Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

उत्तर प्रदेश के सभी परिषदीय स्कूलों में, सोमवार से आयोजित होगी निपुण आंकलन परीक्षा

लखनऊ। ‘‘निपुण भारत मिशन’’ के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए योगी सरकार सोमवार से निपुण आंकलन परीक्षा (एनएटी) का आयोजन करने जा रही है। 11 से 16 सितम्बर तक चलने वाली इस परीक्षा के माध्यम से कक्षा 1-5 तक के बच्चों का भाषा एवं गणित विषयों का तथा कक्षा 06 से 08 तक के बच्चों का गणित एवं विज्ञान विषयों का आंकलन किया जाएगा।

खास बात यह है कि परीक्षा ‘सरल एप’ के माध्यम से ली जाएगी और पहली बार बच्चे ओएमआर शीट पर सवालों के जवाब देंगे। निपुण एसेसमेंट टेस्ट (एनएटी) का पारदर्शी एवं शुचितापूर्ण आयोजन कराने के लिए सभी जनपदों के बीएसए व डायट प्राचार्यों को निर्देश जारी किए गए हैं। साथ ही शिक्षकों द्वारा सामुदायिक सहभागिता, होम विजिट के माध्यम से छात्रों की शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित कराने के लिए भी कहा गया है।

Advertisement

उपलब्ध कराया जाएगा रिपोर्ट कार्ड

एक ओएमआर शीट द्वारा एक छात्र का डाटा शिक्षक द्वारा आंकलन पूर्ण होने के बाद सरल एप के जरिए स्कैन किया जाएगा। ओएमआर शीट को केवल ब्लैक बॉल पेन से ही भरा जाएगा। इसके लिए कक्षा 04 से 08 के बच्चों को कम्पोजिट ग्राण्ट से अधिकतम 05 रुपये प्रति पेन क्रय करते हुए बच्चों को उपलब्ध कराया जाएगा। परीक्षा के बाद प्रश्नपत्रों के मूल्यांकन के बाद सभी बच्चों को उनके रिपोर्ट कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे।

Advertisement

फ्लाइंग स्क्वाड और कंट्रोल रूम करेंगे मॉनिटरिंग

नकलविहीन व पारदर्शी आकलन के लिए विकास खण्डवार फ्लाइंग स्क्वाड का गठन एवं क्रॉस इनविजिलेशन के लिए जनपद स्तरीय अधिकारियों (बेसिक शिक्षा एवं अन्य विभाग) को मॉनिटरिंग के लिए निर्देशित किया गया है। जिला परियोजना कार्यालयों में परीक्षा से सम्बंधित कन्ट्रोल रूम की स्थापना की गई है।

Advertisement

परीक्षा को लेकर जारी किए गए निर्देश

– परीक्षा का समय अधिकतम 1 घंटा 30 मिनट का होगा। परीक्षा के बाद शिक्षकों द्वारा 01 घंटे के अंदर स्कैनिंग की प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। बच्चों की संख्या के अनुसार यह समयावधि निर्धारित की जा सकती है।

Advertisement

– परीक्षा में कक्षा 1 से 3 तक एक ओएमआर शीट पर 08 बच्चों का आंकलन किया जा सकेगा। वहीं कक्षा 4 से 8 में प्रत्येक बच्चे के लिए एक-एक ओएमआर शीट प्रयोग में लाई जाएगी।

– कक्षा 1 से 3 के बच्चों की ओएमआर शीट पर शिक्षकों द्वारा स्टूडेंट आईडी नम्बर भरा जाएगा। शिक्षक सभी बच्चों से प्रश्नपत्र में उल्लिखित प्रश्नों को एक-एक पूछेंगे तथा उनके उत्तर के अनुसार ओएमआर शीट भरेंगे।

Advertisement

– वहीं कक्षा 4 से 8 के सभी बच्चों को प्रश्नपत्र व ओएमआर शीट वितरित करने के बाद प्रश्नपत्र एवं ओएमआर शीट भरने के तरीके के बारे में उदाहरण सहित समझाया जाएगा, ताकि उनसे शीट भरने में गलतियां न हों।

– यदि बच्चा प्रश्न पत्र में दिए गए निर्देश के अनुसार सही उत्तर देता है, तो सम्बंधित प्रश्न के सापेक्ष बने गोले को शिक्षक द्वारा काले पेन से भरा जाएगा अन्यथा उसे खाली छोड़ दिया जाएगा। ओएमआर शीट को केवल ब्लैक बॉल पेन द्वारा ही भरा जाएगा।

Advertisement

 

Advertisement

Related posts

चोरी की वारदात को रोकने में नाकाम लालगंज पुलिस, ताबड़तोड़ क्षेत्र में हो रही चोरियॉं

Sayeed Pathan

जनसँख्या नियंत्रण कानून पर राज्य सरकार को, लॉ कमीशन ने सौंपी अपनी रिपोर्ट

Sayeed Pathan

एसएसपी सहारनपुर ने अवैध कार्यों में लिप्त पुलिस कर्मियों को दी सख्त कार्यवाही की चेतवानी

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!