Advertisement
संतकबीरनगर

एडीएम की अध्यक्षता में जिला परामर्शदात्री समिति एवं पुनरीक्षण समिति की बैठक हुई आयोजित, नाबार्ड द्वारा जारी पुस्तक ‘‘संभाव्यता युक्त ऋण योजना-2023-24’’ का किया गया विमोचन

संत कबीर नगर । अपर जिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिला सलाहकार समिति/जिला स्तरीय समीक्षा समिति की त्रैमासिक बैठक विकास भवन सभागार में हुई। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी अतुल मिश्र द्वारा नाबार्ड द्वारा जारी पुस्तक ‘‘संभाव्यता युक्त ऋण योजना-2023-24’’ का विमोचन भी किया गया।

बैठक में अग्रणी बैंक जिला प्रबंधक दिवाकर पाण्डेय ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के  वार्षिक ऋण योजना, ऋण जमा अनुपात, वित्तीय समावेशन सहित अन्य ऋण योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुद्रा योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना इत्यादि में बैंको को आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष योजनावार प्रगति पर विस्तार से प्रकाश डाला।

Advertisement

अपर जिलाधिकारी द्वारा समीक्षा बैठक में वित्तीय समावेशन योजनाओं, आरसेटी, वित्तीय समावेशन को प्राप्त करने के लिए वित्तीय साक्षरता का प्रयास, ऋण जमा अनुपात में अपेक्षित वृद्धि, वार्षिक ऋण योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से संतृप्त करना, किसानों की आय को दोगुना करना ,दीनदयाल अंत्योदय योजना -राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ,प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, जिला उद्योग केंद्र खादी ,ग्रामोद्योग बोर्ड ,मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद योजना में जिले की उपलब्धि, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना ,स्वतः रोजगार योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, पीएम स्वनिधि योजना की प्रगति पर योजनाओं के सापेक्ष सम्बंधित विभागीय अधिकारियों एवं बैंकर्स के साथ विस्तृत रूप से समीक्षा की गयी।

बैठक मे आरसेटी के प्रगति और जिले के CD Ratio पर अपर जिलाधिकारी ने असंतोष ब्यक्त करते हुए इसमे तत्काल सुधार लाने का निर्देश दिया गया। समीक्षा के दौरान अपर जिलाधिकारी ने बैंकर्स को विभागीय योजनाओं के सापेक्ष प्राप्त लम्बित ऋण आवेदन पत्रों को उनकी पात्रता/अपात्रता के आधार पर निस्तारित किये जाने का निर्देश देते हुए कहा कि योजना में पात्र होने के बावजूद भी अनावश्यक रूप से लाभार्थी को परेशान न किया जाए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को उनके विभाग में संचालित योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने के साथ-साथ इच्छुक अभ्यर्थियों को बैंकों के माध्मय से लोन दिलाने की प्रक्रिया में स्वंय बैंकों के साथ सामन्जस स्थापित करते हुए शासन की मंशा के अनुरूप प्रगति दर्शाना सुनिश्चित करें।

Advertisement

इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि जय प्रकाश निषाद, उद्योग संघ के अध्यक्ष अरविंद पाठक, आर बी आई के अधिकारी शिवानी कुमकुम, जिला अर्थ एवं सख्याधिकारी नागेन्द्र सिंह, उपायुक्त मनरेगा जीशान रिजवी, उपायुक्त जिला उद्योग राज कुमार शर्मा, जिला समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र कुमार, पी0ओ0 डूडा प्रेमेन्द्र सिंह, जिला उद्यान अधिकारी संतोष दूबे, जिला सेवायोजना अधिकारी शैलेन्द्र शुक्ल, जिला मत्स्य अधिकारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, सूचना अधिकारी सुरेश कुमार सरोज सहित अन्य विभाग एवं बैंक के सभी जिला समन्वयक आदि उपस्थित रहें।

Advertisement

Related posts

संपत्ति पंजीकरण के नाम पर जनता का खून चूस रही है यूपी सरकार! अधिकतम 20 हजार की जगह भारी भरकम देनी पड़ रही है प्रोसेसिंग फीस, ब्लड रिलेशन में रजिस्ट्री पर भी लगने लगा जनरल शुल्क

Sayeed Pathan

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश विकास गोस्वामी ने जिला कारागार का निरीक्षण, बीमार बंदियों का जाना कुशलक्षेम, जेलर को दिया ये निर्देश

Sayeed Pathan

संतकबीरनगर की स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए सीएमओ ने की नई पहल

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!