Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

01 अप्रैल से किसानों के लिए ट्यूबवैल की बिजली मिलेगी मुफ्त :- उपमुख्यमंत्री

लखनऊः प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा सर्किट हाउस सभागार अलीगढ़ में जनपद के पुलिस, प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारियों के साथ कानून एवं विकास कार्यों की समीक्षा की गयी। उन्होंने कहा कि अलीगढ़ प्रदेश में अपना विशिष्ट स्थान व पहचान रखता है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश औद्योगिक प्रदेश के रूप में अपनी पहचान बनाए। उद्योग स्थापना के साथ ही युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को गति प्रदान करने के लिए जनप्रतिनिधियों को नजरअंदाज न किया जाए बल्कि उनको विभिन्न बैठकों में आमंत्रित कर उनके बहुमूल्य सुझाव लेकर विकास कार्यों को गति प्रदान की जाए। उन्होंने कहा कि सरकार हर कदम पर किसानो के साथ खड़ी है, अन्नदाता, किसानों की कोई भी समस्या लम्बित नहीं रहनी चाहिए। प्रदेश सरकार द्वारा किसान हित को सर्वाेपरि रखते हुए 01 अप्रैल से किसानों के लिए ट्यूबवैल की बिजली मुफ्त दिये जाने का प्राविधान किया गया है। उपमुख्यमंत्री ने समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री जी एवं अन्य वीवीआईपी बैठक में लिये गये निर्णयों की अनुपालन आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश देते हुए कहा कि अधिकारी इसे गंभीरता से लें और इस प्रकार की बैठकों में हुई कार्यवाही की एक सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करें। स्मार्ट सिटी की समीक्षा के दौरान नगर आयुक्त अमित आसेरी ने बताया कि 38 में से 16 कार्य पूर्ण हो गये हैं, जिस पर उन्होंने विकास कार्यों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की सहभागिता सुनिश्चित करने के निदेश दिये। मण्डलायुक्त ने स्मार्ट सिटी के कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में युद्धस्तर पर कार्य कराते हुए निर्धारित समयावधि जून माह तक कार्य पूर्ण कराना है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के स्मार्ट सिटी के लक्ष्य को साकार करने के लिये मानक व गुणवत्ता के साथ ही समयबद्धता का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने अलीगढ़ विकास प्राधिकरण द्वारा तैयार की जा रही महायोजना-2031 में अलीगढ़ के सुनियोजित विकास एवं औद्योगिक भविष्य को ध्यान में रखकर कार्य करने के निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी विभाग या अधिकारी से कोई समस्या है तो उससे वन-टू-वन बात करें, संवादहीनता की स्थिति नहीं होनी चाहिये। उन्होंने गभाना एवं तालानगरी क्षेत्र में लैण्ड यूज परिवर्तन में आ रही समस्याओं को अन्तर्विभागीय समन्वय से निस्तारित करने के निर्देश दिये ताकि आम जनमानस को अलीगढ़ की औद्योगिक विरासत का अधिकाधिक लाभ मिल सके।
डिप्टी सीएम ने स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा करते हुए सीएमओ डा0 नीरज त्यागी से सवाल किया कि वह मौजूदा स्टाफ एवं संसाधनों की सेवाओं से संतुष्ट हैं, जिस पर उन्होंने बताया कि विशेषज्ञों की काफी कमी है। जिस पर उन्होंने स्थानीय स्तर पर विज्ञापन निकाल भर्ती कर चिकित्सकीय सेवाओं को सुचारू ढ़ंग से संचालित करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि आयुष्मान कार्डधारकों से ईलाज कराने में प्रदेश में जनपद का तीसरा स्थान है। हालांकि अभी आयुष्मान कार्ड की 54 प्रतिशत की प्रगति हुई है जिसे युद्धस्तर पर कार्य कराते हुए पूर्ण कर लिया जाएगा। उपमुख्यमंत्री जी ने शूटिंग में प्रदेश स्तर पर जनपद का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को बधाई देते हुए कहा कि स्टेडियम की व्यवस्थाओं में सुधार किया जाए ताकि हमारे युवा अपने कौशल को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर दिखा सकें। इस दौरान मण्डलायुक्त ने बताया कि यहां एक अच्छी शूटिंग रेंज है, जिसे नई खेल नीति में शामिल कर विकास कार्य कराने के निर्देश दिये गये।
