Advertisement
अपराधउतर प्रदेश

मुजफ्फरनगर के इस गांव में, घर में सो रहे किसान की गला रेतकर हत्या ,ग्रामीणों ने नहीं उठने दिया शव, घंटों चलता रहा हंगामा

मुजफ्फरनगर। मंसूरपुर क्षेत्र के गांव सोंहजनी तगान में अपने घेर मे सो रहे किसान की मंगलवार देर रात्रि गला काट कर हत्या कर दी गई। इस मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास किया। मगर परिजनों ने शव को उठाने से साफ इनकार करते हुए काफी देर तक हंगामा किया। हंगामे होने के बाद परिजनों को समझा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

बताया जा रहा है कि करीब एक वर्ष पूर्व मृतक का पुत्र संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया था, जिसका आज तक कोई पता नहीं चला है। पुलिस का कहना है कि इस मामले का अति शीघ्र खुलासा करके हत्या करने वाले को जेल भेजा जाएगा।

Advertisement

मंसूरपुर थाना क्षेत्र के गांव सोहंजनी तगान निवासी करीब 52 वर्षीय किसान संदीप त्यागी पुत्र गुरुदत्त त्यागी मंगलवार रात्रि अपने घेर में अकेला सो रहा था। इसी बीच किसी ने धारदार हथियार से उसकी गला काटकर हत्या कर दी। सुबह करीब 6 बजे संदीप त्यागी का भाई घेर में पशुओं को चारा खिलाने के लिए आया तो उसने कमरे का गेट खोल कर देखा कि संदीप मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसका गला धारदार हथियार से काटा गया है।

उसने घबरा कर इस बात की जानकारी पड़ोसियों को दी। कुछ ही देर में वहां पर काफी संख्या में ग्रामीण  इकट्ठा हो गए, और मामले की जानकारी थाना पुलिस को दी गई। कुछ ही समय बाद थाना प्रभारी रोजंत त्यागी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच पड़ताल कर आला अधिकारियों को मामले से अवगत कराया।

Advertisement

हत्या की जानकारी मिलने पर सीओ खतौली डॉ रवि शंकर मिश्रा, एसपी सिटी सत्यनारायण प्रजापति डॉग स्क्वाड व फॉरेंसिक जांच टीम के साथ मौके पर पहुंचे और गहनता से पूरे मामले की जांच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास किया। मगर मृतक संदीप की पत्नी रुकमनी ने शव को उठाने से साफ इनकार करते हुए पुलिस पर आरोप लगाया कि उसका पुत्र शुभम पिछले करीब एक वर्ष से संदिग्ध अवस्था में लापता हो गया था, जिसका आज तक भी पता नहीं चल पाया है। पुलिस उसे आश्वासन पर आश्वासन देती आ रही है, वह थानों के चक्कर काट काट कर थक चुकी है।आज उसके पति की भी हत्या कर दी गई।जब तक पुलिस हत्यारों को गिरफ्तार नहीं करती तब तक शव उठने नहीं दिया जाएगा।

इसी बीच भारतीय किसान यूनियन नेता मांगेराम त्यागी, शाहपुर ब्लॉक प्रमुख अरविंद त्यागी, भाजपा के पूर्व बुढाना विधायक उमेश मलिक सहित क्षेत्र के काफी संख्या में गणमान्य व्यक्ति भी मौके पर पहुंच चुके थे। काफी देर तक हंगामा होने के बाद परिजनों को समझा-बुझाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। ग्रामीणों ने बताया कि मृतक के एक वर्ष से लापता पुत्र शुभम की एक वर्ष पूर्व ही शादी हुई थी।उसके बाद वह संदिग्ध अवस्था में गायब हो गया था।

Advertisement

दूसरा पुत्र शिवम नोएडा में नौकरी करता है।इस मामले में गांव के ही कुछ व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए नामजद तहरीर दी गई है। मृतक की पत्नी रुक्मणी ने बताया कि रात करीब 11 बजे वह अपने घर से घेर में देखने के लिए गई थी कि घेर का गेट बंद है या नहीं। घेर का का गेट उसे बंद मिला तो वह वापस घर चली गई थी। बुधवार सुबह करीब साढे पांच बजे वह फिर घेर में गई थी। हल्का सा गेट खोल कर देखा तो संदीप अपने बिस्तर पर लेटा हुआ था। कमरे के अंदर अंधेरा था, तो उसने सोचा वह सो रहा है, इसलिए वह वापस गेट बंद कर चली गई थी। उसे मालूम ही नहीं चला कि रात में ही उसके पति की हत्या कर दी गई है। शाम को मृतक संदीप के शव को पोस्टमार्टम के बाद गांव लाकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

Advertisement

Related posts

योगी सरकार को नहीं पता उत्तर प्रदेश में कितने हैं भूमिहीन मज़दूर: अजय कुमार लल्लू

Sayeed Pathan

यूपी पंचायत चुनाव : 01अक्टूबर से 29 दिसंबर तक चलेगा, मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम, जानिए कब क्या होगा

Sayeed Pathan

यूपी गड्ढा मुक्त सड़क अभियान :: उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने, 15 नवम्बर तक सभी कार्य पूरा करने के लिए संबंधित को दिए ये निर्देश

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!