Advertisement
दिल्ली एन सी आर

जी20 के आयोजन में नोएडा प्राधिकरण ने खर्च किए 110 करोड़, अभी भी अधूरे पड़े हैं कार्य

नोएडा। जी20 को लेकर सभी प्राधिकरण को निर्देश दिए गए थे कि वह अपने इलाके में सुंदरीकरण का काम कराएं। लेकिन, नोएडा अथॉरिटी के कई काम ऐसे हैं जो अभी भी अधूरे पड़े हुए हैं, जिनकी समीक्षा बैठक हुई। बैठक में तय किया गया कि जी20 के बाद अधूरे पड़े कामों की तैयारी को लेकर एक बार फिर समीक्षा बैठक होगी और कार्रवाई की जाएगी।

जी20 सम्मेलन को लेकर शहर को आकर्षक और खूबसूरत बनाने के लिए प्राधिकरण ने 110 करोड़ रुपए खर्च कर दिए। लेकिन, आयोजन के दिन तक भी अधिकारी व कर्मचारी काम पूरा नहीं करा सके। जबकि, प्राधिकरण ने इस कार्य के लिए अहम जिम्मेदारी उद्यान विभाग, विद्युत यांत्रिकी व सिविल विभाग को सौंपी थी।

Advertisement

शनिवार से दिल्ली में जी20 का आयोजन शुरू होगा, लेकिन, नोएडा में आज भी तमाम कार्य अधूरे हैं। हालांकि, ग्रेटर नोएडा में होने वाले आयोजन को रद्द कर दिया गया है।

नोएडा प्राधिकरण के एसीईओ प्रभाष कुमार ने बताया कि विभागाध्यक्ष की ओर से पूरे किए गए कार्यों की अब सूची ली जाएगी कि कौन-कौन से काम आवंटित कराया गया था, कौन सा पूरा कराया गया है, उसका निरीक्षण होगा, उसके बाद जो भी इसमें दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

Advertisement

डीएनडी से लेकर रजनीगंधा लूप तक न सड़क दुरुस्त हुई, न पेंटिंग पूरी हो सकी, न ही बिजली का काम ठीक से हुआ। नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे में जिस तरह से फ्लावर बेड बनाए जाने थे, फूल वाले पौधों को लगाया जाना था, फाउंटेन तैयार कर वहां पर लाइटिंग की व्यवस्था होनी थी, वह कार्य भी अधूरा है।

चिल्ला से महामाया फ्लाईओवर तक सड़क किनारे जी20 की रिंग बन रही थी, जो अभी भी बन ही रही है। आयोजन खत्म होने के बाद भी बनती रहेगी।

Advertisement

सेक्टर-18 बाजार को कनॉट प्लेस बनाने की बात कहकर विद्युत यांत्रिकी विभाग की ओर इस प्रकार से सजाने के लिए कहा गया था, जिसमें फुटपाथ पर नए पोल लगाकर लाइटिंग व्यवस्था करनी थी।

साथ ही उसी पोल में प्रोजेक्टर लाइट लगानी थी, जिसके जरिए दुकान की दीवार और फुटपाथ को रात के समय आकर्षित दिखाया जा सके। लेकिन, यहां भी काम आधा अधूरा किया गया, तमाम पोल के बेस बनाकर छोड़ दिया गया। लाइट, पोल व प्रोजेक्टर लाइट लगाना तो दूर की बात है।

Advertisement

सेक्टर-60, 94, 18, 32-33 अंडर पास में पेंटिंग का काम अब भी चल रहा है। यहां पर अंडर पास में विद्युत यांत्रिकी विभाग की ओर से इस प्रकार की लाइटिंग करानी थी कि आने-जाने वाले वाहन जब गुजरे तो लाइट पड़ने पर सेंटर वर्ज में जी20 अलग से नजर आए, अंडर पास की छत का नजारा अंतरिक्ष जैसा हो, लेकिन यह कार्य पूरा नहीं हुआ।

सेक्टर-62 अंडरपास में काम तक शुरू नहीं हो पाया। पूरे शहर में सड़कें खस्ताहाल हैं, जगह-जगह जानलेवा गड्ढे गाड़ियों को क्षतिग्रस्त करने के साथ ही रफ्तार पर भी ब्रेक लगा रहे हैं।

Advertisement

Related posts

न्यूज़ एंकर सुधीर चौधरी ने ज़ी न्यूज़ को कह दिया अलविदा , सोशल मीडिया में कई तरह के लगने लगे कयास

Sayeed Pathan

बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी, भूमि पूजन से पहले ओवैसी का ट्वीट

Sayeed Pathan

बिपिन रावत बने देश के पहले CDS, सेना की ताकत में होगा इजाफा

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!