Advertisement
लखनऊउतर प्रदेश

प्रदेश के युवाओं को स्किल डेवलपमेन्ट के साथ जोड़ने का हो रहा है कार्य:-मुख्यमंत्री

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जहां चुनौती होती है वहां अवसर के रास्ते भी होते हैं। चुनौतियों के बीच औद्योगिक विकास विभाग ने संडीला में एक अवसर बनाने का प्रयास किया था। परिणामस्वरूप 01 हजार करोड़ रुपये के निवेश के प्रस्ताव को बर्जर पेण्ट्स की नई इकाई के रूप में जमीनी धरातल पर उतारा गया। प्रदेश औद्योगिक निवेश के एक नये युग की ओर प्रस्थान कर चुका है।

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर वर्चुअल माध्यम से जनपद हरदोई के संडीला औद्योगिक क्षेत्र में 37 एकड़ क्षेत्रफल में बर्जर पेण्ट्स इण्डिया लिमिटेड की एशिया की सबसे बड़ी मल्टी प्रोडक्ट पेण्ट्स फैक्ट्री का उद्घाटन करने के उपरान्त अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह क्षण अत्यन्त महत्वपूर्ण है, क्योंकि जब बर्जर पेण्ट्स की इकाई को बढ़ाने का निर्णय लिया गया था, उस समय देश एवं दुनिया कोरोना महामारी के संकट से जूझ रही थी। बर्जर पेण्ट्स इण्डिया लिमिटेड द्वारा 30 माह के रिकाॅर्ड समय में कोरोना महामारी सहित अन्य चुनौतियों का सामना करते हुए इतने बड़े निवेश को जमीनी धरातल पर उतारा गया। यह प्रदेश में नये औद्योगिक परिवेश को प्रदर्शित करता है। उत्तर प्रदेश आज देश के औद्योगिक निवेश के सबसे बड़े गंतव्य के रूप में उभर रहा है।

Advertisement

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सण्डीला क्षेत्र में एक नये औद्योगिक निवेश का शुभारम्भ होने जा रहा है। यह अत्यन्त प्रफुल्लित करने वाला क्षण है। होली की पूर्व संध्या पर लगभग 01 हजार करोड़ रुपये के निवेश को जमीनी धरातल पर उतारना, प्रदेश में एक नई औद्योगिक क्रान्ति को प्रदर्शित कर रहा है। बर्जर पेण्ट्स इण्डिया लिमिटेड द्वारा इस इकाई में अनेक उत्पादों का एक ही स्थान पर उत्पादन किया जाएगा। इन उत्पादों में डेकोरेटिव पेण्ट्स, पुट्टी आदि शामिल हैं।

प्रधानमंत्री की मंशा के अनुरूप उत्तर प्रदेश 01 ट्रिलियन डाॅलर की इकोनाॅमी के रूप में देश की अर्थव्यवस्था के ग्रोथ इंजन के रूप मंे उभर रहा है। यह पिछले कुछ समय से देखने को मिल रहा है। 10 से 12 फरवरी के बीच आयोजित यू0पी0जी0आई0एस0-2023 इसका एक उदाहरण है।

Advertisement

वर्ष 2017 के पूर्व प्रदेश में कई चुनौतियां थी। उस समय प्रदेश में निवेश की बात होती थी, तो निवेश को एन0सी0आर0 से जोड़ा जाता था। नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना अथाॅरिटी, गाजियाबाद तक निवेश सीमित था। ज्यादा से ज्यादा राजधानी लखनऊ तक पहुंच पाता था। इसके बाद कोई अन्य स्थान प्रदेश में नहीं था, जहां पर भारी-भरकम निवेश प्राप्त हो सके। क्षेत्रीय आर्थिक विषमता को दूर करने का कोई भी प्रयास नहीं किया गया। वर्तमान प्रदेश सरकार ने इन सभी मिथकों को तोड़ा है।

यू0पी0जी0आई0एस0-2023 में लगभग 35 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हंै। प्रदेश के सभी 75 जनपदों के लिए निवेश के प्रस्ताव प्राप्त हुए हंै। पूर्वी यू0पी0 को 10 लाख करोड़ रुपये, बुन्देलखण्ड क्षेत्र को 4.2 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले हैं।

Advertisement

उत्तर प्रदेश देश के बेहतरीन निवेश गंतव्य के रूप में अपने आपको देश और दुनिया के सामने प्रस्तुत कर रहा है। इसके लिए टीम यू0पी0 को कार्य करना पड़ा, देश और दुनिया में रोड शो करने पड़े, प्रदेश की क्षमता को सबके सामने प्रस्तुत करना पड़ा। सेक्टोरल नीतियां बनानी पड़ी। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में निवेश के लिए आवश्यक बुनियादी सुविधाओं को धरातल पर उतारना पड़ा। वर्ष 2017 के पहले प्रदेश की कानून व्यवस्था एक चुनौती थी। उस समय कोई अपने आपको सुरक्षित नहीं महसूस करता था। आज प्रदेश की कानून व्यवस्था दुनिया के सामने एक नजीर है।

