Advertisement
अन्य

देवबंद पर NIA का छापा : मदरसे में पढ़ने वाला युवक गिरफ्तार, जिसका का सबंध IS से:-एनआईए

लखनऊ । आतंकी संगठन आईएस से कनेक्शन के मामले में देवबंद से एक युवक को NIA ने गिरफ्तार किया है। जानकारों का कहना है कि जांच में कुछ ऐसे सुराग मिले हैं जिनका कनेक्शन देवबंद से मिला। फिलहाल जांच की जा रही है। अभी पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता लेकिन जो साक्ष्य मिले हैं वो अहम हैं और उनकी जांच पूरी करके रिपोर्ट पेश की जाएगी।

संदिग्ध युवक सहारनपुर के देवबंद के मदरसे में रहकर पढ़ाई कर रहा था। बताया जा रहा है कि वह सोशल मीडिया एप के जरिये संगठन के लिए ट्रांसलेटर का काम करता था। एक रिपोर्ट के मुताबिक देबबंद के मदरसे में पढ़ने वाला फारूख कई भाषाओं का जानकार है। वो कई सालों से यहां रह रहा था। उसके लिंक कर्नाटक में पकड़े गये एक आईएस माड्यूल से मिले है। टेलीग्राम के जरिये आतंकवाद से जुड़ा हुआ साहित्य फारूख तक आता था। वो अनुवाद करके माड्यूल को मुहैया कराता था।

Advertisement

हालांकि NIA ने शनिवार रात देवबंद में छापा मारा लेकिन इसकी भनक तक पुलिस को नहीं लगी। इलाकाई पुलिस को रविवार सुबह सारे मामले का पता चल पाया। इलाके के लोग भी इससे अनजान थे। फारूख को एजेंसी अपने साथ ले गई है। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आधिकारिक तौर पर एजेंसी ने उसे हिरासत में लिया है या नहीं इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है। लोकल पुलिस सारी बातों से बेखबर है।

दरअसल, हाल ही में सुरक्षा ऐजेंसी ने कर्नाटक में एक्टिव आईएस माड्यूल के आरोपियों की गिरफ्तारी की थी। पूछताछ में पता चला कि एक आरोपी के मोबाइल फोन में टेलीग्राम एप के जरिये कई लोगो से बातचीत होती थी। इसी में एक लिंक फारूख का भी था। एनआईए उसी कर्नाटक माड्यूल का नेटवर्क तलाश रही है

Advertisement

कर्नाटक में आईएस मॉड्यूल का हाल ही में खुलासा हुआ था। छात्र फारुख भी मूल रूप से कर्नाटक का रहने वाला है और आईएस माड्यूल का संदिग्ध है। देवबंद में वो नाम बदलकर रह रहा था। उधर एसएसपी विपिन का कहना है कि एटीएस ने कार्रवाई की है। इससे ज्यादा अभी उनके पास कोई जानकारी नहीं है।

Advertisement

Related posts

शनिवार से लापता युवक का हाथ-पैर कटा शव नदी किनारे मिला

Sayeed Pathan

नव वर्ष की पूर्व संध्या पर बाराबंकी एस पी आकाश तोमर ने सैनिक सम्मेलन आयोजित कर,नव वर्ष की शुभकामना देते हुए,पुलिस में प्रचलित/नव सृजित कल्याणकारी योजनाओं की दी जानकारी

Sayeed Pathan

भारत के इस राज्य में मिला सैकड़ो टन लिथियम का भण्डार, जानिए भारत के लिए क्यों है यह अहम खोज

Sayeed Pathan

एक टिप्पणी छोड़ दो

error: Content is protected !!