अन्य

देश के इन राज्यों में होगी भारी बारिश, मौसम विभाग ने किया एलर्ट

Weather Alert: मानसून ने पूरे भारत में रफ्तार पकड़ ली है और इन दिनों देश के कई इलाकों में लगातार भारी बारिश हो रही है। इस बारिश की वजह से कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं तो कई राज्यों में किसानों को राहत मिली है। इस बीच मौसम विभाग (IMD) ने जुलाई की तरह अगस्त और सितंबर में भी भारी बारिश की संभावना जताई है।

मौसम विभाग आज जम्मू-कश्मीर, हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, अंडमान समेत कई इलाकों में बारिश का अलर्ट जारी किया है।

इसी कड़ी में आज भी दिल्ली-एनसीआर में बारिश के आसार हैं। एमआईडी के मुताबिक दिल्ली में अगले दो से तीन दिनों तक बारि होने की संभावना है क्योंकि मानसून की ट्रफ हिमालय की तलहटी से नीचे जा रही है।

एमआई़ी ने हिमाचल प्रदेश में तीन दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। हिमाचल प्रदेश में 5 से 7 अगस्त तक के लिए भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं 8 और 9 अगस्त को हल्की बारिश की संभावना है। स्थानीय प्रशासन ने भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए पर्यटकों और लोगों से नदी-नालों से दूर रहने की अपील की है। भारी बारिश की स्थिति में पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन हो सकता है। ऐसे में संबंधित विभागों की ओर से समय-समय पर जारी एडवाइजरी का पालन करने के लिए कहा गया है।

आज भी जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में बारिश का दौर जारी रहने के आसार हैं। श्रीनगर में जून-जुलाई में औसत से 107 फीसद अधिक वर्षा हुई जो 122 सालों में सर्वाधिक है। बताया जा रहा है कि श्रीनगर में कम से कम 1901 के बाद इन 61 दिनों के दौरान सबसे अधिक वर्षा हुई।

स्काईमेट वेदर’ में मौसम विज्ञान एवं जलवायु परिवर्तन प्रभाग के उपाध्यक्ष महेश पलावत ने बताया कि ‘मानसून ट्रफ’ (कम दबाव वाला क्षेत्र) हिमालय की तलहटी से मध्य भारत की ओर बढ़ रहा है। जिसके कारण अगले दो-तीन दिनों तक में दिल्ली में बारिश होने की संभावना है।

निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर (Skymet Weather) स्काईमेट वेदर के मुताबिक, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, शेष उत्तर पूर्व भारत, बिहार के शेष हिस्सों, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, पूर्वी राजस्थान, रायलसीमा, कोंकण और गोवा और मध्य महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। दिल्ली, गुजरात, गंगीय पश्चिम बंगाल, जम्मू कश्मीर और लद्दाख में पश्चिमी राजस्थान में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश संभव है।

गौरतलब है कि एक सप्ताह में सावन विदा होने वाला है लेकिन कई इलाकों में अभी भी लोगों के मुसलाधार बारिश का इंतजार है। हालांकि, भादव महीने में भी बारिश होती है। वैसे भी मौसम विभाग ने इस बार अगस्त और सितंबर महीने में बारिश की संभावना जताई है। यह पहला मौका नहीं है जब अगस्त और सितंबर में तेज बारिश की बात कही गई है। इससे पहले भी अगस्त और सितंबर महीने में तेज बारिश होती रही है।

Advertisement

Related posts

एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के मद्देनजर, गाजियाबाद के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित

Sayeed Pathan

पिता से वसीयत में मिली संपत्ति पर अगली पीढ़ी नही जता सकती हक़-: सुप्रीम कोर्ट

Sayeed Pathan

जुआ खेलते 3 जुआरियो को,फतेहपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!