उत्तर प्रदेश के पास अपनी सेक्टोरल नीतियां हैं, जिनके माध्यम से किसी भी निवेश प्रस्ताव को तकनीकी का बेहतर उपयोग करते हुए सिंगल विंडो सिस्टम, एम0ओ0यू0 माॅनिटरिंग सिंस्टम, उद्यमी मित्र, आॅनलाइन इन्संेटिव माॅनिटरिंग सिस्टम की सहायता से आगे बढ़ाया जाता है। निवेश के एक-एक इन्सेंटिव को निवेशकों तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। मानवीय हस्तक्षेप की गुंजाइश को शून्य की दिशा में आगे बढ़ाने का कार्य हुआ है। इसके परिणाम आज दिखाई दे रहे हैं।

Advertisement

वर्ष 2017 से पूर्व जनपद सीतापुर, हरदोई में लाखों परिवारों के पास रहने के लिए आवास एवं शौचालय नहीं थे। यहां विकास पहुंचा ही नहीं था। प्रधानमंत्री द्वारा विगत 09 वर्षाें में विभिन्न प्रकार की लोककल्याणकारी योजनाएं देश में लागू की गईं। इन लोक कल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन इस क्षेत्र में किया जा रहा है। आज प्रदेश का इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूती के साथ बढ़ रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के निर्माण के साथ ही, गंगा एक्सप्रेस-वे निर्माण पर तेजी से कार्य हुआ है। प्रदेश में एयर कनेक्टिविटी तेजी से आगे बढ़ी है।
प्रदेश में औद्योगिक संस्थाओं के इन्फ्रास्ट्रक्चर को भी तेजी से विकसित किया जा रहा है। प्रत्येक औद्यागिक इकाई को ओपेन एक्सेस की सुविधा दी गई है। विद्युत की आपूर्ति बिना भेदभाव के की जा रही है। प्रदेश में समय-समय पर किये रिफाॅर्म का परिणाम निवेश व रोजगार सृजन के रूप में देखने को मिला है। विगत 05 वर्ष में यू0पी0 में सुदृढ़ कानून व्यवस्था स्थापित हुई है। ओ0डी0ओ0पी0 के माध्यम से परम्परागत उद्योगों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। प्रदेश के युवाओं को स्किल डेवलपमेन्ट के साथ जोड़ने का कार्य हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि जनपद हरदोई में विकास के अनेक ऐसे कार्यक्रम पिछले कुछ समय से हुए हैं, जिसके साक्षी वहां के जनप्रतिनिधिगण एवं जनपद के नागरिक हैं। कोविड कालखण्ड में यहां वेब्ले स्काॅट यूनिट की स्थापना की गई। साथ ही संडीला मंे बर्जर पेण्ट्स की नवीनतम तकनीक पर आधारित यूनिट 01 हजार करोड़ रुपये के निवेश से जमीनी धरातल पर उतरते हुए दिखायी दे रही हैं। यहां पर प्रतिदिन 02 हजार टन एवं प्रतिमाह 33 हजार टन पेण्ट का उत्पादन करके देश-विदेश को उपलब्ध कराया जाएगा। इस इकाई में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से 1200 लोगों को रोजगार मिलेगा।

Advertisement

संडीला की बर्जर पेण्ट्स की इकाई एक आदर्श उदाहरण प्रस्तुत करने जा रही है। इस इकाई में बड़ी संख्या में महिलाओं को भी कार्य करने के लिए एक मंच उपलब्ध कराया गया है। इस इकाई की स्थापना से लखनऊ व उसके आस-पास के जनपदों में औद्योगिक निवेश का वातावरण निर्मित होगा। स्किल्ड व अनस्किल्ड मैनपावर को कार्य करने का अवसर प्राप्त होगा, जिससे वे आर्थिक स्वावलम्बन के माध्यम से अपने परिवार व समाज के लिए एक सम्बल बनने का कार्य करेंगे ।

मुख्यमंत्री ने हरदोई की जनता से अपील करते हुए कहा कि निवेश के इस प्रकार के प्रस्तावों को प्रोत्साहित करने में अपना योगदान दें। जनपद हरदोई में बर्जर पेण्ट्स, वरुण बेवरेजेस (पेप्सी), आई0टी0सी0, ग्रीन प्लाई, हल्दीराम, वेब्ले स्काॅट, आॅस्टिन प्लाई, पिडिलाइट इत्यादि की इकाइयां स्थापित की जा रही हैं। इन इकाइयों को ससमय भूमि उपलब्ध करवायी जा रही है। औद्योगिक विकास विभाग द्वारा प्रदेश में निवेश के इच्छुक निवेशकों को बेहतरीन वातावरण प्रदान किया जा रहा है।

