Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

वित्तीय धोखाधड़ी व साइबर अपराधों के मामलों में रोकथाम के लिये 20 फरवरी, से 25 फरवरी, 2023 तक चलेगा जनजागरूकता अभियान:-मुख्य सचिव

  • मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय समन्वय समिति की 13वीं बैठक आयोजित।

लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय समन्वय समिति की 13वीं बैठक आयोजित की गई।
अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि वित्तीय धोखाधड़ी व साइबर अपराधों के मामलों में रोकथाम के लिये 20 फरवरी, 2023 से 25 फरवरी, 2023 तक व्यापक स्तर पर सभी जनपदों में जन-जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाये। ऐसे मामलों में प्रभावी कार्यवाही के लिये आवश्यकता होने पर पुलिस अधिकारियों को ट्रेनिंग दिलायी जाये। साथ ही लोगों को अनाधिकृत ऐप द्वारा डिजिटल लेंडिंग एवं वसूली के बारे में जागरूक किया जाये।

उन्होंने कहा कि अनियमित जमा लेने वाली कंपनियों, डिफॉल्ट करने वाली कंपनियों, गैर-निगमित संस्थाओं की अवैध गतिविधियों पर अंकुश लगाया जाये। बैठक में उत्तर प्रदेश में सक्रिय बहुराज्यीय सहकारी समितियों के विरुद्ध शिकायतों तथा ईओडब्ल्यू एवं आरसीएस द्वारा की गई कार्यवाहियों से अवगत कराया गया।

Advertisement

बैठक में बताया गया कि अविनियमित निक्षेप स्कीम पाबंदी अधिनियम, 2019 एवं उत्तर प्रदेश वित्तीय अधिष्ठानों में जमाकर्ता हित संरक्षण अधिनियम, 2016 के सुगम कार्यान्वयन/संचालन हेतु वित्तीय अधिष्ठानों एवं इनसे सम्बन्धित शिकायतों के पंजीकरण हेतु पोर्टल तैयार हो गया है, पर्यवेक्षण कार्य चल रहा है। इस पर मुख्य सचिव ने कहा कि पोर्टल को आगामी जनवरी माह में लांच करा दिया जाये।

बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक कानपुर के क्षेत्रीय निदेशक डॉ0 ईशान शुक्ला, डीजीएम श्री सुरेश कुमार, डीआईजी ईओडब्ल्यू श्री अखिलेश निगम सहित सम्बन्धित वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

Advertisement

Related posts

सभी विभागों के सहयोग से ही एनीमिया मुक्‍त हो सकता है समाज-: सीएमओ

Sayeed Pathan

प्रदेश में कोई भी नागरिक बिना मास्क के नहीं निकलेगा घर से बाहर-: हाई कोर्ट

Sayeed Pathan

लालगंज पुलिस ने काफी दिनों से चल रहे फरार कुल चार नफर वारण्टी को किया गिरफ्तार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!