्लोर टेस्ट पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा था?

सुप्रीम कोर्ट में बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई के दौरान शिवसेना के वकील देवदत कामत ने फ्लोर टेस्ट का जिक्र किया था, जिस पर कोर्ट ने कहा इस पर हम कुछ नहीं कह रहे हैं। अगर, ऐसा कुछ हुआ तो आप कोर्ट आ सकते हैं। शिंदे ने 16 विधायकों को सदस्यता रद्द की नोटिस और डिप्टी स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे को लेकर याचिका दाखिल की है।

Advertisement

Related posts

एंटीबायोटिक और जिंक सप्लीमेंट का ज्यादा प्रयोग है ब्लैक फंगस का कारण ? जानिए एक्सपर्ट की राय

Sayeed Pathan

शरद पवार बन सकते हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष,सोनियां देंगी इस्तीफा !

Sayeed Pathan

देश में बढ़ रहे कोरोना मरीज के लिए सिप्ला ने पेश की दवा सिप्रमी

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!