Advertisement

मुख्यमंत्री ने सभी निवेशकों को आश्वस्त किया कि प्रदेश सरकार निवेशको को सुरक्षा की गारन्टी उपलब्ध करायेगी। निवेश से सम्बन्धित किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान त्वरित गति से किया जायेगा। उन्होंने कहा कि फलदायी निवेश से व्यापार को आगे बढ़ाने का अवसर मिलेगा। इस प्रकार की इकाइयां अपने विस्तार के साथ ही युवाओं के स्किल डेवलपमेन्ट के कार्यक्रम को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगी। आज समय आ गया है कि स्थानीय संस्थाएं अपनी औद्योगिक इकाई के माध्यम से आने वाले समय के लिए मैनपावर की स्किल डेवलपमेन्ट में सहयोग करें

प्रदेश सरकार ने टाटा टेक्नोलाॅजी के साथ 150 आई0टी0आई0 के एम0ओ0यू0 को आगे बढ़ाया है, जिसमें 35 हजार युवाओं को प्रतिवर्ष प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। यह संस्था 10 वर्ष तक राज्य सरकार के साथ जुड़ी रहेगी। न्यू एज ट्रेड के साथ स्किल डेवलपमेन्ट कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाएगा। टाटा टेक्नोलाॅजी ने अपनी इकाइयों में इनके समायोजन की व्यवस्था भी की है।

Advertisement

उन्होंने बर्जर पेण्ट्स इण्डिया लिमिटेड के पदाधिकारियों से कहा कि जनपद हरदोई के संडीला में स्किल डेवलपमेन्ट के कार्यक्रम किये जाएं। इसमें औद्योगिक विकास विभाग एवं यूपीसीडा द्वारा सहयोग किया जाएगा। स्किल डेवलपमेन्ट कार्यक्रम से प्रदेश के युवा सकारात्मक भाव से जुड़ेंगे। साथ ही, समय-समय पर जन प्रतिनिधियों के सहयोग से विकास हेतु अन्य क्षेत्रों में भी नवाचार बढ़ाने में मदद मिलेगी।

औद्योगिक विकास मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’ ने कहा कि मुख्यमंत्री जी के दूरदर्शी नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की औद्योगिक विकास यात्रा नित नये कीर्तिमान गढ़ते हुए निरन्तर आगे बढ़ रही है। यह नये भारत का नया उत्तर प्रदेश है, जहां केवल एम0ओ0यू0 साइन एवं शिलान्यास नहीं होते, बल्कि रिकाॅर्ड समय में परियोजनाएं धरातल पर दिखायी देती हैं। यह मुख्यमंत्री जी के कमिटमेन्ट का प्रमाण है। प्रदेश को देश-दुनिया में इण्डस्ट्रियल डेवलपमेन्ट और इन्वेस्टमेन्ट हब के रूप मंे एक नई पहचान मिल रही है।

Advertisement

इस अवसर पर कृषि उत्पादन आयुक्त व अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त मनोज कुमार सिंह ने कहा कि बर्जर पेण्ट्स वर्ष 2023 में भारत में स्थापना के 100 वर्ष पूर्ण कर रहा है। मुख्यमंत्री के ‘जीविका और आजीविका’ दोनों को सुरक्षित रखने के संकल्प को ध्यान में रखते हुए कोविड-19 की विषम परिस्थिति में इस प्लाण्ट का निर्माण निर्बाध एवं तीव्र गति से हुआ। इस प्लाण्ट के निर्माण के समय 61.50 लाख मानव दिवस सृजित हुए, जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार मिला।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास एवं आई0टी0 नरेन्द्र भूषण, सलाहकार मुख्यमंत्री अवनीश कुमार अवस्थी, यू0पी0एस0आई0डी0सी0 के सी0ई0ओ0 मयूर माहेश्वरी, बर्जर पेण्ट्स इण्डिया लिमिटेड के एम0डी0 एवं सी0ई0ओ0 अभजीत राॅय सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Advertisement

Related posts

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद,बेटी ने कहा मेरे पिता का कहीं एनकाउंटर न हो जाए

Sayeed Pathan

भारत रत्न-पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 राजीव गांधी जी की 76वीं जयन्ती प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में श्रद्धा और सादगी के साथ मनायी गयी

Sayeed Pathan

मुजफ्फरनगर में पीड़ित मतलूब को इंसाफ दिलाने के लिए AIMIM करेगी प्रदर्शन

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!