Advertisement
उतर प्रदेशलखनऊ

मेरी आवाज़ सुनो- केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन ने पीड़ित पत्रकारों के लिए उठाई आवाज़

लखनऊ । केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन राष्ट्रीय संगठन मंत्री अनीस अंसारी,राष्ट्रीय महासचिव मुईज़ अहमद फरकी,उप राष्ट्रीय संगठन मंत्री दिलीप कुमार दीक्षित,राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अजय कुमार वर्मा,प्रदेश अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद , प्रदेश मंत्री जीशान खान,महिला सुरक्षा प्रदेश अध्यक्ष प्रज्ञा मिश्रा,महिला सुरक्षा उप प्रदेश अध्यक्ष आकांक्षा सिंह, जिला अध्यक्ष राकेश कुमार लखनऊ,महिला सुरक्षा जिला अध्यक्ष सुनैना सिंह,जिला सचिव अजय कुमार लखनऊ,जिला उपाध्यक्ष अनिल कुमार,एवं सभी पदाधिकारी ने संगठन के माध्यम से पीड़ित पत्रकारों की उठाई आवाज राष्ट्रीय संगठन मंत्री अनीस अंसारी ने कहा कि

भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद जी भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी उत्तर प्रदेश राज्यपाल आनंदीबेन पटेल जी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी उत्तर प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल जी लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश जी लखनऊ कमिश्नर डीके ठाकुर जी उत्तर प्रदेश सूचना एवं जनसंपर्क विभाग शिशिर निर्देशक ( आई0ए0एस )

Advertisement

विषय- पत्रकारों व् मीडियाकर्मियों के खिलाफ झूठे मुकदमों पर रोक लगाने एवं पत्रकारों की हत्या और पत्रकारों को कवरेज के दौरान उनके साथ पुलिस व माफिया गुंडों द्वारा अभद्र भाषा का प्रयोग करना व पत्रकारों के साथ मारपीट एवं पत्रकारों पर रंगदारी छेड़छाड़ एवं पत्रकारों पर फर्जी 376 जैसी गंभीर धाराओं में फर्जी केस में झूठा फंसा कर जेल भेजना और दबंग गुंडे माफियाओं के साथ मंथली लेने के चक्कर मे पुलिस उनसे मिली भगत करके माफियाओं की बाबत पत्रकारों से बदले की भावना में बदनाम व फर्जी झूठे मुकदमे दर्ज करके जेल भेजना एवं पत्रकारों पर जितने भी पहले फर्जी मुकदमे दर्ज हुए हैं उनकी दोबारा से उच्च स्तरीय जांच कराकर निर्दोष पत्रकारों को छुड़वाना एवं पत्रकारों पर बढ़ते हमले तत्काल प्रभाव से रोकने एवं फर्जी केस में फंसाने पर रोक लगाने एवं पत्रकारों को उचित सुविधा मुहैया कराने के संबंध में

महोदया
मै राष्ट्रीय संगठन मंत्री अनीस अंसारी केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन के माध्यम से आपको अवगत कराना चाहता हूं कि 19 /10/21 को मुकदमा संख्या 559/21थाना नजीबाबाद पुलिस ने दो पत्रकारों अंकित व अराफात,के विरुद्ध झूठा मुकदमा दर्ज किया गया था। जिस मामले को इमरान उस्मानी के द्वारा प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था। व उच्चधिकारियों से मामले की शिकायत कॉल के द्वारा दी गई थी। जिसको लेकर जिला बिजनोर के एस पी डॉक्टर धर्मवीर सिंह, व थाना अध्यक्ष नजीबाबाद, व थाना अध्यक्ष स्योहारा ने मिलकर इमरान उस्मानी, के विरुद्ध सड़यंत्र रचा और 22/10/21में झूठा मुकदमा लिख दिया गया। एक अनजान महिला बेबी पत्नी विनोद,जिला अमरोहा, इमरान उस्मानी उनसे अनजान है। इस मामले के बारे में। केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन के माध्यम से उत्तर प्रदेश उच्चस्तरीय अधिकारियो को फोन कॉल के द्वारा मामले में अवगत भी कराया था। जिसमें पीड़ित पत्रकार के द्वारा बनाई गई वीडियो सबूत भी दिखाए गए थे। जिसके बाद दोनों पत्रकार जांच के दौरान निर्दोष पाए गए थे।और उन्हें 2 दिन में ही जमानत मिल गई थी। परन्तु उसी प्रकरण को लेकर एस पी महोदय ने बदले की भावना से इमरान उस्मानी को एक झूठे मुकदमा 376/21 में फसा दिया है जिसके बाद जिला बिजनौर एसपी डॉ धर्मवीर सिंह एवं थाना अध्यक्ष स्योहारा महोदय के द्वारा एक मनगढ़ंत स्टोरी एफ आई आर में लिखाई गई है। जिस महिला को इमरान उस्मानी पहचानता भी नही। कोई कॉल भी कभी नही की जबकि महिला अन्य जिले की लिखाई गई है।थाना अध्यक्ष व एस पी की मिली भगत से एक चरित्रहीन महिला को वादी बनाया गया है।
अतः आपसे विनम्र निवेदन हैं कि इस मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए। क्योंकि इसमें सुत्रो से ज्ञात हुआ है कि जिले के कुछ पुलिस अधिक़ारी सम्भलित है। इसलिए माननीय आपसे पूरी उम्मीद है इमरान उस्मानी जो केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन के राष्ट्रीय सचिव हैं उन्हे पूर्ण रूप से न्याय दिलाया जाए धन्यवाद।

Advertisement

Related posts

जबलपुर की डॉक्टर निकली, पीड़ित परिवार के साथ भाभी बनकर रहने वाली महिला

Sayeed Pathan

ग्राम पंचायत सचिव की तैनाती क्लस्टर के रूप में किये जाने का निर्णय

Sayeed Pathan

कोरोना समाचार::संतकबीरनगर में आज मिले “13 नए कोरोना पॉज़िटिव केस”,जिले में कुल संख्या हुई 126,अब तक 06 लोगों की हो चुकी है मौत

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!