Advertisement
अन्यउतर प्रदेशलखनऊ

मुख्य सचिव ने नशीले पदार्थों की अवैध खेती/तस्करी और सेवन पर प्रतिबंध के लिए दिए आवश्यक निर्देश

  • मुख्य सचिव की अध्यक्षता में नार्को की राज्य स्तरीय समन्वय समिति की तृतीय बैठक संपन्न।

लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में नार्को की राज्य स्तरीय समिति की तृतीय बैठक आयोजित हुई।
अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि नशीले पदार्थों की अवैध खेती व तस्करी रोकने पर विशेष ध्यान दिया जाये। सीमा सुरक्षा बल (बल) से समन्वय कर सीमा क्षेत्रों पर विशेष सतर्कता बरती जाये। नशीले पदार्थों व दवाओं के सेवन करने वाले व्यक्तियों को उपचार हेतु पुनर्वास व नशा मुक्ति केन्द्र्र भेजा जाये और समय-समय पर अधिकारियों द्वारा इन केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण भी किया जाये।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक जनपद के अफीम पोस्त की फसल का प्रत्येक वर्ष अनिवार्य रुप से सैटेलाइट मैपिंग की जाए। संवेदनशील क्षेत्रों में ड्रोन के माध्यम से निरन्तर निगरानी रखी जाए।

Advertisement

उन्होंने नशीले दवाओं के सेवन एवं दुरुपयोग को रोकने के लिए 25 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर तक विशेष जागरूकता अभियान चलाने का सुझाव दिया। अभियान के दौरान शिक्षण संस्थानों व विद्यालयों में नशीले दवाओं के सेवन एवं दुरुपयोग को रोकने के लिए “जीवन को हां, ड्रग्स को ना’ संबंधी ई-शपथ दिलायी जाये। नुक्कड़ सभाओं, समाचार पत्र, सिनेमा घरों व टेलीविजन आदि विभिन्न प्रचार माध्यमों से भी नशा विरोधी जागरूकता का प्रचार-प्रसार किया जाये।

बैठक में बताया गया एंटी-नार्कोटिक्स टास्क फोर्स (एएनटीएफ) द्वारा गठन के पश्चात 14 प्रकरणों में 28 अभियुक्तों की गिरफ्तारी तथा लगभग 15.63 करोड़ रुपये के मूल्य की कुल 966.100 किलो मादक पदार्थों की बरामदगी की गयी है। वर्ष 2022 में पुलिस द्वारा 12194 अभियोग दर्ज कर 13466 अभियुक्तों की गिरफ्तारी तथा 87143 किलोग्राम मादक पदार्थों की बरामदगी की गयी। फसली वर्ष 2021-2022 की समाप्ति पर 1420 कृषको द्वारा 92.4252 हेक्टेयर क्षेत्रफल की भूमि पर विनष्टीकरण संयुक्त टीम की निगरानी में सम्पादित किया जा चुका है ।

Advertisement

एएनटीएफ व जिला पुलिस द्वारा 03 प्रकरणों में 168.5 किलोग्राम मादक पदार्थों की बरामदगी तथा एसीबी व एसटीएफ द्वारा 07 प्रकरणों में 2938 किलोग्राम मादक पदार्थों की बरामदगी की गयी है।

राज्य में लखनऊ क्षेत्र में 05, प्रयागराज क्षेत्र में 02, वाराणसी क्षेत्र में 05, मुरादाबाद क्षेत्र में 02, मेरठ क्षेत्र में 06, आगरा व गोरखपुर क्षेत्र में 01-01 कुल 22 पुनर्वास/नशा मुक्ति केन्द्र क्रियाशील है।

Advertisement

बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी,अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर0 भूसरेड्डी, एडीजी अपराध एमके बशाल, सचिव गृह बी0डी0पॉलसन सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

Advertisement

Related posts

सहारनपुर पुलिस ने 01 शातिर गोकश को किया गिरफ्तार, कब्जे से 03 ज़िन्दा गोवंश, 01 पिकअप गाडी, 01 कुल्हाडी, 02 नाजायज छुरी, 01 लकडी का गुटका व 04 अदद रस्सी बरामद

Sayeed Pathan

बीएसए संतकबीरनगर ने विद्यालय निरीक्षण कर, हर घर तिरंगा के लिए शिक्षक/शिक्षिकाओं तथा बच्चों को किया जागरूक

Sayeed Pathan

देवरिया जिले के इस गांव में 6 लोगों की हत्या से सनसनी, मौके पर पुलिस फोर्स तैनात

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!