Advertisement
Editorial/संपादकीय

संविधान दिवस:: भारतीय संविधान की महत्ता और उसका महत्व

हर साल 26 नवंबर को भारत में संविधान दिवस मनाया जाता है। यह दिन उन महापुरुषों को समर्पित है जिन्होंने हमारे देश के संविधान को निर्माण किया। यह भारतीय गणराज्य के संविधान के संदर्भ में एक महत्वपूर्ण दिन है जो हमें हमारे संविधान के महत्त्व को समझने का मौका देता है।

भारतीय संविधान हमारे देश का सर्वोच्च कानून है, जिसने हमारे समाज, राजनीति, और अर्थव्यवस्था के लिए मार्गदर्शन किया है। यह हमारे देश की एकता, अखंडता, और न्याय की आधारशिला है। संविधान ने हर नागरिक को अपने अधिकारों और कर्तव्यों की समझ और सम्मान की शिक्षा दी है।

Advertisement

भारतीय संविधान का महत्त्व यह है कि वह देश के सभी नागरिकों को समानता, न्याय, स्वतंत्रता, और भाईचारे का आदान-प्रदान करता है। यह एक महत्त्वपूर्ण दस्तावेज है जो हमारे देश की ताकत को संकेतित करता है और हमें एक एकत्रित, समृद्ध और न्यायपूर्ण समाज की दिशा में अग्रसर करता है।

इस दिन को मनाकर, हमें यह याद दिलाना चाहिए कि हमारे संविधान का पालन करना हमारा कर्तव्य है। हमें इस महान दस्तावेज के महत्त्व को समझना और उसे प्राथमिकता देना चाहिए। इस दिन को मनाने से हमें हमारे संविधान के महत्व को याद दिलाने का अवसर मिलता है और हमें उसके उच्च आदर्शों को अपने जीवन में शामिल करने का प्रेरणा मिलता है। इस दिन को मनाकर, हमें संविधान के महत्व को सर्वसाधारण के साथ बाँटना चाहिए और उसकी महत्ता को समझाने का प्रयास करना चाहिए।

Advertisement

Related posts

चुनाव नतीजों के सबक और कारपोरेट चीयरलीडर्स का कोहराम

Sayeed Pathan

मोदी सरकार की नाकामियों से भरी यात्रा 9 साल की यात्रा

Sayeed Pathan

डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती पर विशेष :: भारत का डॉ भीमराव अंबेडकर युग, और उनके 12 महत्वपूर्ण विचार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!