Advertisement
संतकबीरनगरस्वास्थ्य

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस: 15 फरवरी से चलेगा तीन दिवसीय माप अप अभियान, 8.51 लाख बच्‍चों को दवा खिलाने का लक्ष्‍य:-सीएमओ

  • अभियान चलाकर हर बच्‍चें को खिलाएं पेट के कीड़े मारने की दवा – सीएमओ
  • सीएमओ ने किया उदघाटन, जनपद के स्‍कूल और आंगनबाड़ी केन्‍द्र में चलाया गया अभियान
  •  1 से 19 साल के बच्‍चों ने खाई दवा, 15 से चलेगा तीन दिवसीय माप अप अभियान

संतकबीरनगर,। मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी डॉ अनिरुद्ध कुमार सिंह ने कहा कि जनपद के हर बच्‍चे को अभियान चलाकर पेट के कीड़े मारने की दवा खिलाएं। यह दवा बच्चे को कुपोषण, खून की कमी समेत कई प्रकार की दिक्कतों से बचाती है। यह दवा खाने के बाद बच्‍चे मानसिक रुप से विकसित भी होते हैं। बड़े बच्‍चे भी गोली को चबाकर ही खाएं और आवश्‍यकता नुसार पानी पिएं। बिना चूरा किए या बिना चबाए दवा का प्रभाव कम हो सकता है।

Advertisement

यह बातें उन्‍होंने कस्‍तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय बघौली में कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर बच्‍चों को दवा खिलाने के अभियान का शुभारंभ करते हुए कहीं। इस दौरान उन्‍होने बताया कि पूरे जनपद में एक साथ इस अभियान को शुरु किया गया है। 1 से 19 वर्ष के आयु वर्ग के आंगनबाडी, प्राइमरी स्‍कूल, जूनियर हाईस्‍कूल व उच्‍चतर माध्‍यमिक स्‍कूलों के बच्‍चों व  किशोरों, ईंट भट्ठों पर कार्य करने वाले श्रमिकों और घुमंतू लोगों को भी यह दवा खानी है। दवा हर बच्‍चे को दी जानी चाहिए। कोई भी बच्‍चा छूटना नहीं चाहिए। छूटे हुए बच्‍चों को दवा खिलाने के लिए 13 से लेकर 15 फरवरी तक तीन दिनों का माप अप अभियान चलाया जाएगा। कस्‍तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय खलीलाबाद की वार्डेन प्रतिभा सिंह ने बताया कि सभी 98 छात्राओं को कीड़ा मारने की दवा दी गई। यही की आठवी कक्षा की छात्रा खुशबू बताती हैं कि पिछले साल भी उन्‍होने यह दवा खाई थी। जब भी दवा खिलाई जाती है तब हम इस दवा को खाते हैं।

Advertisement

निगरानी करके नोडल अधिकारी देते रहे निर्देश

Advertisement

इस दौरान जिले के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की विभिन्‍न इकाइयों के नोडल अधिकारी स्‍कूलों और आंगनबाड़ी केन्‍द्रों पर जाकर सहयोगात्‍मक पर्यवेक्षण करते रहे। एनडीडी के नोडल अधिकारी एसीएमओ आरसीएच डॉ मोहन झा व दीन दयाल वर्मा खलीलाबाद, जिला कार्यक्रम समन्‍वयक विनीत श्रीवास्‍तव हैसरबाजार, जिला मातृत्‍व स्‍वास्‍थ्‍य परामर्शदाता संगीता बघौली, जिला सामुदायिक कार्यक्रम प्रबंधक संजीव कुमार मेंहदावल, यूनीसेफ के रितेश सिंह नाथनगर , डॉ अबू बकर सांथा, जयेन्‍द्र विक्रम सिंह व इम्तियाज अहमद पौली, बशीर खान सेमरियांवा, सुमन शुक्‍ला और रितेश चौरसिया बेलहरकला तथा सुरजीत सिंह ने अरबन खलीलाबाद व मगहर क्षेत्र में जाकर कार्यक्रम का उदघाटन करने के साथ ही कर्मचारियों को आवश्‍यक दिशा निर्देश दिए ।

Advertisement

8.51 लाख बच्‍चों को दवा खिलाने का लक्ष्‍य

अपर मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी तथा एनडीडी कार्यक्रम के नोडल डॉ मोहन झा ने बताया कि जिले के 10 स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्रों में 1697 राजकीय स्‍कूलों, 418 प्राइवेट स्‍कूलों में 1765 आंगवाड़ी कार्यकर्ता, 149 एएनएम, 1650 आशा कार्यकर्ता तथा कुल 2167 प्रशिक्षित शिक्षक इस अभियान में लगाए गए हैं। कुल 851088 बच्‍चों को यह दवा खिलाने का लक्ष्‍य है। आज के अभियान में जिले के सभी ब्‍लाकों में  बच्‍चो को यह दवा खिलाई गयी है।

Advertisement

Related posts

कोविड-19 मामलों में होम आइसोलेशन को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने जारी की गाइडलाइन्स

Sayeed Pathan

जानिए-पानी रंग हीन और स्वाद हीन क्यों होता है

Sayeed Pathan

डीएम ने जनता दर्शन में फरियादियों की सुनी शिकायतें, महिला फरियादी को वितरित किया कम्बल

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!