उतर प्रदेशधर्म/आस्थाप्रयागराज

महंत नरेंद्र गिरी के कमरे से मिले 3 करोड़ रुपए कैश, गहने और कुछ जमीन के कागजात सहित, नोट गिनने वाली मशीन बरामद

Mahant Narendra Giri Death: प्रयागराज में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जांच कर रही सीबीआई टीम गुरुवार (15 सितंबर 2022) को बाघम्बरी मठ पहुंची। इस दौरान महंत के सील किए हुए कमरे को सीबीआई की टीम, पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में खोला गया। सूत्रों के मुताबिक, महंत के कमरे से 3 करोड़ रुपए कैश, गहने और कुछ जमीन के कागजात बरामद हुए।

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के बाद जांच में तीन करोड़ रुपयों से भरे दो बैग उस पलंग में बने दराज में पाए गए थे, जिस पर महंत सोते थे। इस कक्ष को महंत की मौत के चार दिन दिन बाद सीबीआई ने पांच लोगों की मौजूदगी में सील कर दिया था।

कैश गिनने के लिए बैंक अधिकारी को बुलाया: गुरुवार को सीबीआई के अधिकारी जांच के लिए लगभग पूरा दिन बाघम्बरी मठ में थे। इस दौरान वहां मिली करोड़ों की नगदी गिनने के लिए बैंक अधिकारी को बुलाया गया था। जमीन के कागजों की जांच के लिये एक सब रजिस्ट्रार को भी बाद में बुलाया गया था। वहां मौजूद सामानों की लिस्ट बनाने के बाद उसे महंत बलवीर गिरी को सौंप दिया गया। नरेंद्र गिरी की माला और बाजूबंद भी महंत बलवीर गिरी को दिया गया। इसके साथ ही कमरे की चाबी भी महंत को सौंप दी गयी। सीबीआई ने इस कार्रवाई की वीडियो रिकार्डिंग भी करायी है।

सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई टीम के साथ पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में महंत के शयन कक्ष को खोला गया। सीबीआई को महंत नरेंद्र गिरी के सीलबंद कमरे से लगभग तीन करोड़ नकद, जेवरात, जमीन के कागजात, बलवीर गिरी को की गई वसीयत, महंत की आभूषण माला मिले जिन्हें महंत बलवीर गिरि को सौंप दिया गया।

सील कर दिया गया था कमरा: महंत नरेंद्र गिरी का कमरा मठ के मेन गेट के पास स्थित बिल्डिंग की पहली मंजिल पर स्थित है। महंत की संदिग्ध मौत के बाद प्रयागराज पुलिस ने मठ के दो कमरों को सील किया था। एक वो कमरा, जिसमें महंत नरेंद्र गिरी का शव फंदे से लटकता हुआ पाया गया था और दूसरा कमरा, जिसमें महंत नरेंद्र गिरी रहते थे।

 

Sabhar jansatta

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

सहारनपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 01 शातिर अभियुक्त को किया गिरफ्तार, कब्जे से 336 बोतल अवैध देशी शराब, 270 पव्वे देशी शराब व 01 नाजायज चाकू बरामद

Sayeed Pathan

बलात्कारियों और अपराधियों के लिए शरण स्थली बना उत्तर प्रदेश: अजय कुमार लल्लू

Sayeed Pathan

विश्व थैलेसीमियां दिवस::क्या है थैलेसीमियां,,लक्षण सहित जानिए इससे ग्रसित होने के कारण और इससे बचने के उपाय

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!