Advertisement
अपराध

आरजेडी नेता के मासूम बेटे का अपहरण कर हत्या, वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार कर जांच में जुटी पुलिस

रांची: झारखंड की राजधानी राँची में हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. जहां बीते 3 मार्च को अगवा हुए मासूम शौर्य की हत्या कर दी गई थी. इस मामले में पुलिस हत्यारों को पकड़ने में जुटी थी. फिलहाल, पुलिस को इस मामले में सफलता मिली है. जहां पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि, शौर्य के पिता राजू गोप लालू यादव के काफी नजदीकी थे. दरअसल, 7 मार्च को लालगुटवा रिंग रोड के पास चौपारण तालाब से बोरे में शव बरामद हुआ था.जिसके बाद परिजनों और स्थानीय लोगों ने नाराजगी जताते हुए सड़क पर हंगामा मचाया था.
दरअसल, परिजनों ने घंटों सड़क जाम कर मासूम बच्चे के अपहरणकर्ता की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस द्वारा की गई लापरवाही को लेकर प्रदर्शन किया था.हालांकि, कल सीनियर अधिकारी की मौजूदगी में पुलिस ने परिजनों और आक्रोशित लोगों को 24 घंटे के अंदर अपहरणकर्ता के गिरफ्तारी का आश्वासन दिया था. ऐस में रांची के एसएसपी किशोर कौशल ने मामले के खुलासे के लिए एक एसआईटी का गठन किया था.

SIT टीम ने आरोपी को किया गिरफ्तार

वहीं, इस मामले में अब एसआईटी टीम ने सफलता हासिल करते हुए मासूम के अपहरण और उसकी हत्या मामले में संजू पांडा नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया है. बता दें कि मासूम बच्चे अपहरण और नृशंस हत्या का आरोपी संजू पांडा मृतक मासूम बच्चे शौर्य गोप के घर में पहले में किराएदार के रूप में रहता था. वहीं, आरोपी की बहन और बहनोई मृतक बच्चे के घर में ही किराएदार के रूप में रहते है. उन्हीं के साथ वह कई महीनों तक रहा था.

हालांकि कुछ महीने पहले ही वह मृतक मासूम के घर को छोड कर रांची के पुंदाग इलाके में किराए पर कमरा लेकर रहने लगा था. पुंदाग इलाके में रहने के दौरान वह लाखों रुपए के कर्ज में डूब गया था. जहां कर्ज लौटाने के दबाव में वह तनाव में रहता था. इसी बीच कुछ दिन पहले ही वह मृतक बच्चे के घर किरायदार के रूप में रह रही उसकी बहन और बहनोई से मिलने गया था.

पूछताछ में आरोपी ने कबूले कई राज

पुलिस की पूछताछ में आरोपी संजू पांडा ने बताया कि कर्ज से उबरने के लिए फिरौती की बात सोची. जहां आरोपी ने इसके लिए 3 दिनों तक मासूम बच्चे की रेकी की. इस दौरान उसे पता चला कि हर दिन बचा शाम के समय अपने घर से निकलकर पास के दुकान में खाने पीने के सामान को लेने जाता था. बच्चे की रेकी के बाद 3 मार्च की शाम लगभग 7.30 से 8 बजे के बीच संजू पांडा बच्चे के अपहरण करने के लिए एक कार लेकर उसके घर एदलहातू के पास पहुंच गया , जैसे ही बच्चा शौर्य अपने घर से बिस्कुट लेने के लिए दुकान जा रहा था. उसी दौरान उसने बच्चे को अपने पास बुलाया और धोखे से उसे अपनी गाड़ी में बैठाकर उसका अपहरण कर लिया.

Advertisement

लालू प्रसाद यादव के बेलर रह चुके राजू गोप

वहीं,बच्चे की हरकत और पकड़े जाने के डर से संजू पांडा ने बच्चे को काबू करने के लिए उसके सिर पर जोरदार प्रहार कर दिया, जिसके कारण बच्चे को गंभीर चोटें आई, जिससे बच्चे की सांसे थम गई. घटना से घबराए आरोपी ने सबूत मिटाने के लिए उसके हाथ पैर को बांधकर एक बोरे में भरकर उसके शव को सपारोम तालाब में पत्थरों से बांधकर बोरे सहित शव को फेंक दिया. इसके बाद खुद रांची छोड़कर फरार हो गया.गौरतलब है कि, मृतक 8 साल का बच्चा शौर्य गोप , राजद नेता राजू गोप का इकलौता बेटा था. वहीं, राजू गोप की राजनीति में एक अच्छे पैठ थी और वह आरजेडी सुप्रीम लालू प्रसाद यादव के बेलर रह चुके हैं.

आरोपी से पूछताछ में जुटी रांची पुलिस

मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस ने आरोपी संजू पांडा को कोडरमा जिले से गिरफ्तार किया है , हालांकि अभी पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी हुई है.ऐसे में तक पुलिस के द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी के संदर्भ में अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. रांची पुलिस जल्द ही आधिकारिक तौर पर मासूम बच्चे शौर्य गोप के हत्याकांड मामले का खुलासा कर सकती है.

Advertisement

Related posts

सरकार की नाक के नीचे क्‍वारंटाइन में 3 तब्‍लीगी महिलाएं गर्भवती, जांच से पहले ADM का ट्रांसफ़र

Sayeed Pathan

वाहनों की तलाशी के दौरान एक कार से 22 लाख रुपए बरामद, हिरासत में लिए गए वाहन चालक और खजांची

Sayeed Pathan

गैंगेस्टर एक्ट में वांछित तीन अभियुक्त गिरफ्तार

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!