उतर प्रदेशसंतकबीरनगर

पालिका एवं नगर निकायों में प्राविधान के तहत निर्धारित पिछड़ा वर्ग प्रतिनिधित्व की गई समीक्षा

सन्त कबीर नगर ।  उ0प्र0 राज्य स्थानीय निकाय समर्पित पिछड़ा वर्ग  आयोग के अध्यक्ष न्यायामूर्ति राम अवतार सिंह की अध्यक्षता में जनपद के नगर पालिका एवं नगर निकायों में प्राविधान के तहत निर्धारित पिछड़ा वर्ग प्रतिनिधित्व की समीक्षा एवं स्थानीय प्रतिनिधियों का मत/फीडबैक प्राप्त करने सम्बधी बैठक विकास भवन सभागार में आयोजित हुई। बैठक में पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य संतोष कुमार विश्वकर्मा, महेन्द्र कुमार एवं बृजेश कुमार सोनी उपस्थित रहें।

बैठक में आयोग के अध्यक्ष राम अवतार सिंह ने नगर पालिका एवं नगर निकायों से आये हुए जन प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए आयोग के उद्देश्य एवं कार्य क्षेत्र को विस्तार से बताते हुए कहा कि 28 दिसम्बर 2022 को इस आयोग का गठन किया गया। उन्होंने कहा कि आयोग का मुख्य उद्देश्य स्थानीय जन प्रतिनिधियों के मतो एवं फीड-बैक के आधार पर यह समीक्षा करना है कि पिछड़ा वर्ग हेतु निर्धारित 27 प्रतिशत आरक्षण प्राप्त हो रहा अथवा नही और ओबीसी की राजनैतिक भागीदारी कितनी है तथा राज्य नगरीय निकायों में पिछड़ेपन की प्रवृत्ति और उसके प्रभाव का अध्ययन करना है।

बैठक में अध्यक्ष सहित आयोग के सभी सदस्यों ने नगर पालिका खलीलाबाद सहित सभी नगर निकायों के जन प्रतिनिधियों/सभासदों से एक-एक कर फीड बैक और उनका पक्ष जाना तथा आवश्यकतानुसार सम्बंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश भी दिये।  अध्यक्ष ने कहा कि जनपद में पिछड़ा वर्ग का प्रतिनिधित्व संतोषजनक है।

बैठक के दौरान उपस्थित लोगो से निर्धारित प्रारूप पर प्रश्नावली भी भरवाई गयी इसका उद्देश्य मुख्य रूप से अन्य पिछड़े वर्ग के लोगो की जनसंख्या के अनुपात में राजनीतिक प्रतिनिधित्व का आकलन करना है। बैठक में सम्बंधित नगर पालिक व नगर पंचायतों के अधिशाषी अधिकारी ने पिछड़ी जाति के 27 प्रतिशत के आरक्षण एवं अन्य जानकारी से आयोग को अवगत कराया। बैठक में जन प्रतिनिधियों द्वारा आरक्षण में रोटेशन सम्बंधी सवालो पर अध्यक्ष ने जिलाधिकारी प्रेम रंजन सिंह को इस संबंध में स्थानीय जन प्रतिनिधियों के साथ अलग से बैठक करते हुए नियमानुसार सुधार करने को कहा गया।

उन्होंने किसी भी अन्य समस्या अथवा जानकारी की दशा में जिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी से सम्पर्क करने को कहा। जिलाधिकारी प्रेम रंजन सिंह ने आरक्षण में रोटेशन अथवा सर्वे आदि से सम्बंधित बिन्दुओं पर उठाये गये प्रश्नों पर सभी को आश्वस्त करते हुए कहा कि रैपिड सर्वे का कार्य पुनः किया जाएगा और नगर पालिका एवं नगर निकायों में आरक्षण हेतु निर्धारित प्राविधान के अनुसार ही सूची तैयार की जाएगी।
जिलाधिकारी प्रेम रंजन सिंह ने अध्यक्ष सहित आयोग के सभी सदस्यगण को आश्वसत किया कि आपके द्वारा दिये गये निर्देश/सुझावों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने आयोग के अध्यक्ष सहित सभी सदस्यगण एवं जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी संत कुमार, जिला विकास अधिकारी सुदामा प्रसाद, उप जिलाधिकारी सदर अजय त्रिपाठी, उप जिलाधिकारी नवीन कुमार श्रीवास्तव, अपर उप जिलाधिकारी रमेश चन्द्र, पूर्व अध्यक्ष नगर पंचायत मगहर संगीता वर्मा, पूर्व अध्यक्ष नगर पंचायत हरिहरपुर जितेन्द्र कन्नौजिया, अधिशाषी अधिकारी नगर पंचायत मेंहदावल संदीप कुमार सरोज, जिला समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र कुमार, सूचना अधिकारी सुरेश कुमार सरोज, ओएसडी बलदाऊ शर्मा सहित नगर पालिका एवं नगर निकायों के सम्मानित जनप्रतिनिधि, सभासद आदि उपस्थित रहे।

 

इस पोस्ट से अगर किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया 24 घंटे के अंदर Email-missionsandesh.skn@gmail.com पर अपनी आपत्ति दर्ज कराएं जिससे खबर/पोस्ट/कंटेंट को हटाया या सुधार किया जा सके, इसके बाद संपादक/रिपोर्टर की कोई जिम्मेदारी नहीं होग

Related posts

संतकबीरनगर जिले में धूमधाम से मनाई जाएगी महर्षि बाल्मीकि जयंती-: सीडीओ

Sayeed Pathan

किसान कल्याण मिशन के अंतर्गत, जनपद में बृहद किसान मेला/प्रदर्शनी एवं गोष्ठी का हुआ आयोजन, सैकड़ो किसान विभिन्न जानकारियों से हुए लाभान्वित

Sayeed Pathan

हाथरस कांड: सीबीआई ने आरोपी लवकुश के घर मारा छापा, “खून’ से सने कपड़े मिले”

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!