पीएम स्वनिधि योजना की समीक्षा के दौरान नगर आयुक्त ने बताया कि जनपद में 28 हजार को लाभान्वित किया गया है जिसमें से 24 हजार को प्रथम किश्त एवं 141 को तृतीय किश्त के रूप में ऋण दिया गया है। योजना के तहत लाभान्वितों की संख्या में जनपद का प्रदेश में पहला जबकि देश में दूसरा स्थान है। मा0 डिप्टी सीएम ने जीटी रोड पर विकसित किये गये वेंडिंग जोन की भी प्रशंसा की। पीएम किसान सम्मान निधि की समीक्षा में जिला कृषि अधिकारी अभिनन्दन सिंह ने बताया कि 3.10 लाख किसानों का भूलेख अंकन हो गया है, 55 हजार का डाटा अभी सत्यापित किया जाना है। जिस पर उप मुख्यमंत्री ने समय-सीमा निर्धारित करते हुए कहा कि किसानों से जुड़ी कोई समस्या लम्बित न रहे। गौ-आश्रय स्थलों की समीक्षा में सीवीओ बी.पी. सिंह ने बताया कि जनपद में 182 गौआश्रय स्थल संचालित हैं। अभियान चलाते हुए प्रतिदिन निराश्रित गौवंशों को इनमें भेजा जाता है। इस पर उपममुख्यमंत्री ने किसानों एवं पशुपालकों को मोटिवेट एवं जागरूक करने के निर्देश देते हुए कहा कि उन्हें प्रेरित किया जाए कि निराश्रित गौवंशों को गौ-आश्रय स्थल में ही छोड़ें। जिलाधिकारी ने बताया कि गौवंशों के भरण पोषण के लिये प्रत्येक गॉव से एक-एक ट्राली भूसा एकत्रीकरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, विगत वर्षों में भी जनपद के कई दानदाताओं ने बड़ी मात्रा में भूसा दान किया था। इस पर मा0 डिप्टी सीएम ने चारागाह की भूमि एवं चकमार्गों को अभियान चलाकर अतिक्रमण मुक्त कराते हुए भूमि को गौ-आश्रय स्थलों से जोड़ने के निर्देश दिये। स्वामित्व योजना की समीक्षा में जिलाधिकारी ने बताया कि ड्रोन सर्वे का कार्य पूरा हो गया है। प्रधानमंत्री द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर लाभार्थियों को घरौनियों का वितरण कराया जा रहा है।
डिप्टी सीएम मौर्य ने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री की दूरगामी सोच के तहत कोरोना काल से निरन्तर जरूरतमंदों को माह में दो बार खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से महिलाओं को स्वावलम्बी बनाया जा रहा है। जल्द ही प्रदेश भर में 10 लाख समूहों का गठन किया जाएगा। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना से कहा कि आप तो स्वयं महिला हैं, जनपद में महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूती प्रदान करने के लिये बेहतर कार्य किये जाए।
शहर की यातायात व्यवस्था की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि रूटीन में पुलिस एवं परिवहन विभाग द्वारा संतोषजनक कार्य किये जा रहे हैं। महानगर की यातायात व्यवस्था में स्थायी समाधान के लिये 04 फ्लाई ओवर का निर्माण नितान्त आवश्यक है। डीएम ने डिप्टी सीएम को जनपद की 02 बड़ी परियोजनाओं राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय एवं अटल आवासीय विद्यालय की निर्माण प्रगति के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बैठक के दौरान डिप्टी सीएम ने फल मण्डी को धनीपुर मण्डी परिसर में स्थानान्तरित करने, नुमाइश एवं राइफल कमेटी का पुनर्गठन करने, नुमाइश मैदान के चारो-ओर बने तोरण द्वारों का नाम महापुरूषों के नाम पर रखे जाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने जनपद की बेहतर कानून व्यवस्था के लिये मौजूदा पुलिस एवं प्रशासनिक टीम की सराहना करते हुए कहा कि होली एवं शबे बारात का त्योहार आपसी प्रेम, भाईचारे एवं शान्तिपूर्ण ढ़ंग से सम्पन्न कराने के लिये बधाई के पात्र हैं।
बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष विजय सिंह, एमएलसी व जिलाध्यक्ष चौ0 ऋषिपाल सिंह, मा0 एमएलसी डा0 मानवेन्द्र प्रताप सिंह, मा0 विधायक शहर मुक्ता संजीव राजा, विधायक छर्रा ठा0 रवेन्द्रपाल सिंह, महानगर अध्यक्ष विवेक सारस्वत, ठा0 गोपाल सिंह, मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा, जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह, एडीए वीसी अतुल वत्स, नगर आयुक्त अमित आसेरी, एसएसपी कलानिधि नैथानी, सीडीओ आकांक्षा राना, एडीएम वित्त अमित कुमार भट्ट, एडीएम सिटी मीनू राणा, एसपी कुलदीप गुनावत, मुकेश चन्द्र उत्तम, राघवेन्द्र, डीडीओ भरत कुमार मिश्र, पीडी भाल चन्द्र त्रिपाठी समेत समस्त जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Advertisement

Related posts

अयोध्या बनेगा सोलर सिटी: यूपीनेडा और एनटीपीसी के मध्य एमओयू हस्ताक्षरित

Sayeed Pathan

फूलों की होली से और राधा कृष्ण की ठिठोली के गीतों पर, इन बच्चों के नृत्य ने लोगों का मोह लिया मन

Sayeed Pathan

एसएसपी आकाश तोमर ने सड़क दुर्घटना में घायल आरक्षी के परिवार को दी, 10 हजार रुपए की आर्थिक मदद

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!