Advertisement
उतर प्रदेशटॉप न्यूज़दिल्ली एन सी आर

डीएसपी शेष्ठा ठाकुर हुईं धोखे का शिकार,पति ने आईआरएस बताकर की थी शादी

गाज़ियाबाद/ शामली- उत्तर प्रदेश के जनपद शामली में डीएसपी के पद पर तैनात श्रेष्ठा ठाकुर एक बड़े धोखे का शिकार हुईं हैं। उनका पति बेहद शातिर और धोखेबाज निकला है, जिससे साल 2018 में श्रेष्ठा ठाकुर की शादी हुई थी। उस समय पति से पहचान ऑनलाइन मेट्रोमेनियल साइट पर हुई थी। पति ने खुद को 2008 बैच का IRS अफसर बताया था। झारखंड की राजधानी रांची में बतौर डिप्टी कमिश्नर तैनात होना बताया था जबकि यह फर्जी निकला।  पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया है।

शामली के थाना भवन में सीओ के पद पर तैनात श्रेष्ठा ठाकुर ने गाजियाबाद के कौशांबी थाने में अपने पति और उसके परिवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है कि उनके पति रोहित राज ने ना सिर्फ शादी के समय उन्हें धोखा दिया बल्कि शादी के बाद भी उनके नाम से अब तक फर्जीवाड़ा करता रहा है। यही नहीं, श्रेष्ठा ठाकुर के नाम का गलत इस्तेमाल कर दूसरों से भी फर्जीवाड़ा करने लगा। जिस वजह से 3 साल पहले ही श्रेष्ठा ठाकुर ने पति रोहित राज से तलाक ले लिया था लेकिन अब वो धमकी दिलाने लगा था। जिस वजह से उन्होंने अब एफआईआर कराई।  अब आरोपी रोहित राज को गाजियाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

एफआईआर 8 फरवरी को गाजियाबाद के कौशांबी थाने में दर्ज हुई जिसमे पति रोहित राज सिंह, ससुर वकील शरण सिंह और रोहित के भाई संजीत सिंह को नामजद किया गया है, एफआईआर में बताया गया है कि साल 2018 में श्रेष्ठा की शादी रोहित राज से हुई थी। उस समय श्रेष्ठा के परिवार के लोगों ने मेट्रिमोनियल वेबसाइट से उनका रिश्ता तय किया था।  रांची में पोस्टेड होने का दावा करने वाले रोहित राज को जाकर देखा भी था। सबकुछ ठीक होने पर ही रिश्ता फाइनल हुआ था। फिर शादी हुई थी।  शादी के कुछ समय बाद ही श्रेष्ठा ठाकुर को पता चल गया कि उनका पति कोई IRS अफसर नहीं है। लेकिन रिश्ता बचाए रखने के लिए वो चुप रहीं। उन्होंने उसकी हर शर्त मानी। उसके कहने पर उसके पिता के अकाउंट में अपनी सैलरी के पैसे भी डालती रहीं। लेकिन धीरे-धीरे बदलते समय के साथ रोहित राज उन्हें ज्यादा परेशान करने लगा। इन दोनों से हुए बच्चे को धमकी देकर वो ब्लैकमेल करने लगा। सिर्फ मामला यही नहीं खत्म हुआ। उसने लखनऊ में प्लॉट खरीदने के लिए उनके अकाउंट से फर्जी तरीके से साइन करके 15 लाख रुपये भी निकाल लिए। उनके बैंक अकाउंट से लेकर एटीएम कार्ड का भी गलत तरीके से इस्तेमाल करने लगा। इसके साथ ही उनके नाम का दुरुपयोग करते हुए लोगों को झांसे में लेने लगा। इसलिए 3 साल पहले ही श्रेष्ठा ठाकुर ने पति रोहित राज से तलाक ले लिया था।

बताया जाता है कि इसके बाद भी वो परेशान करता था। धमकी देता था। उसने हाल में 6 फरवरी को गोंजा के रहने वाले अभय सिंह नामक व्यक्ति से धमकी दिलाई थी जिसमें कहा गया था कि तुम्हें सफारी से घसीट कर जान से मार देंगे, ये सब देखते हुए श्रेष्ठा ने अपनी एफआईआर में ये जिक्र किया है कि रोहित राज से उनकी जान को खतरा है।

Advertisement

मूल रुप से उन्नाव की रहने वाली श्रेष्ठा गाजियाबाद में रहती हैं।  उनकी जिन जिलों में पोस्टिंग होती है रोहित वहां अपना ठिकाना बना लेता है। इसके बाद उनके नाम और पद का दुरुपयोग करके लोगों से धन उगाही करता है। वह लोगों को बताता है कि श्रेष्ठा का पति है। इसकी वजह से लोग उसके झांसे में आ जाते हैं। मौजूदा समय में उसने गाजियाबाद में अपना ठिकाना बना रखा है।

Advertisement

Related posts

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को, इलेक्शन में हराने वाले जाट राजा के नाम पर, विश्वविद्यालय की नींव रखेंगे पीएम मोदी

Sayeed Pathan

लॉकडाउन संदेश–यूपी में ऐसा होगा लॉक डाउन-4,आर्थिक गतिविधियों में मिल सकती है छूट

Sayeed Pathan

विकास दुबे से पूछताछ में बेनकाब हो सकते हैं, कई खादी और ख़ाकी वर्दीधारी

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!