महाराष्ट्र राजनीति

महाराष्ट्र के बाद अब गोवा की राजनीति में भूचाल, कांग्रेस के 09 विधायकों के भाजपा में जाने की तैयारी

गोवा । महाराष्ट्र के बाद अब गोवा की राजनीति में उथल-पुथल होने के आसार हैं। हालांकि यहां सरकार नहीं गिर रही, बल्कि विपक्षी पार्टी कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के भाजपा में जाने की अटकलें हैं। सूत्रों के मुताबिक राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता दिगंबर कामत समेत 9 विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो सकते हैं। हालांकि कांग्रेस ने इसे अफवाह बताया है।

गोवा में कांग्रेस के 11 विधायक हैं। सूत्रों के मुताबिक 9 विधायक कभी भी भाजपा में शामिल होने की घोषणा कर सकते हैं। इनमें से 1 या 2 को प्रमोद सावंत सरकार में मंत्री भी बनाया जा सकता है। शनिवार को इन विधायकों की गोवा के एक होटल में मीटिंग हो चुकी है। जगह को सीक्रेट रखा गया है।

कांग्रेस बोली- सभी विधायक एकजुट हैं
कांग्रेस ने इन खबरों का खंडन किया है। गोवा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गिरीश चोडनकर ने भास्कर को कन्फर्म किया कि हमारा एक भी विधायक भाजपा में शामिल नहीं होने जा रहा। ये सिर्फ अफवाहें हैं। शनिवार को जो विधायक होटल में इकट्‌ठा हुए थे, वे सोमवार से शुरू हो रहे सत्र की चर्चा के लिए जुटे थे।

नाराज विधायकों को मनाने में जुटी कांग्रेस
सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस में नाराज विधायकों को मनाने की कोशिश जारी है। AICC गोवा प्रभारी दिनेश गुंडू राव विधायकों को मनाने में जुटे हुए हैं। हालांकि गुंडू राव ने कहा कि कल हमने गोवा में CLP की बैठक की थी। पार्टी के सभी विधायक एक साथ हैं। BJP हमारे विधायकों को डराने-धमकाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने इस बात का खंडन किया है कि कांग्रेस के कुछ विधायक दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं।

कांग्रेस नेता दिनेश गुंडू राव ने विधायकों के नाराज होने की बात का खंडन किया है।
कांग्रेस नेता दिनेश गुंडू राव ने विधायकों के नाराज होने की बात का खंडन किया है।

 

2019 में भी कई विधायकों ने छोड़ी थी कांग्रेस
इससे पहले 2019 में भी कांग्रेस के 15 में से 10 विधायक BJP में शामिल हुए थे। इसमें नेता विपक्ष चंद्रकांत कावलेकर भी शामिल थे। गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने कांग्रेस के सभी बागी विधायकों को BJP में शामिल करवाया था। कांग्रेस से जो विधायक टूट सकते हैं, उनमें दिगंबर कामत, माइकल लोबो, संकल्प अमोनकर, केदार नायक और राजेश फलदेसाई का नाम सामने आ रहा है।

BJP जॉइन करते ही चंद्रकांत कावलेकर को डिप्टी सीएम बनाया गया था।
BJP जॉइन करते ही चंद्रकांत कावलेकर को डिप्टी सीएम बनाया गया था।

बहुमत के लिए 1 सीट से दूर है BJP
गोवा विधानसभा में 40 सीटें हैं। कांग्रेस के पास 11 और भाजपा के पास 20 विधायक हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के 2, निर्दलीय 3 विधायक हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी गोवा जा रहे हैं।

गोवा विधानसभा चुनाव 2022 में राज्य में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला था। BJP को राज्य की कुल 40 में से 20 सीटें मिली थीं, जबकि बहुमत का आंकड़ा 21 है। इस तरह गोवा में बीजेपी पूर्ण बहुमत से महज एक कदम दूर रह गई। हालांकि भाजपा नेताओं ने निर्दलीय के सहयोग से राज्य में सरकार बना ली है।

प्रमोद सावंत लगातार दूसरी बार गोवा के मुख्यमंत्री बने हैं।
प्रमोद सावंत लगातार दूसरी बार गोवा के मुख्यमंत्री बने हैं।

 

दोनों डिप्टी सीएम हारे थे चुनाव

पिछले चुनाव में गोवा के दोनों डिप्टी सीएम कांग्रेस के उम्मीदवार से चुनाव हार गए थे। डिप्टी सीएम मनोहर अजगांवकर को विपक्ष के नेता व कांग्रेस उम्मीदवार दिगंबर कामत ने मडगांव विधानसभा सीट से करीब 6,000 मतों से हराया था।

दूसरे डिप्टी सीएम चंद्रकांत कावलेकर क्यूपेम सीट से कांग्रेस प्रत्याशी अल्टोन डी’कोस्टा से हार गए थे। वह 2017 में कांग्रेस के टिकट पर यहां से जीते थे। इसके बाद वह 9 कांग्रेस विधायकों के साथ भाजपा में शामिल हुए थे और उन्हें उप मुख्यमंत्री का पद दिया गया था। पहली बार इस सीट से चुनाव लड़ने वाले कोस्टा ने कावलेकर को 3,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया था।

Advertisement

Related posts

महिलाओं को सुरक्षा देने में योगी सरकार विफल, अपराधियों के मन से कानून का डर समाप्त-: सुमित सचान

Sayeed Pathan

बसपा प्रत्याशी आफताब आलम की पचपोखरी जनसभा में उमड़ा जनसैलाब क्षेत्र की जनता से मिल रहा अपार समर्थन::आफ़ताब आलम

Sayeed Pathan

सुशांत केस : क्वारंटाइन होने के डर से मुंबई में ‘अंडरग्राउंड’ हुई पटना पुलिस

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!